मुख्य समाचार:

ITR भरते वक्त भूल कर भी ये 7 गलती ना करें नौकरीपेशा, वरना होगा भारी नुकसान

अगर आप नौकरी पेशा हैं और बचत करने के लिए आयकर विभाग से इनकम चैक्स रिटर्न भरते हुए अपनी आय छुपाते हैं, तो यकीन मानिए आप अपने लिए मुसीबत खड़ी कर रहे हैं।

April 20, 2018 1:04 PM
आयकर विभाग, इनकम टैक्स रिटर्न, income tax return, income tax department, personal financeइनकम टैक्स रिटर्न के संबंध में आयकर विभाग ने हाल ही में नोटिस जारी किया था।

अगर आप नौकरी पेशा हैं और ज्यादा रिटर्न पाने के लिए आयकर विभाग से इनकम टैक्स रिटर्न भरते हुए अपनी आय छुपाते हैं, तो यकीन मानिए आप अपने लिए मुसीबत खड़ी कर रहे हैं। आयकर विभाग द्वारा हाल ही में बयान जारी किया गया है कि, इनकम टैक्स रिटर्न गलत फाइल करने वाले नौकरीपेशा लोगों के खिलाफ वो कड़ी कार्यवाही करेगी। ऐसे में हम आपको उन आठ गलतियों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आप भूलकर भी ना करें, अन्यथा आपको मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

1) सेंविग्स पर मिलने वाले इटरेंस्ट को जरूर दिखाएं : इनकम टैक्स रिटर्न भरते वक्त सेविंग्स पर मिलने वाले इंटरेस्ट को जरूर दिखाएं। अगर आप अपनी इस इनकम को नहीं दिखाते हैं, तो इसे टैक्स चोरी के तौर पह देखा जाएगा और आपके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

2) एचआरए क्लेम के फर्जी बिल ना दिखाएं: ज्यादातर कर्मचारी टैक्स बचाने के लिए फर्जी एचआईए बिल क्लेम करते हैं वो भी बिना किसी सपोर्टिंग डॉक्यूमेंट के। इस तरह के फर्जी क्लेम करने पर पकड़े जाने पर अब कर्मचारियों को आयकर विभाग की नई गाइडलाइन के तहत सजा भुगतनी पड़ सकती है।

3) 80 सी के आधीन फर्जी कटौती क्लेम ना करें: करम्चारियों के लिए बहुत आसान होता है कि वो 80 सी के तहत आने वाली कटौती जैसे एलआईसी बिल और मेडिक्लेम। हालांकि इस के आधीन होने वाली सभी पेमेंट कर्मचारी के 26 एएस से लिंक होती है, जो आयकर विभाग के उपलब्ध होती है, ऐसे में आयकर विभाग इस तरह के फ्रॉड को कभी भी बड़े आराम से पकड़ सकती है।

4) ITR भरते वक्त छोड़ी गई संस्था से हुई कमाई का भी ब्यौरा दें- इनकम टैक्स रिट्रन भरते वक्त ध्यान रखें की अगर आपने साल भर के दौरान नौकरी छोड़ कर दूसरी नौकरी पकड़ ली है, तो रिटर्न भरते वक्त दोनों कंपनियों से हुई इनकम का रिटर्न फाइल करें वरना आपको दिक्कतों का सामना कर पड़ सकता है।

5) चैप्टर VI-A के तहत फर्जी डिडक्शन क्लेम ना करें : कुछ टैक्स प्रोफेशनल आयकरदाता के ज्यादा रिटर्न दिलावने का लालच दिखाकर उनसे कमीशिन के रूप में रिटर्न का 10-25 फीसदी ले लेते हैं। दरअसल वो आपके द्वरा दिए गई आंकड़ो को फर्जी तरह से बदलकर रकम ज्यादा दिखाते हैं, जिससे आपको ज्यादा रिटर्न मिलता। हालांकि अब ऐसा करने पर आप फंस सकते हैं, क्योंकि आपके बैंक खाते, लोन अकाउंट, डीमैट अकाउंट इत्यीदी चीजें औधार पैन से कनेक्ट हैं, ऐसे में आयकर विभाग आपका सभी डाटा शक होने पर खंगाल सकता है और पकड़े जाने पल आपको दंड भुगतना पड़ सकता है।

6)सेक्शन 10 के तहत फर्जी क्लेम ना करें: सेक्शन 10 के तहत एचआरआए, एलटीए, मेडिकल रीइम्बर्समेंट इत्यादी की सुनिधा मिलती है, ऐसे में आप इसके तहत आने वाली सुविधाओं के लिए फर्जी क्लेम ना करें वरना आपको नुकसान हो सकता है।

7)होम लोन इंटरेस्ट को बढ़ाकर ना दिखाएं ज्यादा रिटर्न की चाह आपको ले डूब सकती है। अक्सर ज्यादा रिटर्न पाने के चक्कर में लोग इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते वक्त ज्यादा रिटर्न दिखाते हैं, ऐसे करते वक्त अगर आप आयकर विभाग की नजर में आ जाते हैं तो आपके खिलाफ आयकर विभाग कार्यवाही कर सकता है।

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. ITR भरते वक्त भूल कर भी ये 7 गलती ना करें नौकरीपेशा, वरना होगा भारी नुकसान

Go to Top