मुख्य समाचार:

Types of Credit Card: अपनी जरूरत और खर्चों के हिसाब से चुनें सही क्रेडिट कार्ड, वाइड रेंज से न हों कन्फ्यूज

आज के दौर में क्रेडिट कार्ड (Credit Card) का इस्तेमाल लगातार बढ़ रहा है.

Updated: Sep 13, 2020 5:39 PM
Different types of credit cards in india, basic credit card, travel credit card, reward credit card, entertainment credit card, shopping credit card and moreImage: Reuters

Types of Credit Card: आज के दौर में क्रेडिट कार्ड (Credit Card) का इस्तेमाल लगातार बढ़ रहा है. बड़े शहरों के साथ-साथ छोटे शहरों में भी इसके जरिए शॉपिंग, ट्रैवलिंग, एंटरटेनमेंट आदि खर्चों का वहन किया जा रहा है. आज कस्टमर्स की विभिन्न आवश्यकताओं के लिए, क्रेडिट कार्ड के विभिन्न प्रकार उपलब्ध हैं. बैंक, एनबीएफसी ने इन्हें कुछ कैटेगरी में बांट रखा है. ग्राहक अपनी सहूलियत और खर्चों के आधार पर अपनी जरूरत की क्रेडिट कार्ड कैटेगरी का चुनाव कर सकते हैं और कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं. इन कैटेगरी में बेसिक से लेकर सुपर प्रीमियम कार्ड कैटेगरी तक शामिल हैं. विभिन्न कैटेगरी के क्रेडिट कार्ड के फीचर्स और फायदे अलग-अलग रहते हैं. आइए जानते हैं कुछ प्रमुख क्रेडिट कार्ड प्रकारों के बारे में…

बेसिक क्रेडिट कार्ड: ये कार्ड उन लोगों के लिए फायदेमंद रहते हैं, जो पहली बार क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने जा रहे हैं. ऐसे क्रेडिट कार्ड रीजनेबल क्रेडिट लिमिट और रेगुलर फीचर्स के साथ आते हैं. आमतौर पर इनकी सालाना फीस कम होती है. कार्ड से ट्रांजेक्शन करने पर कोई अतिरिक्त फायदे ऐसे कार्ड के फीचर्स में शामिल नहीं होते हैं.

ट्रैवल क्रेडिट कार्ड: आजकल कई बैंक ट्रेवल-सेंट्रिक क्रेडिट कार्ड की पेशकश कर रहे हैं. ये क्रेडिट कार्ड एयरपोर्ट लाउंज का उपयोग, एयर माइल अर्निंग, हवाई दुर्घटना बीमा, कम विदेशी मुद्रा चिह्न शुल्क इत्यादि जैसी यात्रा संबंधी विशेषताओं से लैस होते हैं. साथ ही सभी सामान्य लाभों को भी ऑफर करते हैं. ट्रैवल क्रेडिट कार्ड की मदद से सभी एयरलाइन टिकट बुकिंग, बस और रेल टिकट बुकिंग, कैब बुकिंग आदि पर छूट का लाभ उठा सकते हैं. प्रत्येक खरीद पर रिवॉर्ड प्वॉइंट्स मिलते हैं.

फ्यूल क्रेडिट कार्ड: इन क्रेडिट कार्ड के जरिए जब आप अपने व्हीकल में फ्यूल भरवाते हैं तो फ्यूल सरचार्ज छूट और बोनस रिवॉर्ड पॉइंट के रूप में अतिरिक्त लाभ मिलता है. कुछ बैंक विशिष्ट पेट्रोल पम्प कंपनियों के साथ साझेदारी रखते हैं. ऐसे माले में आपको तभी छूट मिलती है जब आप उन विशिष्ट पेट्रोल पम्पों से फ्यूल भरवाते हैं, जबकि कुछ बैंक ये छूट सभी पेट्रोल पम्प कंपनियों पर लागू करते हैं. सरचार्ज छूट आपके पास किस तरह का कार्ड है उस पर निर्भर है.

रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड: सामान्य से अतिरिक्त रिवॉर्ड ऑफर करने वाले क्रेडिट कार्ड्स को रिवार्ड्स क्रेडिट कार्ड के रूप में जाना जाता है. इस प्रकार के क्रेडिट कार्ड में विशिष्ट खरीद और ट्रांजेक्शन पर बढ़े हुए रिवॉर्ड प्वॉइंट्स मिलते हैं. अर्जित बोनस प्वॉइंट्स को भविष्य की खरीद पर छूट के लिए रिडीम किया जा सकता है या अपने मासिक क्रेडिट कार्ड बिलों को कम करने के लिए रिडीम किया जा सकता है.

शॉपिंग क्रेडिट कार्ड: ये कार्ड लाइफस्टाइल लाभों जैसे कपड़े, जूते आदि वस्तुओं पर मिलने वाली छूट पर बेस्ड हैं. शॉपिंग क्रेडिट कार्ड लगातार खरीदारी करने वालों के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं. विशेष तौर पर उनके लिए जो अपने मासिक खर्चों का भुगतान क्रेडिट कार्ड से करना चाहते हैं. शॉपिंग क्रेडिट कार्ड से खरीदारी या ट्रांजेक्शन पर छूट का लाभ उठाने के लिए पार्टनर स्टोर पर ऑनलाइन या ऑफलाइन खरीदारी करनी होती है. साल भर कैशबैक, डिस्काउंट वाउचर आदि का लाभ लिया जा सकता है.

