मुख्य समाचार:
  1. क्रेडिट स्कोर रखना है अच्छा, 30/25/20 का फॉर्मूला आएगा काम

क्रेडिट स्कोर रखना है अच्छा, 30/25/20 का फॉर्मूला आएगा काम

लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए अप्‍लाई करने पर बैंक आपका क्रेडिट या सिबिल स्‍कोर चेक करते हैं.

October 27, 2018 12:00 PM
factors that impact credit scoreअगर क्रेडिट स्‍कोर अच्‍छा हुआ तो लोन या क्रेडिट कार्ड मिलने में कोई परेशानी नहीं होती लेकिन अगर स्‍कोर खराब है तो फिर आपकी एप्‍लीकेशन रिजेक्‍ट भी हो सकती है.

लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए अप्‍लाई करने पर बैंक आपका क्रेडिट या सिबिल स्‍कोर चेक करते हैं. अगर क्रेडिट स्‍कोर अच्‍छा हुआ तो लोन या क्रेडिट कार्ड मिलने में कोई परेशानी नहीं होती लेकिन अगर स्‍कोर खराब है तो फिर आपकी एप्‍लीकेशन रिजेक्‍ट भी हो सकती है. इसलिए अच्‍छा रहेगा कि आप इन चीजों के लिए अप्‍लाई करने से पहले क्रेडिट या सिबिल स्‍कोर चेक करें.

क्रेडिट स्‍कोर अच्‍छा बनाने में 30/25/20 का फॉर्मूला काम आ सकता है. यह फॉर्मूला इस बारे में हैं कि कर्ज या बिल का लेट पेमेंट, बहुत ज्‍यादा क्रेडिट कार्ड एप्‍लीकेशन जैसे फैक्‍टर क्रेडिट स्‍कोर को तय करने में कितनी भूमिका निभाते हैं. आइए आपको बताते हैं इस फॉर्मूले के बारे में और यह भी कि अच्‍छा क्रेडिट स्‍कोर कैसे मेंटेन किया जा सकता है-

लेट बिल पेमेंट- 30%

क्रेडिट स्‍कोर तय होने में मौजूदा क्रेडिट कार्ड बिल या कर्ज का समय से भुगतान नहीं करने का योगदान 30 फीसदी होता है. यह बाकी फैक्‍टर्स के परसेंटेज से सबसे ज्‍यादा है. इसलिए अपने क्रेडिट कार्ड बिल और लोन की किश्‍त का समय से भुगतान करें.

कई लोन और क्रेडिट कार्ड एप्‍लीकेशन- 25%

जब भी आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्‍लाई करते हैं तो यह आपकी क्रेडिट रिपोर्ट के इन्‍क्‍वायरी सेक्‍शन में शो होता है. ज्‍यादा तादाद में क्रेडिट कार्ड एप्‍लीकेशन आपकी रिपोर्ट पर नकारात्‍मक प्रभाव डाल सकती हैं. ऐसा ही लोन के साथ भी है. कई लोन लिया जाना भी क्रेडिट रिपोर्ट तय होने में मायने रखता है. इन दोनों की क्रेडिट स्‍कोर तय करने में भागीदारी 25 फीसदी होती है. इसलिए कई एप्‍लीकेशन करने से बचें.

क्रेडिट लिमिट बढ़ाना- 25%

अगर आप अपने क्रेडिट कार्ड के लिए लिमिट बढ़वाते हैं तो इसका क्रेडिट स्‍कोर तय होने में योगदान 25 फीसदी रहता है. शुरुआती क्रेडिट कार्ड धारकों को आम तौर पर कम लिमिट वाला क्रेडिट कार्ड उपलब्‍ध कराया जाता है. उसके बाद वह क्रेडिट स्‍कोर बनने के साथ आगे चलकर लिमिट बढ़वा सकते हैं या ज्‍यादा लिमिट वाला कार्ड आसानी से ले सकते हैं.

ऐसे मेंटेन करें अच्‍छा क्रेडिट स्‍कोर

– वक्‍त पर करें क्रेडिट कार्ड बिल और लोन की किश्‍तों का भुगतान
– अपने क्रेडिट कार्ड खर्च पर रखें नजर, क्रेडिट कार्ड की पूरी लिमिट तक खर्च करने की कोशिश न करें.
– लोन और क्रेडिट कार्ड के लिए बहुत ज्‍यादा पूछताछ या एप्‍लीकेशन न डालें.
– सिबिल स्‍कोर रिपोर्ट को रेगुलरली चेक करें। इससे आपको फाइनेंस को बेहतर तरीके से मैनेज करने में मदद मिलेगी. इसके अलावा रिपोर्ट में जा रही गलत इनफॉरमेशन की भी जानकारी रहेगी.

(सोर्स- HDFC बैंक)

Go to Top