मुख्य समाचार:

डिजिटल बैंकिंग: SBI खोलेगा 10 लाख YONO कैश प्वांइट, बिना ATM निकालें कैश, चुकाएं बिल

YONO एक डिजिटल बैंकिंग प्लेटफॉर्म है और ग्राहक कैश निकालने के लिये अपने स्मार्टफोन का प्रयोग कर सकते हैं.

August 21, 2019 5:27 PM
good news for SBI customers, YONO Cash Points, cash withdrawal without ATM , SBI new service, State Bank of India, SBI Chairman Rajnish KumarYONO एक डिजिटल बैंकिंग प्लेटफॉर्म है और ग्राहक कैश निकालने के लिये अपने स्मार्टफोन का प्रयोग कर सकते हैं. (Reuters)

डिजिटल बैंकिंग को अधिक से अधिक बढ़ावा देने के मकसद से भारतीय स्टेट बैंक (SBI) अगले 18 महीनों में देशभर में 10 लाख YONO कैश प्वाइंट लागाएगा. योनो कैश प्वाइंट के जरिए एसबीआई ग्राहक बिना डेबिट कार्ड के ही एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं और अन्य भुगतान कर सकते हैं. एसबीआई करीब 70 हजार कैश प्वाइंट पहले से ही स्थापित कर चुका है.

एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार ने बुधवार को यहां संवाददाताओं को बताया कि यह प्लेटफार्म सुरक्षित है और इसके प्रयोग में डेबिट कार्ड के इस्तेमाल की जरूरत नहीं होगी. उन्होंने बताया कि योनो कैश के जरिये भविष्य में ग्राहक बिलों का भुगतान और डिजिटल लेन देन कर सकते हैं. आगामी 18 महीनों में हम देश में 10 लाख योनो कैश प्वाइंट स्थापित करेंगे.

फिलहाल बंद नहीं होंगे डेबिट कार्ड

रजनीश कुमार ने कहा कि बैंक की डेबिट कार्ड बंद करने की कोई योजना नहीं है, लेकिन डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल बढ़ने से ग्राहक के लिए डेबिट कार्ड की आवश्यकता कम हो जाएगी. उन्होंने कहा कि ‘हम डिजिटल बैंकिंग प्लेटफॉर्म को लोकप्रिय बना रहे हैं. यह अधिक सुरक्षित है और ग्राहक को इस प्लेटफॉर्म का उपयोग करने पर डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी.’

बता दें, योनो एक डिजिटल बैंकिंग प्लेटफॉर्म है और ग्राहक कैश निकासी के लिये अपने स्मार्टफोन का प्रयोग कर सकते हैं. इसके जरिये लेनदेन और बिलों का भुगतान भी किया जा सकता है.

RLLR को मिल रहा अच्छा रिस्पांस

रजनीश कुमार ने बताया कि बैंक की ओर से होम लोन को रेपो रेट से जोड़े जाने (RLLR) की नई पेशकश पर ग्राहकों की अच्छा रिस्पांस मिल रहा है. उन्होंने कहा कि यह ग्राहकों की इच्छा पर है कि वे नए प्रोडक्ट के साथ जाएं या अपने होम लोन को एमसीएलआर के साथ जोड़ कर रखें.

ऑटो सेक्टर में मंदी के बारे में उन्होंने कहा कि इसके बड़े स्तर पर विश्लेषण की जरूरत है. इसके साथ ही उन्होंने एग्री सेक्टर को कॉमर्शियल रूप से व्यावहारिक बनाने की जरूरत बताई. उन्होंने कहा कि कर्ज माफी के बावजूद किसानों की स्थिति नहीं सुधरती है इसलिये इस पर विचार किया जाना चाहिए.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. डिजिटल बैंकिंग: SBI खोलेगा 10 लाख YONO कैश प्वांइट, बिना ATM निकालें कैश, चुकाएं बिल

Go to Top