मुख्य समाचार:

5 लाख तक की FD पूरी तरह सुरक्षित, चेक करें कहां मिल रहा है 9% तक सालाना ब्याज

Best FD Rates: सरकारी और निजी बैंकों में FD करना अब पहले से ज्यादा सुरक्षित हो गया है.

Published: February 11, 2020 9:16 AM
Best FD Rates, Fixed Deposit is safer now, DICGC, RBI, Budget, बैंकों में FD करना ज्यादा सुरक्षित, SBI, HDFC Bank, ICICI Bank, Jan Small Finance Bank, FD ratesसरकारी और निजी बैंकों में FD करना अब पहले से ज्यादा सुरक्षित हो गया है.

Best FD Rates: सरकारी और निजी बैंकों में FD करना अब पहले से ज्यादा सुरक्षित हो गया है. अब आप बिना टेंशन 5 लाख रुपये तक फिक्स्ड डिपॉजिट कर सकते हैं, जो बैंकों में पूरी तरह से सुरक्षित रहेगी. असल में बैंक जमा पर 5 लाख रुपये तक का बीमा कवर लागू हो गया है. यह बीमा कवर रिजर्व बैंक की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी जमा बीमा एवं ऋण गारंटी निगम (DICGC) प्रदान करती है. इसका मतलब यह हुआ है कि अगर किसी कंडीशन में बैंक डिफाल्ट कर जाए तो आपके 5 लाख रुपये पर सरकार की गारंटी होगी. यानी डिफाल्ट केस में भी 5 लाख रुपये आपको मिल जाएंगे. पहले यह रकम 1 लाख रुपये थी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट में इस बात की घोषणा की थी. केंद्रीय बैंक आरबीआई का कहना है कि जमाकर्ताओं को संरक्षण देने की दृष्टि से यह कदम उठाया गया है. ऐसे में आप जहां बैंक एफडी का आकर्षण पहले से बढ़ा है, आप भी जानना चाहेंगे कि कहां फिक्स्ड डिपॉजिट पर बेतर सालाना ब्याज मिल रहा है. हमने यहां एसबीआई, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक समेत कुछ ऐसे ही बैंकों की जानकारी दी है जो एफडी पर 9 फीसदी तक सालाना ब्याज दे रहे हैं.

SBI

स्टेट बैंक आफ इंडिया अपने सामान्य ग्राहकों को अलग अलग अवधि की एफडी पर 4.50 फीसदी से 6 फीसदी तक सालाना ब्याज दे रही है. वहीं, वरिष्ठ नागरिकों को इन अवधि पर 0.50 फीसदी ब्याज ज्यादा मिल रहा है.

7 दिन से 45 दिन तक: 4.50%
46 दिन से 179 दिन तक: 5.00%
180 दिन से 210 दिन तक: 5.50%
211 दिन से 1 साल से कम तक: 5.50%
1 साल से 2 साल से कम पर: 6.00%
2 साल से 3 साल से कम तक: 6.00%
3 साल से 5 साल से कम तक: 6.00%
5 साल से 10 साल तक: 6.00%

सूर्योदय स्माल फाइनेंस बैंक

सूर्योदय स्माल फाइनेंस बैंक सामान्य ग्राहकों को अलग अलग अवधि की एफडी पर 4 फीसदी से 9 फीसदी और वरिष्ठ नागरिकों को 4.5 फीसदी से 9.5 फीसदी तक सालाना ब्याज दे रही है. नीचे सामान्य ग्राहकों को मिलने वाले एफडी इंटरेस्ट रेट की जानकारी दी गई है. वरिष्ठ नाबगरिकों को 0.5 फीसदी अतिरिक्त ब्याज मिल रहा है.

7 दिन से 14 दिन: 4.00%
15 दिन से 45 दिन: 4.00%
46 दिन से 90 दिन: 5.00%
91 दिन से 6 महीना: 5.50%
6 महीने से 9 महीना: 7.50%
9 महीने से 1 साल तक: 7.75%
1 साल से 2 साल तक: 8.25%
2 साल से 3 साल तक: 8.50%
3 साल से 5 साल से कम पर: 8.00%
5 साल की एफडी पर: 9.00%
5 साल से 10 साल तक: 7.25%

HDFC बैंक

HDFC बैंक सामान्य ग्राहकों को 2 करोड़ से कम की अलग अलग अवधि की एफडी पर 3.50 फीसदी से 6.30 फीसदी तक सालाना ब्याज दे रहा है. वरिष्ठ नागरिकों को इन अवधि की एफडी पर 50 बेसिस प्वॉइंट ब्याज ज्यादा मिल रहा है.

7 दिन से 14 दिन तक: 3.50%
15 दिन से 29 दिन: 4.00%
30 दिन से 45 दिन तक: 4.90%
46 दिन से 60 दिन तक: 5.40%
61 दिन से 90 दिन तक: 5.40%
91 दिन से 6 महीने तक: 5.40%
6 महीने 1 दिन से 9 महीने तक: 5.80%
9 महीने 1 दिन से 1 साल से कम तक: 6.05%
1 साल पर: 6.30%
1 साल 1 दिन से 2 साल तक: 6.30%
2 साल 1 दिन से 3 साल तक: 6.40%
3 साल 1 दिन से 5 साल तक: 6.30%
5 साल 1 दिन से 10 साल तक: 6.30%

जन स्माल फाइनेंस बैंक

जन स्माल फाइनेंस बैंक अपने सामान्य ग्राहकों को अलग अलग अवधि की एफडी पर 5 फीसदी से 8.50 फीसदी सालाना ब्याज दे रहा है. वहीं वरिष्ठ नागरिकों को इन अवधि पर 60 अेसिस प्वॉइंट ज्यादा ब्याज मिल रहा है.

7 दिन से 14 दिन तक: 5.00%
15 दिन से 45 दिन तक: 5.25%
46 दिन से 60 दिन तक: 6.00%
61 दिन से 90 दिन तक: 6.25%
91 दिन से 180 दिन तक: 7.00%
181 दिन से 198 दिन तक: 7.75%
199 दिन के लिए: 8.25%
200 दिन से 364 दिन तक: 7.75%
365 दिन तक के लिए: 8.00%
1 साल से 498 दिन से कम तक पर: 8.25%
499 दिन तक के लिए: 8.50%
500 दिन से 3 साल से कम तक पर: 8.25%
3 साल तक के लिए: 8.40%
3 साल से 5 साल तक: 8.25%
5 साल से 10 साल तक: 7.00%

(नोट: एफडी रेट्स बैंकों की वेबसाइट्स से लिए गए हैं.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. 5 लाख तक की FD पूरी तरह सुरक्षित, चेक करें कहां मिल रहा है 9% तक सालाना ब्याज

Go to Top