सर्वाधिक पढ़ी गईं

EPF से NPS अकाउंट में कैसे करें फंड ट्रांसफर? पहले समझें इसके फायदे और अन्य डिटेल

Transfer EPF Fund to NPS : नेशनल पेंशन सिस्‍टम लांग टर्म में रिटायरमेंट प्लानिंग का बेहद पॉपुलर विकल्प बनता जा रहा है.

Updated: Dec 07, 2020 12:40 PM
EPF fund transfer to NPSTransfer EPF Fund to NPS : नेशनल पेंशन सिस्‍टम लांग टर्म में रिटायरमेंट प्लानिंग का बेहद पॉपुलर विकल्प बनता जा रहा है.

How to transfer EPF balance to NPS account: पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) सब्सक्राइबर्स को यह अनुमति देता है कि वे अपना फंड इम्प्लॉईज प्रोविडेंट फंड (EPF) से नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) में कुछ तय शर्तों के साथ ट्रांसफर कर सकते हैं. नेशनल पेंशन सिस्‍टम लांग टर्म में रिटायरमेंट प्लानिंग का बेहद पॉपुलर विकल्प बनता जा रहा है. इक्विटी में निवेश के विकल्‍प की वजह से लंबे समय में निवेशक ईपीएफ की तुलना में एनपीएस के जरिए ज्यादा रिटर्न हासिल कर सकते हैं. वहीं इस पवर इनकम टैक्स बेनेफिट भी मिलता है. ऐसे में यह जानना चाहिए कि ईवीएफ से कोई सब्सक्राइबर अपना फंड कैसे एनपीएस में ट्रांसफर कर सकता है.

पहले समझें फायदे

इक्विटी में एक्सपोजर होने की वजह से लंबी अवधि में एनपीएस के जरिए ईपीएफ की तुलना में रिटर्न ज्यादा मिल सकता है. अगर महंगाई दर देखें तो एक समय के बाद किसी को भी रिटायरमेंट के बाद अच्छे खासे फंड की जरूरत होगी. ऐसे में लांग टर्म गोल के लिए एनपीएस बेहतर विकल्प हो सकता है.

आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत आप 1.5 लाख रुपये तक की कटौती का लाभ ले सकते हैं. दूसरी बात यह है कि अब यह EEE कैटेगरी में आ गया है. मतलब निवेश के पैसे, मिलने वाले ब्याज और मेच्‍योरिटी पर मिलने वाले पैसों पर इनकम टैक्‍स नहीं लगता है. इसके अलावा आप धारा 80सीसीडी(1बी) के तहत अतिरिक्‍त 50,000 रुपये तक की कटौती का लाभ ले सकते हैं. अगर आप अपने रिटायरमेंट के लिए जोड़े जा रहे फंड पर ज्‍यादा रिटर्न चाहते हैं तो अपने ईपीएफ को NPS में ट्रांसफर कर सकते हैं.

EPF फंड को NPS में कैसे करें ट्रांसफर

अगर आप अपने EPF फंड को NPS में ट्रांसफर करना चाहते हैं तो आपके पास एक एक्टिव टियर-1 एकाउंट NPS का होना ही चाहिए. वैकल्पिक तौर पर आप प्‍वॉइंट ऑफ प्रेजेंस (POP) या e-NPS पोर्टल पर जाकर अपना NPS अकाउंट खुलवा सकते हैं. NPS अकाउंट खुलवाने के लिए आप npstrust.org.in पर जा सकते हैं.

NPS अकाउंट खुलने के बाद इम्प्लॉयर के पास ट्रांसफर फॉर्म सबमिट करना होता है.

आवेदन मिलने के बाद EPFO, EPF खाते में शेष राशि के ट्रांसफर को ट्रिगर करेगा. एनपीएस नोडल कार्यालय या पीओपी की ओर से रिटायरमेंट बॉडी द्वारा एक चेक या ड्राफ्ट जारी किया जाएगा.

एक बार फंड जमा होने के बाद, एनपीएस खाता अपडेट हो जाएगा और आपको एनपीएस के साथ रजिस्टर अपने मोबाइल नंबर पर उसी के लिए वेरिफाई अलर्ट मिलेगा. इसके बाद नोडल ऑफिस या POP कर्मचारी के टियर-1 अकाउंट में पैसे अपडेट करेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. EPF से NPS अकाउंट में कैसे करें फंड ट्रांसफर? पहले समझें इसके फायदे और अन्य डिटेल
Tags:EPFNps

Go to Top