मुख्य समाचार:

NSC, FD, RD से चाहिए डबल रिटर्न; सरकारी बांड पर रखें नजर, ये हैं बेस्ट रिटर्न वाली स्कीम

Government Bonds: निवेश के तमाम विकल्पों में सरकारी बॉन्ड भी है. डेट फंड कटेगिरी में ये निवेश के लिए बेहद सुरक्षित माने जाते हैं.

August 24, 2020 3:29 PM
Government Bond, Govt-Sec, debt mutual fund, debt instruments, govt issue govt bond, safe investment option, risk free investment, best mutual fund, Fixed Deposit, Recurring Deposit, NSC, time deposit, post office small savings scheme, Govt Bond Vs Post Office SchemeGovernment Bonds: निवेश के तमाम विकल्पों में सरकारी बॉन्ड भी है. डेट फंड कटेगिरी में ये निवेश के लिए बेहद सुरक्षित माने जाते हैं.

Invest in Government Bonds: निवेश के तमाम विकल्पों में सरकारी बॉन्ड भी एक बेहतर विकल्प है. डेट फंड कटेगिरी में ये निवेश के लिए बेहद सुरक्षित माने जाते हैं. वजह यह है कि इनमें सरकार की गारंटी होती है. इन बॉन्ड पर एक तय ब्याज मिलता है. सरकारी बॉन्ड को गवर्नमेंट सिक्युरिटीज भी कहते हैं. डेट इंस्ट्रूमेंट होने की वजह से इनका रिटर्न ब्याज दरों पर तय करता है. फिलहाल अभी ब्याज दरें निचले सतरों पर है. वहीं महंगाई को देखते हुए इसे बढ़ाए जाने की उम्मीद भी नहीं दिख रही है. इसलिए स्माल सेविंग्स की तुलना में यह ज्यादा रिटर्न देने वाला विकल्प हो सकता है.

सरकारें जारी करती हैं

गवर्नमेंट बॉन्ड को केंद्र और राज्य सराकरों द्वारा जारी किया जाता है. अमूमन अपने राजकोषीय घाटे को पूरा करने के लिए सरकार बॉन्ड जारी करती है. कई बार उन्हें फंड की भी जरूरत पड़ती है, जिसकी वजह से इन्हें जारी किया जाता है. इसके जरिए निवेशकों से धन जुटाया जाता है. अब छोटे निवेशकों के लिए भी इनमें निवेश की अनुमति है. यह छोटी और लंबी अवधि दोनों के लिए जारी किए जाते हैं.

मेच्योरिटी 1 से 30 साल

इस तरह के बॉन्ड की मेच्योरिटी अवधि 1 से 30 साल की हो सकती है. छोटी अवधि की सिक्युरिटी ट्रेजरी बिल कहलाती है. वहीं, 1 साल से ज्यादा मेच्योरिटी वाली सिक्युरिटीज गवर्नमेंट बांड होती है. सरकार की ओर से जारी होने की वजह से बॉन्ड की पेपर क्वालिटी बेहतर होती है. इनमें जोखिम बहुत कम होता है.

5 साल में कितना रिटर्न

IDFC गवर्नमेंट सिक्युरिटीज कांसटेंट मेच्योरिटी

5 साल में रिटर्न: 11.17 फीसदी
5 साल में 1 लाख की वैल्यू: 1.70 लाख
5 साल में 10 हजार मंथली SIP की वेल्यू: 8.14 लाख

ABSL गवर्नमेंट सिक्युरिटीज

5 साल में रिटर्न: 10.49 फीसदी
5 साल में 1 लाख की वैल्यू: 1.65 लाख
5 साल में 10 हजार मंथली SIP की वैल्यू: 7.78 लाख

DSP गवर्नमेंट सिक्युरिटीज

5 साल में रिटर्न: 10.16 फीसदी
5 साल में 1 लाख की वैल्यू: 1.62 लाख
5 साल में 10 हजार मंथली SIP की वैल्यू: 7.83 लाख

फिक्स्ड डिपॉजिट

कई ऐसे गवर्नमेंट बांड हैं, जिनमें पिछले 5 साल का रिटर्न 7 से 12 फीसदी सालाना तक है. वहीं कुछ 10 साल के मेच्योरिटी वाले बांड भी हैं, जिनमें 10 फीसदी सालाना तक के हिसाब से रिटर्न मिला है. वहीं, ज्यादातर बड़े बैंक 5 साल की एफडी पर 6 फीसदी से कम ही ब्याज दे रहे हैं. अगर सही स्कीम का चुनाव करें तो रिटर्न के लिहाज से यह एफडी से बेहतर हो सकता है.

5 साल की FD पर रिटर्न से तुलना

SBI

ब्याज दर: 5.70 फीसदी
FD की राशि: 1 लाख
मेच्योरिटी पर राशि: 1,31,940 रुपये

PNB

ब्याज दर: 5.30 फीसदी
FD की राशि: 1 लाख
मेच्योरिटी पर राशि: 1,29,462 रुपये

HDFC बैंक

ब्याज दर: 5.35 फीसदी
FD की राशि: 1 लाख
मेच्योरिटी पर राशि: 1,29,770 रुपये

ICICI बैंक

ब्याज दर: 5.50 फीसदी
FD की राशि: 1 लाख
मेच्योरिटी पर राशि: 1,30,696 रुपये

अन्य स्माल सेविंग्स में कितना ब्याज

डाकघर आरडी: 5.8 फीसदी
5 साल टाइम डिपॉजिट: 6.7 फीसदी
एनएससी: 6.8 फीसदी
किसान विकास पत्र: 6.9 फीसदी

कैसे करें निवेश

ब्रोकरेज प्लेटफॉर्म की मदद से इसमें निवेश किया जा सकता है. म्यूचुअल फंड के माध्यम से अप्रत्यक्ष तरीके से भी गवर्नमेंट बांड में निवेश कर सकते हैं. क्योंकि डेट फंड अपना पैसा इसमें लगाते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. NSC, FD, RD से चाहिए डबल रिटर्न; सरकारी बांड पर रखें नजर, ये हैं बेस्ट रिटर्न वाली स्कीम

Go to Top