सर्वाधिक पढ़ी गईं

Home loan: करियर की शुरुआत में ही होम लोन लेकर घर खरीदना कितना सही है? जानिए इसमें किन बातों का ध्यान रखना है जरूरी और क्या है नफा-नुकसान

एक्सपर्ट्स का मानना है कि होम लोन के बारे में तभी सोचना चाहिए अगर आपको लगता है कि इसके साथ ही अन्य फाइनेंशियल गोल्स को आप आसानी से पूरा कर सकते हैं.

October 25, 2021 3:04 PM
Home Buying Tips: Should you buy a home early in your life?आप अपने कैरियर की शुरुआत में भी होम लोन ले सकते हैं, हालांकि इसमें कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है.

Home loan: क्या आपकी उम्र 20-30 साल है? क्या आप इस उम्र में अपने करियर की शुरुआत में ही एक नया घर खरीदने के बारे में सोच रहे हैं? यह कोई हैरान होने वाली बात नहीं है. आज के समय में कई लोग करियर के शुरुआत में ही अपने सपनों का घर खरीद रहे हैं. आपने अपने माता-पिता की पीढ़ी के लोगों को देखा होगा कि उन्हें नया घर खरीदने के लिए रिटायरमेंट तक इंतजार करना पड़ता था. लेकिन अब समय बदल गया है. अब पहले की तुलना में वेतन बढ़ा है और इसके साथ ही बड़ी आसानी से होम लोन भी उपलब्ध है. इसका मतलब है कि अब आपको अपने माता-पिता की तरह घर खरीदने के लिए 40 या 50 साल की उम्र तक इंतजार करने की जरूरत नहीं रह गई है. अगर आपकी उम्र 20 साल है, आपने अभी काम करना शुरू किया है और होम लोन पर घर खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो यह पूरी तरह से संभव है, हालांकि आपको इसमें कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा. यहां हम आपको कुछ ऐसी ही बातें बता रहे हैं.

अपनी क्षमता को पहचानें

आपको सबसे पहले यह देखना होगा कि क्या आप अपने होम लोन के मासिक किस्त का भुगतान करने में सक्षम हैं. आपको अपनी क्षमता को समझना होगा. सामान्य तौर पर बैंक आपको उतना ही लोन देते हैं कि आपकी EMI आपके वेतन के एक निश्चित प्रतिशत से ज्यादा ना हो. आप अपने नियमित खर्चों के बारे में अच्छी तरह जानते हैं. आपको यह समझना होगा कि आपके लिए प्री-ईएमआई बेहतर है या फुल ईएमआई. अगर आपने एक अंडर कंस्ट्रक्शन प्रॉपर्टी खरीदी है, तो आपको घर का किराया और लोन ईएमआई दोनों को मैनेज करना होगा. अगर आपने पढ़ाई के लिए एजुकेशन लोन लिया है, तो इसका ईएमआई भी चुकाना होगा. इन सभी को मिलाकर आपके ऊपर काफी दबाव बन सकता है. अगर आपकी आय का एक बड़ा हिस्सा आपके होम लोन ईएमआई में चला जाता है, तो हो सकता है कि आपके पास अपने अन्य गोल्स में निवेश करने के लिए ज्यादा पैसा न बचे. होम लोन लंबे समय तक यानी लगभग 15-20 सालों तक चलता है.

Term Insurance: नॉमिनी को नहीं है निवेश की समझ? तो अपने परिवार की आर्थिक सुरक्षा के लिए अपनाएं ये विकल्प

जॉब स्टेबिलिटी

अगर आपके पास एक स्टेबल जॉब है, तो आपके लिए होम लोन प्राप्त करना आसान हो सकता है. इसके साथ ही अच्छी जॉब होने पर आपको लोन चुकाने में भी किसी तरह की दिक्कत नहीं आएगी. आप यह कभी नहीं चाहेंगे कि आपकी नौकरी चली जाए और आपके सर पर एक बड़े लोन का बोझ हो. आपके पास एक स्टेबल जॉब का होना बेहद जरूरी है. इसके ज़रिए आप भविष्य में होने वाली दिक्कतों से बच सकते हैं.