SBI ने FD रेट्स में की कटौती, अब ये हैं नई ब्याज दरें

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड: ये क्रेडिट कार्ड आपकी फिक्स्ड डिपॉजिट के बदले में दिया जाता है. अगर आप भविष्य में क्रेडिट कार्ड के बिल भुगतान में कोई डिफॉल्ट करते हैं तो बैंक आपकी एफडी बंद कर सकता है. आमतौर पर बैंक सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड की क्रेडिट लिमिट एफडी के 85% के बराबर रखते हैं. सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड आम क्रेडिट कार्ड की तरह काम करता है और साथ ही एफडी पर आपको ब्याज भी मिलता रहता है.

ग्रॉसरी क्रेडिट कार्ड: यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल ग्रोसरी खरीदने के लिए करते हैं, तो ग्रॉसरी क्रेडिट कार्ड लिया जा सकता है. ये कार्ड चुनिंदा सुपरमार्केट और डिपार्टमेंटल स्टोर पर अतिरिक्त रिवॉर्ड पॉइंट या कैशबैक ऑफर करते हैं, जिससे ग्रॉसरी खरीदारी पर पैसे बचा सकते हैं.

एंटरटेनमेंट क्रेडिट कार्ड: जो लोग फिल्मों, कॉन्सर्ट और इवेंट्स में जाना पसंद करते हैं उनके लिए एंटरटेनमेंट क्रेडिट कार्ड एक अच्छा विकल्प है. जब आप मूवी टिकट बुकिंग के लिए भुगतान करते हैं तो ये कार्ड रिवॉर्ड पॉइंट और कैशबैक देते हैं. कुछ कार्ड ‘बुक माय शो’ आदि जैसे प्लेटफॉर्म के साथ को-ब्रांडेड हैं.

को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड: कुछ क्रेडिट कार्ड एयरलाइन, होटल, स्टोर या अन्य ब्रांड्स के साथ को-ब्रांडेड होते हैं. बैंक ब्रांड्स के साथ साझेदारी कर को ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड पेश करते हैं. जब आप पार्टनर ब्रांड्स पर क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करते हैं तो अतिरिक्त रिवॉर्ड पॉइंट और कैशबैक ऑफर होता है.

कैशबैक क्रेडिट कार्ड: कुछ प्रमुख बैंक कैशबैक क्रेडिट कार्ड ऑफर करते हैं. इनके तहत कार्ड से खरीदारी के अमाउंट के आधार पर एक निश्चित परसेंटेज के बराबर कैशबैक की पेशकश की जाती है. या यूं कहें रिवॉर्ड के बजाय सीधे कैशबैक मिलता है. साथ ही बैंकों की कुछ शर्तें भी लागू रहती हैं.

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड: ये कार्ड सिर्फ उन्ही छात्रों को दिए जाते हैं जो कम से कम 18 वर्ष की उम्र या उस से ज्यादा के हैं और शिक्षा संस्थानों में फुल टाइम कोर्स के लिए दाखिला ले चुके हैं. स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड में अन्य फुल फ्लेज्ड क्रेडिट कार्ड के मुकाबले शर्तें कम रहती हैं. आम तौर पर ब्याज दर भी कम रहती है.

क्रेडिट स्कोर के अलावा लोन की मंजूरी के लिए इन चीजों का भी रखें ध्यान, वर्ना होगी परेशानी

बिजनेस क्रेडिट कार्ड: ये कार्ड विशेष रूप से बिजनेस यूज के लिए डिजाइन किए गए हैं. इनके पीछे मकसद है कि बिजनेस और पर्सनल खर्च अलग रहें. हालांकि बिजनेस क्रेडिट कार्ड के लिए भी अच्छी क्रेडिट हिस्ट्री होना जरूरी है.

बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड: इस प्रकार का कार्ड आमतौर पर किसी एक कार्ड की बकाया राशि का भुगतान दूसरे कार्ड से करने के लिए खरीदा जाता है. अगर आपके किसी कार्ड पर ब्याज दर उच्च है तो आप उसके द्वारा चुकाए जाने वाले क्रेडिट को बैलेंस ट्रांसफर क्रेडिट कार्ड में शिफ्ट कर सकते हैं. इस श्रेणी में कई कार्ड ब्याज मुक्त समय अवधि या फिर एक निश्चित अ​वधि के लिए कम ब्याज दर की सुविधा भी देते हैं.

प्रीमियम क्रेडिट कार्ड: ये कार्ड चुनिंदा लोगों को ध्यान में रखकर डिजाइन किए गए हैं. प्रीमियम क्रेडिट कार्ड गोल्फ क्लब्स, एयरपोर्ट लाउंजेस, इंश्योरेंस और कन्सीर्ज सर्विस की फ्री एक्सेस उपलब्ध कराते हैं. ये कार्ड कॉम्प्लिमेंटरी ट्रैवल व होटल एकोमोडेशन कूपन्स के साथ भी आते हैं. हर किसी को इस कार्ड को रखने की मंजूरी नहीं मिलती है.

किसान क्रेडिट कार्ड: ये कार्ड कुछ प्रमुख बैंकों द्वारा दिए जा रहे क्रेडिट कार्डों में जोड़ा गया एक नया विकल्प है. भारत में किसान क्रेडिट कार्ड भारत के ग्रामीण किसानों को प्रदान किए जाते हैं ताकि वे पसंदीदा ब्याज दरों पर क्रेडिट ले सकें.

नोट: क्रेडिट कार्ड लेने से पहले विभिन्न प्रकार के क्रेडिट कार्ड पर मौजूद फीस और शुल्क पर ध्यान दें. सुनिश्चित करें कि आप अपनी विशिष्ट वित्तीय जरूरतों के अनुसार उचित क्रेडिट कार्ड चुनें.

Source: paisabazaar.com, Cleartax, Bajaj Finserv

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Types of Credit Card: अपनी जरूरत और खर्चों के हिसाब से चुनें सही क्रेडिट कार्ड, वाइड रेंज से न हों कन्फ्यूज

Go to Top