सर्वाधिक पढ़ी गईं

Bank of Baroda ने वापस लिए 1 नवंबर से लागू किए गए बदलाव, जनधन और BSBD अकाउंट पर नहीं है कोई चार्ज

बैंक का कहना है कि मौजूदा कोविड हालात को ध्यान में रखते हुए उसने यह फैसला किया है.

Updated: Nov 03, 2020 7:35 PM
Bank of Baroda withdraws revision of the Service Charges made effective from november 1, bank of baroda rolls back order reducing free cash transactionsबैंकों ने जनधन खाते पर चार्ज न वसूले जाने का स्पष्टीकरण जारी किया है.

बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) ने 1 नवंबर से लागू किए गए बदलावों को वापस ले लिया है. बैंक का कहना है कि मौजूदा कोविड हालात को ध्यान में रखते हुए उसने यह फैसला किया है. बता दें कि बैंक ऑफ बड़ौदा समेत कुछ अन्य पब्लिक सेक्टर बैंकों द्वारा सर्विस चार्ज बढ़ाए जाने की कई खबरें चर्चा में आने के बाद आलोचनाओं के स्वर तीखे हो रहे थे. इसके अलावा जनधन खातों पर भी चार्ज लगने की अफवाह उड़ने लगी थी. हालांकि बैंकों ने जनधन खाते पर चार्ज न वसूले जाने का स्पष्टीकरण जारी किया है. वित्त मंत्रालय ने भी इस बारे में मंगलवार को स्थिति स्पष्ट की है.

बैंक ऑफ बड़ौदा ने 1 नवंबर 2020 से जो बदलाव लागू किए थे, वे करंट अकाउंट, ओवरड्राफ्ट अकाउंट, कैश क्रेडिट अकाउंट, सेविंग्स अकाउंट में कैश हैंडलिंग चार्जेस, प्रतिमाह फ्री कैश डिपॉजिट की संख्या और विदड्रॉअल से जुड़े थे.

क्या बदलाव किए थे लागू

कैश हैंडलिंग चार्जेस को लेकर बैंक ने कहा था कि करंट अकाउंट/ओवरड्राफ्ट/कैश क्रेडिट/अन्य अकाउंट्स के लिए बेस व लोकल नॉन बेस ब्रांच में 1 नवंबर से कैश हैंडलिंग चार्ज, प्रतिदिन प्रति अकाउंट 1 लाख रुपये से ज्यादा कैश जमा करने पर प्रति 1000 रुपये पर 1 रुपये रहेगा. यह चार्ज मिनिमम 50 रुपये और मैक्सिमम 20000 रुपये होगा.

वहीं सेविंग्स बैंक अकाउंट में फ्री कैश डिपॉजिट और सेविंग्स अकाउंट, करंट अकाउंट, ओवरड्राफ्ट, कैश क्रेडिट अकाउंट से विदड्रॉअल की संख्या प्रतिमाह 5 से घटाकर 3 कर दी गई थी. इन फ्री ट्रांजेक्शन लिमिट के खत्म होने के बाद किए जाने वाले ट्रांजेक्शन के लिए चार्ज में कोई बदलाव ​नहीं किया गया था. इसके अलावा बैंक ने चेकबुक से जुड़े नियमों में भी कुछ बदलाव किए थे.

लेकिन अब बैंक ऑफ बड़ौदा ने 1 नवंबर से लागू किए गए इन सभी नियमों को वापस ले लिया है और अब फिर से फ्री कैश डिपॉजिट व विदड्रॉअल की पुरानी संख्या को लागू कर दिया है. चेकबुक के लिए बदले नियम भी अब लागू नहीं हैं.

सरकारी बैंकों ने क्या बचत, चालू और जनधन खातों पर बढ़ा दिया है चार्ज? वित्त मंत्रालय ने दी स्पष्ट जानकारी

जनधन, BSBD अकाउंट पर कोई चार्ज नहीं

बैंक ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट (BSBD)/फाइनेंशियल इन्क्लूजन अकाउंट्स पर कोई सर्विस चार्ज नहीं है. 2 नवंबर को किए गए ट्वीट्स में बैंक ने कहा था कि बैंक ने कोई नए चार्ज नहीं लगाए हैं और प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत खुले अकाउंट पर चार्ज लागू नहीं हैं. इसके अलावा सीनियर सिटीजन के लिए चार्ज अन्य अकाउंट्स के लिए लागू चार्ज की तुलना में कम हैं. बैंक ने यह भी कहा था कि लोन प्रोसेसिंग के लिए 1 जुलाई 2020 से लागू सर्विस चार्ज में कोई बदलाव नहीं किया गया है. 3 लाख रुपये तक के कृषि ऋणों पर कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं है. इसके अलावा रिटेल/MSME पोर्टफोलियो के प्रोसेसिंग चार्ज को भी नहीं बढ़ाया गया है. होम व ऑटो लोन्स पर 31 मार्च 2021 तक छूट लागू है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Bank of Baroda ने वापस लिए 1 नवंबर से लागू किए गए बदलाव, जनधन और BSBD अकाउंट पर नहीं है कोई चार्ज

Go to Top