मुख्य समाचार:

आज से मिलेगा सस्ता कर्ज, इन बैंकों में लागू हुए रेपो रेट से लिंक्ड लेंडिंग रेट

कुछ बैंक इसे पहले से लागू कर चुके हैं और कुछ जल्द ही करने वाले हैं. आइए नजर डालते हैं इन सभी बैंकों की लिस्ट पर....

September 1, 2019 8:48 AM
Banks in which repo rate linked lending rate became effective from 1st september 2019Image: PTI

देश के कई बैंक अपने लोन प्रॉडक्ट रेपो रेट से जोड़ने का एलान कर चुके हैं. रेपो रेट वह दर है, जिस पर RBI बैंकों को कर्ज देता है.रेपो रेट से लोन की ब्याज दर जुड़ने के बाद रेपो रेट में RBI जब-जब बदलाव करेगा, लोन की ब्याज दर भी बदलेगी. इसके चलते रेपो रेट में कटौती का फायदा तुरंत और पारदर्शी तरीके से कस्टमर्स तक पहुंचेगा. रेपो रेट से लिंक्ड लोन MCLR लिंक्ड लोन के मुकाबले सस्ते होंगे. आज 1 सितंबर से कुछ बैंकों के रेपो रेट लिंक्ड लेंडिंग रेट यानी RLLR लागू हो रहे हैं. वहीं कुछ बैंक इसे पहले से लागू कर चुके हैं और कुछ जल्द ही करने वाले हैं. आइए नजर डालते हैं इन सभी बैंकों की लिस्ट पर….

SBI

देश का सबसे बड़ा बैंक SBI रेपो रेट लिंक्ड होम लोन प्रॉडक्ट जुलाई में ही लॉन्च कर चुका है. RLLR तय करने के लिए बैंक रेपो रेट पर अपनी ऑपरेटिंग कॉस्ट जोड़ते हैं. SBI में यह कॉस्ट मिनिमम 2.25 फीसदी है. रेपो रेट लिंक्ड होम लोन प्रॉडक्ट के तहत RLLR रेपो रेट+ 2.25 फीसदी है. रेपो रेट घटकर अभी 5.40 फीसदी है यानी SBI का RLLR 7.65 फीसदी हुआ.

रेपो रेट लिंक्ड होम लोन प्रॉडक्ट के लिए ब्याज दर RLLR+ 40 bps से लेकर RLLR+110 bps तक है. इस आधार पर यह 8.05 फीसदी से लेकर 8.20 फीसदी तक होगी. यह रेट 1 सितंबर 2019 से लागू होगी. SBI के नए विज्ञापन के मुताबिक, रेपो रेट लिंक्ड होम लोन प्रॉडक्ट के तहत 1 सितंबर से लागू होने वाली 8.05 फीसदी की मिनिमम ब्याज दर का फायदा मौजूदा RLLR होम लोन कस्टमर्स को भी होगा.

बैंक ऑफ इंडिया

BoI ने चुनिंदा लोन प्रॉडक्ट्स के लिए रेपो रेट बेस्ड ब्याज दर की पेशकश करने का फैसला किया है. बैंक ऑफ इंडिया ने बयान में कहा कि शुरुआत में हाउसिंग, व्हीकल और पर्सनल लोन को रेपो रेट बेस्ड ब्याज दर से लिंक किया जाएगा. रेपो बेस्ड इंट्रेस्ट रेट प्रॉडक्ट 1 सितंबर यानी कल से कस्टमर्स के लिए उपलब्ध होंगे. इन्हें औपचारिक तौर पर 7 सितंबर को बैंक के 114वें स्थापना दिवस पर लॉन्च किया जाएगा.

बैंक ऑफ महाराष्ट्र

बैंक ऑफ महाराष्ट्र (BoM) ने भी रिटेल लोन को रेपो रेट से जोड़ दिया है. नई दर 1 सितंबर 2019 से प्रभावी हो गई है. अभी BoM का रेपो रेट से लिंक्ड रिटेल लोन नए ग्राहकों के लिए होगा और तय समय में इसे वर्तमान ग्राहकों के लिए भी प्रभावी बनाया जाएगा. बैंक ऑफ महाराष्ट्र पहले ही होम लोन इंट्रेस्ट रेट को रेपो रेट से जोड़ चुका है.

