मुख्य समाचार:

PF से इनकम पर चली कैंची; FY20 के लिए ब्याज दर 0.15% घटकर हुई 8.50%

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए यह ब्याज दर 8.65 फीसदी थी.

March 5, 2020 6:04 PM
EPFO cuts employee provident fund interest rate by 15 basis points, now you get 8.5 pc interest for FY20Image: PTI

कमर्चारी भविष्य निधि (EPF) के पैसे पर वित्त वर्ष 2019-20 में कम रिटर्न हासिल होगा. इसकी वजह है कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने EPF पर वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ब्याज दर में 0.15 फीसदी की कटौती कर दी है. अब मौजूदा वित्त वर्ष के लिए PF पर 8.55 फीसदी का सालाना ब्याज मिलेगा. यह इसका सात साल का न्यूनतम स्तर है. EPF जमा पर 2019-20 के लिए घोषित ब्याज दर 2012-13 के बाद सबसे कम है. उस समय इस पर 8.5 फीसदी ब्याज दिया गया था.

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए यह ब्याज दर 8.65 फीसदी थी. केन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि EPFO के शीर्ष निर्णय लेने वाले निकाय सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (CBT) की बृहस्पतिवार को हुई बैठक में यह फैसला लिया गया. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के करीब छह करोड़ अंशधारक हैं. मंत्री ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में कर्मचारी भविष्य निधि जमा पर 8.5 फीसदी ब्याज देने से EPFO के पास 700 करोड़ रुपये का सरप्लस होगा. मंत्रालय के एक सूत्र ने कहा, ‘‘EPFO अगर 8.55 फीसदी ब्याज देता तो उसके पास 300 करोड़ रुपये का सरप्लस रहता. इससे ज्यादा ब्याज देने पर EPFO को नुकसान होता.’’

पिछले 6 सालों की ब्याज दर

EPFO ने अपने अंशधारकों को 2016-17 में 8.65 फीसदी और 2017-18 में 8.55 फीसदी ब्याज दिया था. वित्त वर्ष 2015-16 में इस पर 8.8 फीसदी का ऊंचा ब्याज दिया गया था. इससे पहले 2013-14 और 2014-15 में EPF पर 8.75 फीसदी का ब्याज दिया गया था. 2012-13 में EPF पर ब्याज दर 8.5 फीसदी रही थी.

SBI Vs PNB Vs HDFC बैंक Vs ICICI बैंक: कहां FD में ज्यादा है फायदा? चेक करें 5 लाख निवेश की मेच्योरिटी पर वैल्यू

श्रम मंत्रालय की सहमति जरूरी

श्रम मंत्रालय को इस मामले में वित्त मंत्रालय से सहमति लेना जरूरी होता है. चूंकि EPFO रिटर्न मामले में भारत सरकार की गारंटी होती है, अत: वित्त मंत्रालय ब्याज दर की समीक्षा करता है ताकि EPFO की आय में किसी प्रकार की कमी से देनदारी नहीं बने. वित्त मंत्रालय EPF ब्याज दर को लोक भविष्य निधि (PPF) और डाकघर बचत जमा योजनाएं जैसी अन्य लघु बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज के अनुरूप करने के लिये श्रम मंत्रालय से कहता रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. PF से इनकम पर चली कैंची; FY20 के लिए ब्याज दर 0.15% घटकर हुई 8.50%
Tags:EPFEPFO

Go to Top