सर्वाधिक पढ़ी गईं

PF taxation: सिर्फ 1.23 लाख के PF अकाउंट में जमा हैं 62,500 करोड़ रुपये, मोटी सैलरी वालों पर खुलासा

EPFO: प्रोविडेंट फंड खाते में जमा रकम को लेकर ईपीएफओ की ओर से चौंकाने वाले आंकड़े सामने आये हैं.

February 5, 2021 8:36 AM
EPFOEPFO: प्रोविडेंट फंड खाते में जमा रकम को लेकर ईपीएफओ की ओर से चौंकाने वाले आंकड़े सामने आये हैं.

EPFO: प्रोविडेंट फंड खाते में जमा रकम को लेकर ईपीएफओ की ओर से चौंकाने वाले आंकड़े सामने आये हैं. मोटी सैलरी वाले सिर्फ 1.23 लाख लोगों के प्रोविडेंट फंड खाते में 62,500 करोड़ रुपये की राशि जमा है. सरकारी सूत्रों के अनुसार सबसे ज्यादा योगदान देने वाले एक व्यक्ति के पीएफ खाते में तो 103 करोड़ रुपये जमा है. बता दें कि वित्त वर्ष 2021-22 के बजट प्रस्ताव के अनुसार कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) खाते में किसी व्यक्ति का सालाना योगदान अगर 2.50 लाख रुपये से अधिक रहता है तो उसे अधिक राशि पर मिलने वाले ब्याज पर कर छूट नहीं मिलेगी.

ये आंकड़े देखकर साफ हो रहा है कि पीएफ को लेकर नया टैक्स क्यों लगाया गया है. राजस्व विभाग के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन खाते में योगदान करने वाले 4.5 करोड़ कंट्रीब्यूटर हैं. इनमें से 1.23 लाख खाता हाई सैलरी पाने वालों (HNI) के हैं. ये लोग टैक्स बचाने के लिए EPF खाते में हर महीने बड़ी राशि जमा करते हैं. सूत्रों के अनुसार इनमें एक शख्स के खाते में 103 करोड़ रुपये से भी अधिक जमा है. वहीं दो अन्य ऐसे लोगों के खातों में 86-86 करोड़ रुपये से अधिक जमा हैं.

अधिक ब्याज पाने वालों पर टैक्स

अधिक ब्याज पाने वालों को टैक्स के दायरे में लाने को सही फैसला बताते हुए एक सूत्र ने कहा कि उच्च श्रेणी की आय वाले इन लोगों के PF खाते में फिलहाल 62,500 करोड़ रुपये जमा हैं और सरकार उन्हें टैक्स छूट के साथ 8 फीसदी का निश्चित रिटर्न दे रही है. यह लाभ उन्हें ईमानदार लो और मिडिल इनकम, सैलरीड और अन्य करदाताओं की कीमत पर मिल रहा है.

टॉप 20 HNI के खातों में करीब 825 करोड़

टॉप 20 HNI के खातों में करीब 825 करोड़ रुपये जमा हैं, जबकि मोटी सैलरी पाने वाले टॉप 100 HNI के खातों में 2,000 करोड़ रुपये से अधिक राशि जमा हैं. सूत्र ने कहा कि बजट में किए गए प्रस्ताव का मकसद कंट्रीब्यूटर्स के बीच असामानता को दूर करना है और उन उच्च आय वर्ग के लोगों पर लगाम लगाना है जो निश्चित उच्च ब्याज दर के प्रावधान का लाभ लेने के लिए बड़ी राशि जमा कर रहे हैं. और ईमानदार टैक्सपेयर्स के पैसे की कीमत पर गलत तरीके से कमाई कर रहे हैं.

सूत्रों ने यह भी कहा कि ये HNI कंट्रीब्यूटर्स EPF खाताधारकों की कुल संख्या का 0.27 फीसदी हैं और उनका प्रति व्यक्ति औसत कॉर्पस 5.92 करोड़ रुपये है. वे टैक्स मुक्त निश्चित रिटर्न के साथ सालाना प्रति व्यक्ति 50.3 लाख रुपये की कमाई कर रहे हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. PF taxation: सिर्फ 1.23 लाख के PF अकाउंट में जमा हैं 62,500 करोड़ रुपये, मोटी सैलरी वालों पर खुलासा
Tags:EPFO

Go to Top