सर्वाधिक पढ़ी गईं

e-payment: SBI में 67% ट्रांजैक्शन हुआ ऑनलाइन, YONO ऐप से रोज खुल रहे हैं 40 हजार बचत खाते

SBI Online Transaction: एसबीआई में होने वाले कुल ट्रांजैक्शन में 67 फीसदी ऑनलाइन हो गए हैं. कोरोना महामारी के पहले यह 60 फीसदी था.

March 19, 2021 12:26 PM
SBI Online TransactionSBI Online Transaction: एसबीआई में होने वाले कुल ट्रांजैक्शन में 67 फीसदी ऑनलाइन हो गए हैं.

SBI Online Transaction: कोरोना वायरस महामारी के चलते लोगों का ई-कॉमर्स पर फोकस बढ़ा है. ई-कॉमर्स में तेजी के चलते आनलाइन ट्रांजैक्शन भी बढ़ रहे हैं. देश के सबसे बड़े लेंडर भारतीय स्टेट बैंक के भी कई डिजिटल चैनलों पर होने वाली लेन-देन में तेजी से इजाफा हुआ है. एसबीआई में होने वाले कुल ट्रांजेक्शन में 67 फीसदी ऑनलाइन हो गए हैं.. कोरोना महामारी के पहले यह 60 फीसदी था. एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि बैंक में डिजिटल लेन-देन की संख्या में बढ़ोत्तरी महामारी के चलते ई-कॉमर्स में आने वाली तेजी की वजह से हुई है.

ई-कॉमर्स बढ़ने का मिला फायदा

उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान देशभर में कई गतिविधियां प्रभावित हुईं. लोगों ने बाहर निकलने की जग​ह ई-कॉमर्स को प्राथमिकता दी. इस दौरान डिजिटल लेन देन को बढ़ावा मिला, जिसका फायदा हमें हुआ. यह एक कारण है कि हमारे डिजिटल लेनदेन अब 67 फीसदी हो गए हैं. मुझे लगता है कि यह एक बड़ा नंबर है. हालांकि इस बात का ध्यान रख रहे हैं कि हम एक बैंक हैं जो सभी प्रकार के ग्राहकों को सर्विस दे रहे हैं, चोहे वह टेक फ्रेंडली हो या नहीं.

उन्होंने कहा कि रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट सिस्टम (आरटीजीएस) और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (एनईएफटी) की चौबीस घंटे की उपलब्धता जैसे इकोसिस्टम ने हाल ही में बैंक को अपने डिजिटल लेनदेन को बढ़ाने में मदद की है.

YONO ऐप में तगड़ी ग्रोथ

उन्होंने कहा कि लेंडर के डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म YONO(You Only Need One App) ने भी मौजूदा वित्त वर्ष के दौरान महत्वपूर्ण ग्रोथ हासिल की है. अभी वर्तमान में, YONO के 3.5 करोड़ रजिस्टर्ड यूजर्स हैं. बैंक द्वारा अपने मोबाइल ऐप की मदद से प्रति दिन 35,000-40,000 से अधिक बचत खाते खोले जा रहे हैं. चालू वित्त वर्ष के दौरान, YONO के जरिए 12.82 लाख ग्राहकों को लगभग 16,000 करोड़ रुपये के प्री-अप्रूव्ड पर्सनल लोन का वितरण किया गया है.

YONO: प्लेटफॉर्म पर कार लोन और होम लोन

एसबीआई चेयरमैन ने यह जानकारी दी कि YONO ऐप के जरिए जहां तकरीबन 4,000 करोड़ रुपये के 59,000 करोड़ कार लोन मंजूर किए गए, वहीं बैंक मोबाइल ऐप की मदद से 4,000 करोड़ रुपये के 15,000 होम लोन जेनरेट कर सका. YONO ऐप एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस, एसबीआई जनरल इंश्योरेंस और एसबीआई कार्ड और एसबीआई म्यूचुअल फंड सहित बैंक की सहायक कंपनियों के प्रोडक्ट के डिस्ट्रीब्यूशन में भी मदद करता है. इस वित्त वर्ष में, YONO प्लेटफॉर्म का उपयोग करते हुए, 25 लाख के पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी और 7 लाख जीवन बीमा पॉलिसी जारी की गई हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. e-payment: SBI में 67% ट्रांजैक्शन हुआ ऑनलाइन, YONO ऐप से रोज खुल रहे हैं 40 हजार बचत खाते
Tags:SBI

Go to Top