वेतनभोगी कर्मचारियों को बड़ी राहत; EPF से पैसा निकालना आसान, PF में सरकार करेगी योगदान

वित्त मंत्री निर्मला निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएफ के मोर्चे पर कर्मचारियों को राहत दी.

coronavirus crisis modi government give big relief to salaried employees to pay PF contribution and PF withdrawal rules changed
वित्त मंत्री निर्मला निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएफ के मोर्चे पर कर्मचारियों को राहत दी.

EPFO: वित्त मंत्री निर्मला निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएफ के मोर्चे पर कर्मचारियों को राहत दी. सीतारमण ने एलान किया कि सरकार अगले तीन महीने तक नियोक्ता और कर्मचारी दोनों का एंप्लॉय प्रोविडेंट फंड (EPF) योगदान देगी, जो कुल मिलाकर 24 फीसदी (12%+12%) होगा. वित्त मंत्री ने बताया कि यह उन संस्थाओं के लिए है, जिनके पास 100 कर्मचारी तक मौजूद हैं जो इनमें से 90 फीसदी 15 हजार रुपये से कम महीने में कमाते हैं. इससे 80 लाख से ज्यादा इंप्लॉई और 4 लाख से ज्यादा संस्थानों/प्रतिष्ठानों को फायदा होगा.

PF अकाउंट से निकाल सकेंगे 75% राशि

इसके अलावा सरकार ने कर्मचारियों को ज्यादा राहत देते हुए एलान किया कि उन्हें अपने पीएफ अकाउंट में क्रेडिट से 75 फीसदी तक का नॉन-रिफंडेबल एडवांस निकालने की इजाजत या 3 महीने की सैलरी की इजाजत है. इनमें से जो भी कम है, वह निकाल सकते हैं. सरकार इसके लिए ईपीएफ के रेगुलेशन में संशोधन करेगी. सीतारमण ने बताया कि इस फैसले से करीब 4.8 करोड़ वर्कर्स को फायदा होगा.

गरीबों के लिए 1.70 लाख करोड़ का पैकेज, किसानों और मजदूरों के लिए सरकार ने किये अहम एलान

आर्थिक पैकेज का भी एलान

वित्त मंत्री ने ये एलान लॉकडाउन के बाद पैकेज के एलान के साथ किए. कोरोना संकट से निपटने के लिए सरकार ने आज राहत पैकेज का एलान किया. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में गरीबों, मजदूरों, माइग्रेंट वर्कर्स, ​आदि के लिए 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का एलान किया. इसका नाम प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज है. इसके अलावा मेडिकल इंश्योरेंस कवर सैनिटेशन वर्कर्स, सफाई कर्मचारी, डॉक्टर आशा वर्कर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, मेडिकल स्टाफ आदि कोरोना वॉरियर्स के लिए 50 लाख प्रति व्यक्ति के इंश्योरेंस कवर का एलान किया गया.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News