सर्वाधिक पढ़ी गईं

Bharti Airtel के शेयर रिकॉर्ड ऊंचाई पर, टेलिकॉम कंपनियों को क्या सरकार से मिलेगी राहत? जानें क्या हो निवेशकों की स्ट्रैटजी

शेयर बाजार में आज एमटीएनएल, रिलायंस कम्युनिकेशन और वोडाफोन आइडिया के शेयरों में भी तेजी देखने को मिल रही है.

Updated: Sep 15, 2021 2:13 PM
एयरटेल के शेयर रिकार्ड ऊंचाई पर, दूसरी टेलीकॉम कंपनियों के शेयर में भी उछाल की उम्मीद

Bharti Airtel के शेयर आज यानी बुधवार, 15 सितंबर 2021 को रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए. कंपनी के शेयर 3 फीसदी चढ़ कर 790 रुपये पर पहुंच गए. इसके साथ ही बीएसई में एमटीएनएल के शेयर 2 फीसदी, रिलायंस कम्यूनिकेशन (Reliance Communication) के 1.6 फीसदी और वोडाफोन आइडिया (Vodafone-Idea) के शेयर 0.58 फीसदी चढ़ गए.

दरअसल इस तेजी की एक वजह आज हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक को भी माना जा रहा है, जिसमें कंपनियों को स्पेक्ट्रम बकाये के भुगतान के लिए और कुछ समय की मोहलत देने का फैसला किए जाने की चर्चा है. समझा जाता है कि इसी वजह से टेलिकॉम कंपनियों के शेयरों में यह उछाल दिख रहा है. वोडाफोन को 58,000 करोड़ रुपये के एजीआर का भुगतान करना है. दूरसंचार मंत्रालय ने कंपनी को भुगतान के लिए चार साल की मोहलत देने का प्रस्ताव रखा है.

670-690 रुपये के लेवल पर एयरटेल में खरीदारी संभव

विश्लेषकों का कहना है कि देश के टेलिकॉम सेक्टर में अब सिर्फ दो कंपनियों के वर्चस्व की स्थिति बनती दिख रही है. बोनांजा पोर्टफोलियो के रिसर्च हेड विशाल वाघ का कहना है कि भारती एयरटेल (Bharti Airtel) के शेयर में 670-690 रुपये के नजदीक लगातार खरीदारी दिख सकती है. पिछले एक महीने में भारती एयरटेल के शेयर में 13.19 फीसदी की रैली दिखी है, जबकि बीएसई सेंसेक्स में इस अवधि में 5.26 फीसदी की बढ़त रही है.

Top SIP Fund: एसआईपी में निवेश से इंवेस्टर्स हुए मालामाल, इन फंड से निवेशकों को मिला 30% से अधिक रिटर्न

टेलिकॉम शेयरों में बढ़त की उम्मीद

दरअसल पिछले एक सप्ताह से टेलिकॉम सेक्टर के शेयर निवेशकों और ट्रेडर्स के राडार पर हैं. उन्हें उम्मीद है कि सरकार की बैठकें कर्ज में फंसी टेलीकॉम कंपनियों को राहत देने का ऐलान कर सकती है. CapitalVia Global Research की सीनियर रिसर्च एनालिस्ट लिखिता छिपा का कहना है कि कैबिनेट को कंपनियों की फीस में राहत देने के अलावा दो और फैसले करने हैं. पहला यह कि कैबिनेट टेलिकॉम लाइसेंस फीस को 8 फीसदी से घटा कर 6 फीसदी करने को मंजूरी दे सकती है. दूसरा फैसला एजीआर की परिभाषा को संशोधित करने का हो सकता है. इंडस्ट्री की ओर से लंबे समय से यह मांग की जा रही है. छिपा का कहना है कि यही वजह है कि हाल में टेलिकॉम सेक्टर की कंपनियों के शेयरों में इजाफा देखने को मिला है. यहां तक कि मुश्किल में फंसी वोडाफोन आइडिया के शेयरों में भी 0.58 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है और यह 8.74 रुपये पर पहुंच गया है.

(Article : Surabhi Jain) 

(स्टोरी में दिए गए स्टॉक रिकमंडेशन संबंधित रिसर्च एनालिस्ट व ब्रोकरेज फर्म के हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. पूंजी बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन हैं. निवेश से पहले अपने सलाहकार से जरूर परामर्श कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Bharti Airtel के शेयर रिकॉर्ड ऊंचाई पर, टेलिकॉम कंपनियों को क्या सरकार से मिलेगी राहत? जानें क्या हो निवेशकों की स्ट्रैटजी

Go to Top