इलाहाबाद बैंक

इलाहाबाद बैंक ने 75 लाख रुपये तक के कर्ज को एक्सटर्नल बेंचमार्क लिंक्ड रेट्स (EBLR) के साथ जोड़ा है. इनमें से एक रेपो रेट भी है. इलाहाबाद बैंक ने 1 सितंबर 2019 से स्वीकृत होने वाले मुद्रा लोन और 75 लाख रुपये तक के होम लोन की ब्याज दर को EBLR से जोड़ने का फैसला किया है. बैंक ने यह भी कहा है कि लेनदारों के पास MCLR से जुड़े कर्ज और EBLR से जुड़े कर्ज में से चुनाव करने का विकल्प होगा. वह 40 लाख और उससे ऊपर के सभी बैंक बचत जमा को भी एक अक्टूबर 2019 से एक्सटर्नल बेंचमार्क से जोड़ेगा.

मेगा बैंक मर्जर: 10 सरकारी बैंकों के आपस में विलय का कस्टमर पर क्या होगा असर

सिंडिकेट बैंक

सिंडिकेट बैंक भी घोषणा कर चुका है कि हाउसिंग, व्हीकल और उपभोक्ता लोन अब से रेपो-लिंक ब्याज दर पर उपलब्ध होंगे. इस बदलाव के बाद अब होम लोन रेपो+2.9 फीसदी अर्थात 8.3 फीसदी ब्याज दर से शुरू होंगे. बैंक यह भी कह चुका है कि वह 25 लाख रुपये से ज्यादा के सेविंग्स बैंक डिपॉजिट पर ब्याज दरों को रेपो रेट से लिंक करेगा.

ये बैंक पहले से कर चुके हैं लागू

पंजाब नेशनल बैंक

Banks in which repo rate linked lending rate became effective from 1st september 2019Image: Reuters

पंजाब नेशनल बैंक ने रेपो रेट से लिंक्ड रिटेल लेंडिंग स्कीम ‘PNB एडवांटेज’ पेश की है. यह पहले से ही अमल में आ गई है. बैंक के बयान के मुताबिक, नई स्कीम में ब्याज दर, मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) पर आधारित मौजूदा ब्याज दर की तुलना में 0.25 प्रतिशत कम होगी. होम लोन के लिए नई दरें 8.25 प्रतिशत से 8.35 प्रतिशत के बीच होंगी. कार लोन के लिए कर्ज की दर 8.65 प्रतिशत होगी. PNB ने यह भी कहा है कि मौजूदा ग्राहक मामूली शुल्क देकर रेपो लिंक्ड ब्याज दर (RLLR) का विकल्प चुन सकेंगे.

इंडियन बैंक

इंडियन बैंक ने भी होम और व्हीकल लोन को रेपो रेट से लिंक कर दिया है. नई ब्याज दर 15 अगस्त 2019 से प्रभावी हो चुकी है.

बैंक ऑफ बड़ौदा

बैंक ऑफ बड़ौदा भी रेपो रेट से लिंक्ड नए होम लोन प्रॉडक्ट का एलान कर चुका है. कस्टमर्स के ​पास MCLR लिंक्ड होम लोन और रेपो रेट लिंक्ड होम लोन के बीच चुनने का विकल्प रहेगा. MCLR से लिंक्ड प्रॉडक्ट की ब्याज दर 8.45 फीसदी से शुरू है, जबकि रेपो रेट से लिंक्ड होम लोन की ब्याज दर 8.35 फीसदी से शुरू है. यह प्रॉडक्ट 12 अगस्त से प्रभाव में आ चुका है.

ये बैंक भी कर चुके हैं एलान

कॉरपोरेशन बैंक

कॉरपोरेशन बैंक ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लिंक्ड होम लोन प्रॉडक्ट की पेशकश की है. एक्सटर्नल बेंचमार्क के तौर पर आरबीआई रेपो रेट को चुना गया है. अब कस्टमर्स के पास MCLR लिंक्ड रेट और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट पर आधारित होम लोन में से चुनाव करने का विकल्प रहेगा. कॉरपोरेशन बैंक में RLLR 8.20 फीसदी है. बैंक ने आगे कहा कि RLLR पर बेस्ड होम लोन के लिए ब्याज दर 8.50 फीसदी से शुरू होंगी.