बेहतर क्रेडिट स्कोर का होना जरूरी

आपका क्रेडिट स्कोर आपके लोन की स्वीकृति प्रक्रिया में एक अहम भूमिका निभाता है. खराब क्रेडिट स्कोर होने पर आपको होम लोन मिलने की संभावना कम हो जाती है. आपका क्रेडिट स्कोर जितना अच्छा होगा, आपके लिए होम लोन प्राप्त करना उतना ही आसान होगा. बैंक आपके क्रेडिक स्कोर के आधार पर ही यह डिसाइड करते हैं कि आपको होम लोन देना है या नहीं. इतना ही नहीं, अच्छा क्रेडिट स्कोर होम लोन की ब्याज दर को भी कम कर सकता है. यानी अच्छा क्रेडिट स्कोर होने पर आपकी ईएमआई कम होगी और आपके लिए होम लोन चुकाना आसान होगा. इसके लिए आपके क्रेडिट हिस्ट्री का बेहतर होना जरूरी है. इसलिए, अगर आप होम लोन लेने की योजना बना रहे हैं, और आपके पास क्रेडिट कार्ड नहीं है, तो आपको क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करना चाहिए. हालांकि क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने में आपको सावधानी बरतनी होगी और सभी बिलों का भुगतान समय पर करना होगा. इससे आपकी क्रेडिट हिस्ट्री में सुधार होगा.

Diwali 2021: त्योहारों के मौके पर गैर-ज़रूरी खर्च से कैसे बचें? जानें ओवर स्पेंडिंग से बचने के 6 आसान तरीके

गारंटर

आपकी ऋण चुकौती क्षमता को ध्यान में रखते हुए आपको अपने होम लोन के लिए किसी को गारंटर बनाने के लिए कहा जा सकता है. अगर आपका क्रेडिट स्कोर खराब है तो बैंक को ऐसा लग सकता है कि आप लोन नहीं चुका पाएंगे. ऐसे में गारंटर के तौर पर आपको अपने परिवार के किसी सदस्य या रिश्तेदार की मदद लेनी पड़ सकती है. अगर आप समय पर लोन नहीं चुकाते हैं तो इसकी सारी जिम्मेदारी गारंटर पर आ जाती है. इसके साथ ही इसका असर गारंटर के क्रेडिट स्कोर पर भी पड़ता है. यही वजह है कि कोई भी गारंटर बनने के लिए आसानी से तैयार नहीं होता.

डाउन पेमेंट

अगर आप होम लोन लेने की योजना बना रहे हैं, फिर भी आपको डाउन पेमेंट के तौर पर कुछ रकम का भुगतान बैंक को करना होगा. घर की खरीद लागत का केवल 75-80% तक ही बैंक फाइनेंस करेगा. इसलिए, अगर आप अपने करियर की शुरुआत में ही घर खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो बेहतर होगा कि आप डाउन-पेमेंट के लिए जल्दी बचत करना शुरू कर दें.

इस लेख में यह नहीं बताया गया है कि आपको अपने करियर की शुरुआत में घर खरीदना चाहिए या नहीं. होम लोन के बारे में तभी सोचना चाहिए अगर आपको लगता है कि इसके साथ अन्य फाइनेंशियल गोल्स को आप आसानी से पूरा कर सकते हैं. एक्सपर्ट्स के अनुसार, अपने करियर की शुरुआत में घर खरीदने में कुछ गलत नहीं है. इसके ज़रिए आप कम से कम आप बचत करना सीखते हैं और आपको जल्दी ही इसकी अहमियत समझ आ जाती है. अगर आपकी पत्नी या पति भी नौकरी करता या करती है तो ऐसे में आप दोनों मिलकर लोन ले सकते हैं. इसका फायदा ये होगा कि किसी एक के कैरियर में किसी तरह का उतार-चढ़ाव आने पर दूसरा स्थिति को संभाल सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Home loan: करियर की शुरुआत में ही होम लोन लेकर घर खरीदना कितना सही है? जानिए इसमें किन बातों का ध्यान रखना है जरूरी और क्या है नफा-नुकसान

Go to Top