सर्वाधिक पढ़ी गईं

EPFO: पीएफ का पैसा निकालना और ट्रांसफर करना हुआ आसान, आ गया नया फीचर

EPFO: अधिकांश ऐसे मामले हैं जिनमें ईपीएफओ सिस्टम में कंपनी छोड़ने की तारीख नहीं होने से ​फंड निकालने या ट्रांसफर करना अटका रहता था.

Updated: Jan 23, 2020 11:18 AM
good news! EPFO introduces this feature for easy provident fund withdrawal and transferEPFO: अधिकांश ऐसे मामले हैं जिनमें ईपीएफओ सिस्टम में कंपनी छोड़ने की तारीख नहीं होने से ​फंड निकालने या ट्रांसफर करना अटका रहता था.

Good news for salaried! वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने फंड से पैसा निकालने या ट्रांसफर करना और आसान बना दिया है. इसके लिए ईपीएफओ ने नया फीचर लेकर आया है. दरअसल, अधिकांश ऐसे मामले हैं जिनमें ईपीएफओ सिस्टम में कंपनी छोड़ने की तारीख नहीं होने से ​फंड निकालना या ट्रांसफर करना अटका रहता था. अब भविष्य निधि संगठन ने इस समस्या का समाधान यूनिफाइड पोर्टल (UAN Portal) पर एक नई सुविधा शुरू कर निकाला है. इस सुविधा के तहत कर्मचारी पिछली कंपनी छोड़ने की तारीख खुद अपडेट कर सकता है. अभी तक नियोक्ता के पास कर्मचारी के कंपनी ज्वाइन करने और छोड़ने की तारीख डालने या अपडेट करने का अधिकार था.

कई बार कर्मचारी अपने रिकॉर्ड में कर्मचारी की कंपनी छोड़ने की तारीख अपडेट नहीं करते थे या कर्मचारी पहले जहां काम करते थे वह कंपनी बंद हो गई. यदि एग्जिट डेट यानी कंपनी छोड़ने की तारीख नहीं दर्ज है तो पीएफ पैसा निकालने और ट्रांसफर करने समेत अन्य क्लेम में देरी होगी.

खेत में हुआ हादसा; तो किसान, उसके परिजनों और बटाइदारों को 5 लाख तक मुआवजा; इस राज्य का बड़ा फैसला

EPFO के UAN पोर्टल पर करना होगा लॉग-इन

कंपनी की छोड़ने की तारीख दर्ज कराने के लिए UAN पोर्टल पर कर्मचारी को अपने यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) और पासवर्ड डॉलकर लॉग-इन करना होगा. लेकिन एग्जिट डेट डालने से पहले यह जरूर चेक कर लें कि सिस्टम में पहले से यह दर्ज है या नहीं, एग्जिट डेट जानने के लिए टॉप पैनल पर ‘View’ में जाकर ‘Service History’ पर क्लिक करना होगा. इस तरह, यदि पहले से कंपनी छोड़ने की तारीख दर्ज होगी तो आपको मालूम हो जाएगी.

UAN पोर्टल पर कैसे दर्ज करें Exit Date

सबसे पहले टॉप पैनल पर ‘My Account’ पर क्लिक करें और इसमें ‘Mark Exit’ पर क्लिक करें.
इससे नीचे अगले पेज पर कंपनी का चयन करें. इसके अगले पेज पर आपको जन्म की तारीख, कंपनी ज्वाइन करने की तारीख और कंपनी छोड़ने की तारीख दर्ज करनी होगी. इसके बाद एंटर करें.

यहां कर्मचारी कंट्रीब्यूशन के आखिरी महीने की किसी तारीख का चयन कर सकते हैं. पीएफ कंट्रीब्यूशन का आखिरी महीना जानने के लिए ईपीएफओ के टॉप पैनल पर जा सकते हैं. यहां मेम्बर आईडी, कंपनी का नाम, कंपनी की ओर से कंट्रीब्यूशन के आखिरी महीने की जानकारी मिल जाएगी.

मोबाइल नंबर पर OTP से होगा वेरिफाई

अमूमन, यदि आपने महीने में 15 तारीख से पहले कंपनी छोड़ी है तो आपके लेटर पर दर्ज तारीख को ही एग्जिट डेट ​लिखनी चाहिए. यह भी जान लें कि OTP आपके आधार के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजी जाएगी. ईपीएफओ रिकॉर्ड में यदि अलग मोबाइल नंबर है तो उस पर ओटीपी नहीं आएगी.

यहां यह भी ध्यान रखें कि यदि आपने हाल ही में नौकरी छोड़ी हो तो एग्जिट डेट यानी कंपनी छोड़ने की तारीख दर्ज करने के लिए आपको 2 महीने का इंतजार करना होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि एग्जिट डेट कंपनी की ओर से आखिरी कंट्रीब्यूशन के बाद महीने बाद ही अपडेट किया जा सकता है.

EPFO

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. EPFO: पीएफ का पैसा निकालना और ट्रांसफर करना हुआ आसान, आ गया नया फीचर
Tags:EPFO

Go to Top