मुख्य समाचार:

सरकार हर साल देगी 36000 रुपये; इन 3 कटेगिरी में पूरी करते हैं शर्त, तो मिलेगा फायदा

सरकार की 3 खास स्कीम चल रही हैं, जिनमें अलग अलग कटेगिरी में शर्त पूरी करने के बाद 36 हजार रुपये सालाना का लाभ मिल सकता है.

Published: June 11, 2020 11:04 AM
PMSYM, PM Kisan Mandhan, NPS for traders and self employed, government will give you 36000 Rs per year, 3000 Rs per month pension scheme, how to registered in Govt pension scheme, lower income group, small farmers, small tradersसरकार की 3 खास स्कीम चल रही हैं, जिनमें अलग अलग कटेगिरी में शर्त पूरी करने के बाद 36 हजार रुपये सालाना का लाभ मिल सकता है.

सरकार छोटे कारोबारियों, छोटे किसानों और असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कम आय वर्ग के लिए 3 खास स्कीम चला रही है. इस स्कीम के तहत इस कटेगिरी में आने वाले लोग 60 की उम्र के बाद हर महीने 3 हजार रुपये या सालाना 36 हजार रुपये पेंशन के हकदार हो सकते हैं. छोटे किसानों के लिए पीएम किसान मानधन, छोटे कारोबारियों के लिए प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन और असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों के लिए पीएम श्रम योगी मानधन योजना शामिल है. इन सभी योजनाओं में 18 से 40 साल की उम्र को कोई भी भारतीय नागरिक जो स्कीम की शर्तें पूरी करता हो, आंशिक योगदान के जरिए पेंशन का हकदार हो सकता है. जानते हैं इन तीनों स्कीम और उनकी शर्तों को.

पीएम श्रमयोगी मानधन

असंगठित क्षेत्र के कम आयवर्ग वालों को बुढ़ापे में वित्तीय सुरक्षा के लिए मोदी सरकार की एक खास स्कीम पीएम श्रम योगी मानधन है. इसमें दिहाड़ी मजदूर से लेकर मेड, ड्राइवर, इलेक्ट्रिशियन और स्वीपर या इस तरह के सभी वर्कर्स को फायदा मिलेगा. श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अनुसार इस स्कीम के जरिए अबतक करीब 44.04 लाख लोग जुड़ चुके हैं.

मंथली आय 15 हजार से कम: इस योजना में वहीं जुड़ सकता है, जिसकी मंथली आय 15 हजार रुपये से ज्यादा न हो.

डॉक्युमेंट: आधार कार्ड, बचत खाता/जनधन खाता (IFSC कोड के साथ), 2 फोटो

अंशदान: 18 साल से 40 साल की उम्र के लोगों के लिए 55 रुपये से मंथली से 200 रुपये मंथली. जितना योगदान खाताधारक को होगा, सरकार भी अपनी ओर से उतना ही योगदान करेगी.

PM किसान मानधन

पीएम नरेंद्र मोदी ने पिछले साल प्रधान मंत्री किसान मानधन योजना लॉन्च किया था. इसमें किसानों को पेंशन देन का इंतजाम किया है. पीएम किसान मानधन योजना के तहत 18 से 40 की उम्र के बीच का कोई भी किसान भाग ले सकता है. अबतक इस स्कीम से करीब 20.33 लाख किसान जुड़ चुके हैं. इस पेंशन कोष का प्रबंधन भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) कर रहा है.

कौन ले सकता है लाभ: किसान पेंशन योजना में 18 से 40 वर्ष तक की आयु वाला कोई भी छोटी जोत वाला और सीमांत किसानों के लिए हैं, जिनके पास 2 हेक्टेयर तक ही खेती की जमीन है.

अंशदान: 18 साल से 40 साल की उम्र के लोगों के लिए 55 रुपये से मंथली से 200 रुपये मंथली. जितना योगदान खाताधारक को होगा, सरकार भी अपनी ओर से उतना ही योगदान करेगी.

डॉक्युमेंट: रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड, खसरा-खतौनी की नकल, 2 फोटो, बैंक पासबुक (IFSC कोड के साथ)

पीएम लघु व्यापारी मानधन

मोदी सरकार ने पिछले साल देश के छोटे कारोबारियों को बुढ़ापे में मंथली पेंशन देने की योजना का एलान किया था. इस योजना का नाम पहले प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना रखा गया है. जिसे अब एनपीएस फॉर ट्रेडर्स एंड सेल्फ एम्प्लॉएड परसंस कर दिया गया है. अबतक इस योजना से 39721 लोग जुड़ चुके हैं. यह छोटे कारोबारियों को सामाजिक सुरक्षा देने की पहल है, जिसके तहत उन्हें 60 साल की उम्र के बाद 3000 रुपये मंथली पेंशन मिलेगी.

योग्यता: स्कीम से जुड़ने वाला रिटेल कारोबारी या दुकान का मालिक या सेल्फ एम्प्लॉएड होना चाहिए. सब्सक्राइबर की उम्र 18 साल से 40 साल के बीच होनी चाहिए. सब्सक्राइबर्स की एनुअल इनकम 1.5 करोड़ सालाना से कम होनी चाहिए. EPF/NPS/ESIC सब्सक्राइबर्स हैं तो योजना का लाभ नहीं मिलेगा. PM-SYM के बेनेफिशियरी को भी यह लाभ नहीं मिलेगा. अगर इनकम टैक्स जमा करते हैं तो स्कीम से नहीं जुड़ सकते हैं.

अंशदान: 18 साल से 40 साल की उम्र के लोगों के लिए 55 रुपये से मंथली से 200 रुपये मंथली. जितना योगदान खाताधारक को होगा, सरकार भी अपनी ओर से उतना ही योगदान करेगी.

डॉक्युमेंट: आधार कार्ड, IFSC कोड के साथ सेविंग्स बैंक अकाउंट या जनधन खाता, 2 फोटो

रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

इन तीनों योजनाओं में रजिस्ट्रेशन के लिए पास के CSC सेंटर पर जाना होगा.
इसके बाद वहां आधार कार्ड और बचत खाता या जनधन खाता जो भी उसकी जानकारी IFSC कोड के साथ देनी होगी. प्रूफ के तौर पर पासबुक, चेकबुक या बैंक स्टेटमेंटट दिखा सकते हैं.
खाता खोलते समय ही नॉमिनी भी दर्ज करा सकते हैं.
एक बार आपकी डिटेल कंप्यूटर में दर्ज होने के बाद मंथली कांट्रीब्यूशन की जानकारी खुद मिल जाएगी.
इसके बाद आपको अपना शुरूआती योगदान कैश के रूप में देना होगा.
इसके बाद आपका खाता खुल जाएगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. सरकार हर साल देगी 36000 रुपये; इन 3 कटेगिरी में पूरी करते हैं शर्त, तो मिलेगा फायदा

Go to Top