क्या है Payday लोन? अप्लाई करने से पहले जान लें ब्याज दर, फायदे और सावधानियां

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) के कस्टमर्स अब रेपो रेट से लिंक्ड ब्याज दरों यानी RLLR पर होम लोन और व्हीकल लोन ले सकेंगे. ये ब्याज दरें होम लोन के लिए 8.35 फीसदी और व्हीकल लोन के लिए 8.70 फीसदी से शुरू होंगी. बैंक ये पेशकश RBI की रेपो रेट से लिंक्ड नए लॉन्च होम लोन और व्हीकल लोन वेरिएंट के तहत करेगा. OBC का कहना है कि कस्टमर्स के पास MCLR लिंक्ड ब्याज दर और रेपो रेट से लिंक्ड ब्याज दर पर लोन लेने का ऑप्शन होगा.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने एलान किया है कि अब नया होम लोन और व्हीकल लोन रेपो रेट लिंक्ड इंट्रेस्ट रेट पर मिलेगा. जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर बढ़िया होगा, उन्हें रेपो लिंक्ड होम लोन्स के तहत 30 लाख से ऊपर और 75 लाख रुपये तक का होम लोन 8.25 फीसदी ब्याज दर पर दिया जाएगा. जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर बढ़िया होगा, उन्हें व्हीकल लोन 8.60 फीसदी ब्याज दर पर दिया जाएगा. बैंक ने यह भी कहा है कि रेपो रेट से लिंक्ड होम लोन की ब्याज दर मौजूदा होम लोन से 35 बेसिस प्वॉइंट (0.35%) कम है, जबकि रेपो रेट से लिंक्ड व्हीकल लोन मौजूदा व्हीकल लोन की ब्याज दर की तुलना में 40 बेसिस प्वॉइंट (0.40%) सस्ता है.

IDBI बैंक

Banks in which repo rate linked lending rate became effective from 1st september 2019Image: Reuters

IDBI बैंक भी रेपो रेट आधारित होम व व्हीकल लोन की पेशकश करने का एलान कर चुका है. इस कर्ज पर सालाना ब्याज दर साढ़े आठ प्रतिशत से शुरू हो रही है. IDBI बैंक के बयान के मुताबिक, इसके तहत दो लोन प्रॉडक्ट ‘सुविधा प्लस होम लोन’ और ‘सुविधा प्लस व्हीकल लोन’ रिजर्व बैंक के रेपो रेट से जुड़े होंगे. ये प्रॉडक्ट 10 सितंबर से ग्राहकों के लिए उपलब्ध होंगे.

बैंक ने यह भी कहा है कि अच्छे क्रेडिट स्कोर वाले नए ग्राहकों और 6 लाख रुपये सालाना से ज्यादा आय वालों को यह कर्ज दिया जाएगा. 8.5 फीसदी की ब्याज दर पर 35 साल की अवधि के लिए 75 लाख रुपये तक का कर्ज दिया जाएगा. इसके अलावा बिना किसी प्रोसेसिंग शुल्क के शेष राशि के ट्रांसफर एवं टॉपअप की सुविधा उपलब्ध होगी. ग्राहकों को 8.90 फीसदी की ब्याज दर पर 7 साल की अवधि तक के लिए 25 लाख रुपये तक के व्हीकल लोन की पेशकश की जाएगी. वहीं अगर कोई इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदता है तो 10 बेसिस प्वाइंट्स की छूट अलग से मिलेगी.

यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया

यूबीआई होम और कार के लिए कर्ज को रेपो आधारित ब्याज दर से जोड़ेगा. होम लोन के लिए नई रेपो आधारित ब्याज दर 8.15 फीसदी से 8.30 फीसदी तक होगी. कार लोन के लिए दरें 8.70 से 8.85 फीसदी तक रहेंगी.

केनरा बैंक

केनरा बैंक ने अगस्त में अपनी MCLR में 0.10 फीसदी की कटौती की थी. इसी के साथ बैंक ने एलान किया था कि वह जल्द ही रेपो रेट से लिंक्ड लोन प्रॉडक्ट की पेशकश करेगा. हालांकि ऐसा कब से किया जाएगा, इस बोर में जानकारी सामने नहीं आई है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. आज से मिलेगा सस्ता कर्ज, इन बैंकों में लागू हुए रेपो रेट से लिंक्ड लेंडिंग रेट

Go to Top