मुख्य समाचार:

गणेशोत्सव 2020: भगवान विनायक से सीखें मनी मैनेजमेंट, निवेश के हर फैसले में मुनाफे की गारंटी

गणेशोत्सव 2020: गणेश चतुर्थी पर गणपति बप्पा घर-घर में पधार रहे हैं. हालांकि इस बार कोरोना के चलते गणेश उत्सव की रौनक कुछ फीकी है.

Updated: Aug 22, 2020 7:53 AM
Ganesh Chaturthi 2020: money lessons you can learn from lord ganesha, investment lessons one can learn from lord ganeshaइस साल बड़े-बड़े पंडालों में बप्पा को सार्वजनिक दर्शन के लिए नहीं रखा जा सकेगा.

Ganesh Chaturthi 2020: गणेश चतुर्थी पर गणपति बप्पा घर-घर में पधार रहे हैं. हालांकि इस बार कोरोना के चलते गणेश उत्सव की रौनक कुछ फीकी है. इस साल बड़े-बड़े पंडालों में बप्पा को सार्वजनिक दर्शन के लिए नहीं रखा जा सकेगा, बल्कि लोग अपने घरों पर ही भगवान विनायक को लाकर उनकी पूजा करेंगे. बुद्धि और ज्ञान के देवता भगवान गणेश से कई सीख ली जा सकती हैं. यहां तक कि निवेश, बिजनेस और आर्थिक लक्ष्यों को लेकर भी भगवान गणेश से सीख ले सकते हैं.

सोचें बड़ा

भगवान गणेश का विशालकाय सिर हमें सिखाता है कि जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए बड़ा सोचें. निवेश हो या बिजनेस धैर्य के साथ ऐसी प्लानिंग करें जिसमें अल्पकालिक, मध्यकालिक, और दीर्घकालिक लक्ष्य शामिल हों. आर्थिक लक्ष्यों को पूरा करने के लिए प्लानिंग में वर्तमान जरूरतों/खर्चों को पूरा करते हुए भविष्य के लिए फंड सुनिश्चित करने वाले इन्वेस्टमेंट व सेविंग्स प्लान्स को जगह देना जरूरी है. साथ ही सोच-समझकर सही माध्यम या विकल्प का चुनाव करें. प्लानिंग करते वक्त अपनी जोखिम उठाने की क्षमता आकलन भी जरूर करें.

गणेश चतुर्थी पर दोस्तों-रिश्तेदारों को भेजें WhatsApp स्टीकर्स, ऐसे करें डाउनलोड

अपने लक्ष्य के लिए फोकस्ड व अडिग

माता पार्वती को दिए वचन को पूरा करने के लिए भगवान गणेश ने अपने प्राणों की भी परवाह नहीं की. वह अपने लक्ष्य और प्लानिंग को लेकर अडिग रहे. आपको भी अपने आर्थिक लक्ष्यों के लिए योजना बनाने के बाद उस पर अडिग रहते हुए पूरा करने का प्रयास करते रहना चाहिए. ध्यान भटकने या निराश होने से बचने के लिए खर्च और बचत पर अनुशासन बनाए रखने की जरूरत पड़ती है. यह भी ध्यान दें कि आपने जो प्लानिंग की है, वह सही दिशा में आगे बढ़ रही है या नहीं. यदि नहीं तो उसमें जरूरत के अनुसार बदलाव करने के लिए भी तैयार रहें.

रहें चौकन्ना

भगवान गणेश के लम्बे और बड़े कानों से चौकन्ना रहने की शिक्षा मिलती है. यानी बाजार में क्या हो रहा है, इस बारे में हमेशा अपडेट रहें. साथ ही किसी भी निवेश या बचत विकल्प के बारे में अधिक से अधिक जानकारी हासिल करने के बाद ही उसमें पैसा लगाएं.

मुनाफे पर रखें नजर

अपनी जोखिम क्षमता के आधार पर ऐसा डायवर्सिफाई पोर्टफोलियो विकसित करें, जिससे कि अधिक से अधिक अच्छा रिटर्न मिले. मुनाफा भगवान गणेश के अतिप्रिय मोदक की तरह है, जिसे तभी पाया जा सकता है जब विकल्प उचित हो और प्लानिंग सही.

छोटी सवारी यानी लिमिट में रखें इच्छाएं

गणेश भगवान की सवारी मूषक से अपनी इच्छाओं और खर्चों को लिमिट में रखने की सीख ली जा सकती है. फिजूलखर्ची आपके बजट और फ्यूचर प्लानिंग को बिगाड़ सकती है. इसलिए अपनी सीमाएं जानते हुए खर्च करना बेहद जरूरी हे.

सोचें सबसे हटके

जब भगवान गणेश और कार्तिकेय में प्रतियोगिता हुई कि कौन संसार के तीन चक्कर पहले पूरे करेगा, तो गणेश ने बुद्धि और तर्क से काम लेते हुए अपने माता-पिता यानी भगवान शिव और माता पार्वती की प्रदक्षिणा कर प्रतियोगिता पूरी की. उन्होंने सबकी सोच से अलग मार्ग निकालकर अपने लक्ष्य की प्राप्ति की. आप भी इससे सीख लेकर जो सभी कर रहे हैं, उसका अनुसरण न कर आउट ऑफ द बॉक्स सोच के साथ उचित तरीका अपनाकर अपने लक्ष्यों की पूर्ति कर सकते हैं. लेकिन इसके लिए आपको अपनी कमजोरी और स्ट्रेंथ का ज्ञान होना जरूरी है.

उतार-चढ़ाव के लिए रहें तैयार

निवेश में, खासकर अगर शेयर बाजार में निवेश के दौरान उतार-चढ़ाव आना स्वाभाविक है. इसके लिए तैयार रहें. भगवान गणेश के बड़े पेट से सीख लेते हुए हर उतार-चढ़ाव को डाइजेस्ट करने की क्षमता खुद में विकसित करें और गिरावट से पैनिक हुए बिना धैर्य के साथ लॉन्ग टर्म पर नजर रखें.

(BPN फिनकैप कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्‍टर एके निगम से बातचीत पर आधारित)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. गणेशोत्सव 2020: भगवान विनायक से सीखें मनी मैनेजमेंट, निवेश के हर फैसले में मुनाफे की गारंटी

Go to Top