सर्वाधिक पढ़ी गईं

41 हजार महीना हो सकती है आपकी भी इनकम, 3.58 लाख निवेश में शुरू करें ये काम

Mudra Loan: सरकारी स्कीम की मदद से शुरू कर सकते हैं बिजनेस

April 12, 2019 2:35 PM
Start Business, Business, Mudra Scheme, Tissue Paper, Paper Napkin, टिश्यू पेपर, नैपकीन पेपर, Mudra, Mudra LoanMudra Loan: सरकारी स्कीम की मदद से शुरू कर सकते हैं बिजनेस

Start Business: कम निवेश में ज्यादा मुनाफे का जरिया मिल जाए तो यह सभी के लिए बेहतर होता है. बहुत से लोग मानते हैं कि अच्छा मुनाफा उसी बिजनेस में आता है, जिसके लिए ज्यादा निवेश हो. लेकिन ऐसा नहीं है. सरकार की कुछ खास स्कीम हें, जिसके जरिए बेहद कम निवेश से भी बेहतर कमाई की राह खुल सकती है. हम यहां एक ऐसे ही बिजनेस के बारे में बता रहे हैं. यह बिजनेस है टिश्यू पेपर या पेपर नैपकीन बनाने का प्लांट, जिसे सरकार की मुद्रा स्कीम (Mudra Scheme) की हेल्प से शुरू कर सकते हैं. स्कीम के तहत इस बिजनेस की पूरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट भी बनाई गई है, जिसकी जानकारी हम यहां दे रहे हैं. जानते हैं कैसे 3.58 लाख निवेश में 41 हजार मंथली हो सकती है इनकम…..

क्यों है अच्छा विकल्प

टिश्यू पेपर की डिमांड हर समय और हर जगह रहती है. चाहे वह घर हो रेस्टोरेंट, दफ्तर हो या कार इसकी ज्यरत हर जगह है. इसी वजह से बाजार में आए दिन नए नए ब्रांड या नाम से ये प्रोडक्ट आते रहते हैं. खास बात ये है कि टिश्यू पेपर की डिमांड न सिर्फ शहरों में बल्कि गांवों में भी तेजी से बढ़ रही है. ऐसे में अगर सही मार्केटिंग कर ली जाए तो यह बिजनेस बेहतर विकल्प हो सकता है.

प्रोडक्शन टारगेट

अगर साल के 365 दिनों में 300 दिन और हर दिन 8 घंटे के काम के हिसाब से देखें तो कुल 1.50 लाख टन प्रोडक्ट की मैन्युुफैक्चरिंग की जा सकती है. जिसका बाजार रेट के लिहाज से वैल्यू 97.50 लाख रुपये होगी.

लैड: प्लांट लगाने के लिए आपके पास लैंड या बिल्डिंग होना जरूरी है, अगर नहीं है तो इसे आप रेंट या लीज पर भी ले सकते हें.

मशीनरी पर खर्च : 4.40 लाख रुपये

मशीनरी : 4 लाख रुपये
सेल्स टैक्स, छुलाई और इंश्योरेंस: 40 हजार

रॉ मटीरियल (प्रति माह) : 7.13 लाख रुपये

टिश्यू पेपर 21 GSM : 7 लाख रुपये (12.5 टन)
स्याही व कंज्यूमेबल: 10 हजार रुपये
पैकिंग मटीरियल: 3000 रुपये

स्टॉफ पर खर्च (प्रति माह): 27600 रुपये

अन्य खर्च : 13500 रुपये

बिजली: 2500 रुपये
ट्रांसपोर्ट: 3000 रुपये
कंज्यूमूबल: 1000 रुपये
टेलिफोन: 1000 रुपये
स्टेशनरी: 1000 रुपये
मेंटिनेंस: 1000 रुपये

वर्किंग कैपिटल: 7.54 लाख

(रॉ मटीरियल, स्टॉफ व अन्य खर्च)

कुल निवेश: 11.94 लाख रुपये

(वर्किंग कैपिटल, मशीनरी)

Mudra Loan: फंडिंग

खुद के पास से खर्च: 3,58,230 रुपये
टर्म लोन: 3,08,000
वर्किंग कैपिटल लोन: 5,27,870

कास्ट आफ प्रोडक्शन: 92,54,222 रुपये सालाना
सेल्स: 97,50,000 रुपये सालाना

ग्रॉस प्रॉफिट: 4.96 लाख रुपये सालाना
प्रॉफिट आॅन सेल: 5.08 फीसदी
यानी हर महीने इनकम: 41 हजार रुपये

नोट: ग्रॉस प्रॉफिट में से लोन के लिए मंथली ईएमआई और इनकम अैक्स आदि भी देना होगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. 41 हजार महीना हो सकती है आपकी भी इनकम, 3.58 लाख निवेश में शुरू करें ये काम

Go to Top