मुख्य समाचार:

धनतेरस-दिवाली: कैसे तय होती है गोल्ड ज्वैलरी की कीमत, जान लें गणित; होगा फायदा

Gold shipping on Dhanteras-Diwali: दो दिन बाद धनतेरस का त्योहार है. इस मौके पर भारत में गोल्ड खरीदने का रिवाज है.

October 23, 2019 2:46 PM
Dhanteras Shopping: how gold jewellery price build up for buying, this diwali know the formula, धनतेरस शॉपिंग, धनतेरस पर गोल्ड ज्वैलरी की खरीदारी, दिवाली पर गोल्ड खरीदी, गोल्ड ज्वैलरी का फाइनल प्राइस कैसे तय होता है, सोने की ज्वैलरी की फाइनल कीमत निर्धारित करने का फॉर्मूलाImage: Reuters

Gold shipping on Dhanteras-Diwali: दो दिन बाद धनतेरस का त्योहार है. इस मौके पर भारत में गोल्ड खरीदने का रिवाज है. इस मौके पर गोल्ड आइटम खरीदना शुभ माना जाता है. लेकिन आप इसे फ्यूचर के लिए एक फायदेमंद निवेश विकल्प के तौर पर पर भी देख सकते हैं. सोना हमेशा बुरे वक्त का साथी माना जाता है. अगर आप भी इस धनतेरस गोल्ड ज्वैलरी खरीदने की सोच रहे हैं तो पहले जान लें कि गोल्ड ज्वैलरी की कीमत का फॉर्मूला क्या है.

गोल्ड ज्वैलरी की फाइनल वैल्यू में सोने की कीमत और मेकिंग चार्ज दोनों शामिल रहते हैं, वहीं अगर आप स्टडेड ज्वैलरी यानी स्टोन जड़ित ज्वैलरी को लेते हैं तो इसकी कीमत भी उसमें शामिल ​की जाती है. ज्वैलरी में लगने वाले सोने की कीमत देश के अलग-अलग हिस्सों में अलग-अलग रहती है. इसके अलावा मेकिंग चार्जेस भी अलग-अलग ज्वैलर्स के हिसाब से अलग-अलग रहते हैं, हालांकि आप चाहें तो इसमें मोल-तोल किया जा सकता है.

ये है फॉर्मूला

ज्वैलरी का अंतिम दाम= सोने की कीमत (22 कैरेट या 18 कैरेट) X ग्राम में भार+ मेकिंग चार्ज+ (ज्वैलरी की कीमत+ मेकिंग चार्ज) पर 3% GST

इसे एक उदाहरण से समझें. गोल्ड ज्वैलरी हमेशा 22 या 18 कैरेट गोल्ड की बनती है. इसकी वजह है कि 24 कैरेट गोल्ड बेहद नाजुक होता है. इसकी ज्वैलरी बनाना संभव नहीं है. मान लीजिए कि आपको 9.6 ग्राम की सोने की चेन खरीदनी है और ज्वैलर 22 कैरेट वाले 10 ग्राम सोने की कीमत 39000 रुपये लगाता है. इस पर रेट ऐसे कैलकुलेट होगा-

1 ग्राम गोल्ड की कीमत=39000 रुपये/10 = 3900 रुपये
9.60 ग्राम गोल्ड चेन की कीमत= 2,735 X 9.60 =37440 रुपये
मेकिंग चार्जेस (मान लेते हैं ये 10% हैं)= 37440 का 10%= 3744 रुपये
अभी तक का कुल रेट= 37440+3744= 41184 रुपये
41184 रुपये पर 3% जीएसटी =1235.52 रुपये

अंतिम रेट= 42,419.52 रुपये (37440 रुपये+ 3744 रुपये+ 1235.52 रुपये)

स्टडेड ज्‍वैलरी को लेकर क्या रखें ध्यान

स्टडेट गोल्‍ड ज्‍वैलरी में नग की कीमत भी शामिल रहती है. ऐसी ज्‍वैलरी खरीदते वक्त स्‍टोन्‍स या जेम्‍स की शुद्धता का सर्टिफिकेट जरूर लें. साथ ही उनकी कीमत और वजन भी बिल पर लें. एक ज्वैलर के मुताबिक, वैसे तो कस्‍टमर को स्‍टडेड चीजों की कीमत और वजन भी बिल पर अलग से दिया जाता है. लेकिन कुछ ज्‍वैलर्स स्‍टडेड ज्‍वैलरी में लगे स्‍टोन्‍स और जेम्‍स को भी सोने की कीमत में ही लगाते हैं और वजन करते वक्‍त उनका वजन अलग से नहीं किया जाता है.

जब कस्टमर उस ज्वैलरी को बेचता है तो नगों का दाम अलग रहता है और सोने का अलग. 1 या 2 छोटे स्‍टोन्‍स होने पर फर्क नहीं पड़ता लेकिन हैवी वर्क होने पर ध्‍यान देना जरूरी हो जाता है. ऐसे में अगर स्‍टोन्‍स, सोने से सस्ते हैं कम है तो नुकसान होता है. इसलिए बिल पर स्‍टडेड चीजों के दाम और वजन अलग से दिया होने पर आप धोखे से बच जाएंगे. शुद्धता का सर्टिफिकेट आपको नकली जेम्‍स व स्‍टोन्‍स की असली के हिसाब से कीमत देने से बचाएगा.

धनतेरस: सोना खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान; नहीं होगा नुकसान, शुभ रहेगा त्योहार 

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. धनतेरस-दिवाली: कैसे तय होती है गोल्ड ज्वैलरी की कीमत, जान लें गणित; होगा फायदा

Go to Top