मुख्य समाचार:

PPF: अकाउंट एक, फायदे अनेक; सालाना 1.5 लाख से ज्यादा कैसे कर सकते हैं निवेश

PPF में निवेश न केवल सुरक्षित है, बल्कि इसमें टैक्स छूट का पूरा लाभ मिलता है.

March 2, 2020 1:03 PM
How can a investor invest in PPF beyond 1.5 lakh rupees yearly limit and take its benefitsPPF में निवेश को लेकर यदि कुछ छोटी बातों को ध्यान में रखे, तो इसका अधिक फायदा मिल सकता है.

Advantages of PPF: पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) लंबी अवधि के लिए एक बेहतर निवेश विकल्प है. PPF में निवेश न केवल सुरक्षित है, बल्कि इसमें टैक्स छूट का पूरा लाभ मिलता है. निवेशकों के लिए इसमें जोखिम नगण्य होता है. चूंकि, PPF में निवेश को पूरी तरह सरकार का संरक्षण है, इसलिए यह पूरी तरह जोखिम मुक्त है. सेल्फ इम्प्लायड प्रोफेशनल और EPFO के दायरे में नहीं आने वाले कर्मचारियों के लिए पीपीएफ निवेश का एक सबसे उपयुक्त विकल्प है. इसके अलावा, जिन लोगों के पास नौकरी या कारोबार कोई संगठित ढांचा नहीं है, वह लंबी अवधि के निवेश के लिए पीपीएफ को चुन सकते हैं.

पीपीएफ को लेकर इस तरह नहीं सोचना चाहिए कि इस खाते में साल में कभी एक बार पैसा डालना है. यदि थोड़ी बहुत प्लानिंग के साथ निवेश किया जाए, तो PPF आपके फाइनेंशियल पोर्टफोलियो का अच्छा निवेश साबित हो सकता है. PPF में निवेश को लेकर यदि कुछ छोटी बातों या यूं कहे टिप्स को ध्यान में रखे, तो इसका अधिक से अधिक फायदा मिल सकता है.

Good News: SBI दे रहा सबसे सस्ता होम लोन, 7.90% से शुरू है ब्याज दर

PPF: अधिकतम कितना करें निवेश

PPF में निवेश पर फिलहाल 7.9 फीसदी का सालाना कम्पाउंडिंग ब्याज मिल रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि यह लंबी अवधि का निवेश है. पीपीएफ में अधिकतम 1.5 लाख रुपये ​सालाना निवेश किया जा सकता है. अमूमन ऐसा लगता है कि 1.5 लाख रुपये पीपीएफ में सालाना निवेश करना बहुत फायदेमंद नहीं है. ऐसा करके 80C के तहत मिलने वाली पूरी टैक्स छूट सिर्फ इसी विकल्प से समाप्त हो जाएगी. लेकिन, सिर्फ टैक्स सेविंग के मकसद से PPF में निवेश का फैसला न करें.

PPF में उतना ही निवेश करें, ​जितना आप वहन कर सकते हैं. यदि आप 1.5 लाख रुपये एक साल में पीपीएफ में निवेश करते हैं तो मैच्योरिटी पर यानी 15 साल बाद आपको करीब 22 लाख रुपये का फायदा होगा. याद रखिये, यह रकम पूरी तरह टैक्स फ्री होगी. 30 फीसदी टैक्स स्लैब में आने वाले निवेशकों के लिए यह बैंक एफडी पर करीब 11.5 फीसदी का सालाना रिटर्न के बराबर है.

Tax Saving: इलाज के खर्च पर भी मिलता है टैक्स डिडक्शन, सेक्‍शन 80DDB करता है मदद; शर्तें लागू

PPF: आमदनी का वितरण

यदि आप अपने बच्चे या पत्नी/पति के नाम पर PPF अकाउंट खोलते हैं, तो भविष्य में इसका बहुत फायदा है. टैक्स कानून के अनुसार, यदि पति/पत्नी को गिफ्ट की गई रकम निवेश की जाती है, तो निवेश पर होने वाली आमदनी गिफ्ट देने वाले की आय में जोड़ी जाती है. लेकिन, PPF चूंकि कर मुक्त यानी टैक्स फ्री है, इसलिए यह आपकी टैक्स देनदारी नहीं बढ़ाएगा. इस तरह, आप पीपीएफ में 1.5 लाख से अधिक निवेश कर सकते हैं और कई तरह के फायदे ले सकते हैं.

हालांकि, यह ध्यान रखें, यह रणनीति उस स्थिति में काम नहीं करती, जब आपका बच्चा माइनर (नाबालिग) है. आप अपने नाबालिग बच्चे के नाम PPF अकाउंट खोल सकते हैं. लेकिन, याद रखिये आपकी और आपके बच्चे का कुल PPF निवेश 1.5 लाख रुपये सालाना से अधिक नहीं होना चाहिए.

PPF: बच्चे के भविष्य के लिए निवेश

यदि, आपके बच्चे की उम्र 18 साल से ज्यादा हो गई है, तो आप उसके नाम पर अलग से 1.5 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं. बच्चे की अलग आमदनी हो सकती है. बच्चे की​ शिक्षा के लिए PPF फंड बनाने का एक बेहतर तरीका बन सकता है.

 

Source: Tax Guru

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. PPF: अकाउंट एक, फायदे अनेक; सालाना 1.5 लाख से ज्यादा कैसे कर सकते हैं निवेश

Go to Top