मुख्य समाचार:

1 जुलाई से इस सरकारी स्कीम में लगाइए पैसा, हर 6 माह पर तगड़ी कमाई; FD से ज्यादा फायदा

सरकार एक जुलाई से टैक्सेबल फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड स्कीम पेश करने जा रही है.

Updated: Jun 28, 2020 5:48 PM

government to launch Floating Rate Savings Bonds 2020 from July 1, know interest rate, eligibility, tenor and other features

सरकार एक जुलाई से टैक्सेबल फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड (Floating Rate Savings Bonds, 2020 (Taxable)) स्कीम पेश करने जा रही है. इस नई स्कीम को 7.75 फीसदी वाले सेविंग्स (टैक्सेबल) बॉन्ड्स 2018 के स्थान पर लाया जा रहा है, जिन्हें 28 मई 2020 के बाद से बंद कर दिया गया है. फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड (FRSB बॉन्ड्स) से लोगों को सुरक्षित सरकारी साधनों में निवेश करने का अवसर मिलेगा. वित्त मंत्रालय ने फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड (FRSB बॉन्ड्स) के बारे डिपॉ​जिट, अवधि, शुरुआत में ब्याज आदि डिटेल का खुलासा कर दिया है. आइए जानते हैं 1 जुलाई से आ रहे FRSB बॉन्ड्स के फीचर्स के बारे में…

अवधि व ब्याज

वित्त मंत्रालय के बयान के अनुसार, ये बॉन्ड 7 साल के होंगे और इनके ऊपर साल में दो बार 1 जनवरी और 1 जुलाई को ब्याज दिया जाएगा. एक जनवरी 2021 को दिया जाने वाला ब्याज 7.15 फीसदी की दर से होगा. हर अगली छमाही के लिए छह-छह महीने के बाद ब्याज को नए सिरे से तय किया जाएगा.

Good News! नए इनकम टैक्स स्लैब्स में भी इन खर्चों पर कर छूट ले सकेंगे टैक्सपेयर

कितना कर सकते हैं निवेश

बॉन्ड में मिनिमम इन्वेस्टमेंट अमाउंट 1000 रुपये है. इन्वेस्टमेंट की कोई मैक्सिमम ​लिमिट नहीं है. हालांकि इन्वेस्टमेंट 1000 रुपये के मल्टीप्लाई में होगा. कैश में अधिकतम 20 हजार रुपये का बॉन्ड खरीदा जा सकता है. इसके अलावा ड्राफ्ट, चेक और इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट मोड से भी बॉन्ड खरीदा जा सकता है. बॉन्ड को किसी भी सरकारी बैंक, IDBI बैंक, एक्सिस बैंक, HDFC बैंक और ICICI बैंक से खरीदा जा सकता है. बॉन्ड को केवल इलेक्ट्रॉनिक रूप में खरीदा जा सकेगा.

चुनिंदा लोगों के लिए ही प्रीमैच्योर रिडंप्शन का विकल्प

बयान में कहा गया कि FRSB बॉन्ड्स पर क्युमुलेटिव बेसिस पर ब्याज भुगतान का विकल्प नहीं होगा. यानी छह महीने पूरे होते ही ब्याज का पैसा इन्वेस्टर के अकाउंट में जमा हो जाएगा. बॉन्ड्स 7 साल का मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने के बाद ही रिपे किए जाएंगे. मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने से पहले बॉन्ड भुनाने का विकल्प वरिष्ठ नागरिकों की विशिष्ट श्रेणी को दिया जाएगा.

बड़े बैंकों की FD से अधिक फायदा

ये बॉन्ड FD से अधिक फायदेमंद साबित हो सकते हैं. बड़े बैंकों में FD पर फायदा काफी कम हो चुका है. देश के सबसे बड़े बैंक SBI में इस वक्त 2 करोड़ रुपये से कम की 1 व 2 साल की FD पर ब्याज दर 5.10 फीसदी, 3 साल की FD पर 5.30 फीसदी और 5 से लेकर 10 साल तक की FD पर ब्याज दर 5.40 फीसदी सालाना है. सीनियर सिटीजन के लिए ये दरें 5.60 से लेकर 6.20 फीसदी सालाना तक हैं. वहीं 2 करोड़ रुपये से अधिक की 1 से लेकर 10 साल तक की अवधि वाली FD पर SBI में दरें आम लोगों के लिए 2.90 से लेकर 3 फीसदी सालाना तक और सीनियर सिटीजन के लिए 3.40 से लेकर 3.50 फीसदी सालाना तक हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. 1 जुलाई से इस सरकारी स्कीम में लगाइए पैसा, हर 6 माह पर तगड़ी कमाई; FD से ज्यादा फायदा

Go to Top