scorecardresearch

Home Loan: EMI घटाने के लिए ना बढ़वाएं मंथली किस्त की संख्या, लाखों का बढ़ जाएगा दबाव, चेक कर लें कैलकुलेशन

RBI द्वारा रेपोर रेट बढ़ाने के बाद अलग अलग बैंकों में होमलोन की ब्याज दरों में इजाफा शुरू हो गया है. इससे आने वाले दिनों में आपके होम लोन के लिए मंथली EMI बढ़ जाएगी.

कुछ प्रमुख बैंकों ने होम लोन पर ब्याज दरों में इजाफा करना शुरू कर दिया है.

Home Loan EMI: पिछले हफ्ते रिजर्व बैंक (RBI) इमरजेंसी मीटिंग के बाद से रेपो रेट में 40 बेसिस प्वॉइंट यानी 0.40 फीसदी का इजाफा कर दिया है. जिसके बाद से अब कुछ बैंकों ने होम लोन पर ब्याज दरों में इजाफा शुरू कर दिया है. इनमें HDFC Bank, Canara Bank, BoI, PNB, Union Bank of India शामिल हैं. जाहिर है कि इससे आने वाले दिनों में आपके होम लोन के लिए मंथली EMI में इजाफा होगा. जैसे HDFC Bank में दरों में 30 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा हुआ है. इस लिहाज से 1 करोड़ का लोन अगर 20 साल के लिए है तो किस्त 1791 रुपये बढ़ जाएगी.

यहां पर एक गलती आमतरौर पर लोग कर सकते हैं. नए लोन लेने वाले अपनी किस्त घटवाने के लिए होमलोन का टेन्योर बढ़वा सकते हैं. मसलन वे 20 साल की जगह लोन की अवधि 25 साल कर सकते हैं, जिससे मंथली EMI कुछ कम हो सकती है. लेकिन ऐसा करना बड़ी गलती हो सकती है. EMI में मामूली कमी लाने के चक्कर में आप पर कई लाख का अतिरिक्त दबाव बन सकता है. इसलिए बेहतर है कि लोन अवधि बढ़ाने की बजाए अलग अलग बैंकों की ब्याज दर चेक करके बेस्ड डील लें. हमने यहां इसी को आधार लेकर कैलकुलेशन की है.

Case1: 50 लाख का लोन, 20 साल के लिए

कुल लोन: 50 लाख
टेन्योर: 20 साल
ब्याज: 7% (SBI एवरेज)

मंथली EMI: 38765 रुपये
लोन पर कुल ब्याज: 4,303,587 रुपये
कुल चुकाई गई रकम: 9,303,587 रुपये

Case 2: 50 लाख का लोन, 25 साल के लिए

कुल लोन: 50 लाख
टेन्योर: 25 साल
ब्याज: 7% (SBI एवरेज)

मंथली EMI: 35339 रुपये
लोन पर कुल ब्याज: 5,601,688 रुपये
कुल चुकाई गई रकम: 10,601,688 रुपये

Case 3: 50 लाख का लोन, 30 साल के लिए

कुल लोन: 50 लाख
टेन्योर: 30 साल
ब्याज: 7% (SBI एवरेज)

मंथली EMI: 33265 रुपये
लोन पर कुल ब्याज: 6,975,445 रुपये
कुल चुकाई गई रकम: 11,975,445 रुपये

लोन की अवधि बढ़ाने पर कितना नुकसान

कैलकुलेशन में हम देख सकते हैं किे 25 लाख के लोन की EMI 20 से 25 साल करने पर मंथली किस्त 38765 रुपये से घटकर 35339 रुपये हो जाती है. लेकिन आपको लोन पर कुल ब्याज 43,03,587 रुपये की जगह 56,01,688 रुपये देना होता है. वहीं अवधि 10 साल बढ़ाने पर कुल ब्याज बढ़कर 69,75,445 रुपये हो जाता है. यानी 10 साल में ब्याज 26.50 लाख रुपये बढ़ जाएगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Investment Saving News

TRENDING NOW

Business News