Account linked Mobile Number Change Process: घर बैठे बदल सकते हैं अपने बैंक खाते से जुड़ा मोबाइल नंबर, स्टेप वाइज समझें पूरी प्रॉसेस | The Financial Express

Account linked Mobile Number Change Process: घर बैठे बदल सकते हैं अपने बैंक खाते से जुड़ा मोबाइल नंबर, स्टेप वाइज समझें पूरी प्रॉसेस

Account linked Mobile Number Change Process: कभी-कभी ऐसा होता है कि खाते से जुड़े नंबर को बदलने की जरूरत आ पड़ती है. इसके लिए कई प्रोसेस हैं जिसे आप अपनी सुविधानुसार चुन सकते हैं.

Account linked Mobile Number Change Process: घर बैठे बदल सकते हैं अपने बैंक खाते से जुड़ा मोबाइल नंबर, स्टेप वाइज समझें पूरी प्रॉसेस
बैंकिंग से जुड़े कामकाज निपटाने में मोबाइल ओटीपी की अहम भूमिका है. फर्जीवाड़े की बढ़ती घटनाओं पर रोकथाम के लिए अब बैंक इसे सिक्योरिटी फीचर में शामिल कर रहे हैं. (Image- Pixabay)

Account linked Mobile Number Change Process: बैंकिंग से जुड़े कामकाज निपटाने में मोबाइल ओटीपी की अहम भूमिका है. फर्जीवाड़े की बढ़ती घटनाओं पर रोकथाम के लिए अब बैंक इसे सिक्योरिटी फीचर में शामिल कर रहे हैं और किसी भी ट्रांजैक्शन के लिए तेजी से मोबाइल ओटीपी को अनिवार्य करते जा रहे हैं. बैंक भी खाता खुलवाते समय ही मोबाइल नंबर ले रहे हैं ताकि इसे खाते से लिंक किया जा सके. हालांकि कभी-कभी ऐसा होता है कि खाते से जुड़े नंबर को बदलने की जरूरत आ पड़ती है. इसके लिए कई प्रोसेस हैं जिसे आप अपनी सुविधानुसार चुन सकते हैं जैसे कि देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई की बात करें तो यह पुराने व नए मोबाइल नंबर के जरिए, एटीएम की मदद से नेट बैंकिंग के जरिए और बैंक कांटैक्ट सेक्टर से नंबर बदलने का विकल्प है. तकरीबन हर बैंकों में लगभग समान प्रकार के तरीके हैं.

DA Hike: डीए हाइक से कितनी बढ़ेगी सैलरी? मोदी सरकार के फैसले से फायदे का समझें कैलकुलेशन

SBI खाताधारक ऐसे बदल सकते हैं मोबाइल नंबर

  • अपने खाते में लॉग इन करें और प्रोफाइल टैब में जाकर पर्सनल डिटेल्स पर क्लिक करें.
  • इसके बाद प्रोफाइल पासवर्ड डालें.
  • ‘Change Mobile Number-Domestic only (Through OTP/ATM/Contact Centre)’ पर क्लिक करने पर नई स्क्रीन खुलेगी जिसमें तीन टैब होंगे- क्रिएट रिक्वेस्ट, कैंसल रिक्वेस्ट और स्टेटस.
  • नया मोबाइल नंबर भरें और इसे दोबारा भरकर सबमि पर क्लिक करें. एक पॉप अप मैसेज आएगा जिसमें मोबाइल नंबर के सही होने को कंफर्म करना होगा. ओके करने के बाद एक नई स्क्रीन खुलेगी.
  • नई स्क्रीन पर तीन विकल्प आएंगे- दोनों मोबाइल नंबर पर ओटीपी के जरिए, आईआरएटीए: एटीएम के जरिए इंटरनेट बैंकिंग रिक्वेस्ट अप्रूवल और कांटैक्ट सेंटर के जरिए अप्रूवल.

Types of Savings Account: हर जरूरत के लिए अलग बचत खाता, खूबियों को समझकर चुनें अपने लिए बेस्ट

दोनों मोबाइल नंबर पर ओटीपी के जरिए वेरिफिकेशन

  • अगर आपके पास नए और पुराने दोनों मोबाइल नंबर हैं तो आप By OTP on both the Mobile Number का विकल्प चुनें और Proceed पर क्लिक करें.
  • जिस खाते का डेबिट कार्ड आपके पास है, वह अकाउंट चुनें.
  • एक पेज खुलेगा जिसमें खाते से जुड़े सभी निष्क्रिय और सक्रिय एटीएम कार्ड की डिटेल्स दिखेगी. यहां जो एटीएम कार्ड अभी एक्टिव है, उसे चुनकर कंफर्म करें.
  • अगली स्क्रीन पर चुने गए एटीएम कार्ड का नंबर दिखेगा. पिन समेत पिन समेत कार्ड की डिटेल्स भरकर एक टेक्स्ट बॉक्स में दिए गए टेक्स्ट को निर्धारित बॉक्स में भरें और Proceed पर क्लिक करें.
  • पुराने और नए दोनों नंबरों पर ओटीपी जाएगा.
  • इसके बाद दोनों मोबाइल नंबरों से चार घंटे के भीतर ACTIVATE <8 अंकों की ओटीपी> <13 अंकों का रिफरेंस नंबर> 567676 पर एसएमएस करना होगा. उदाहरण के लिए ACTIVATE 12345678 UM12051500123 लिखकर 567676 पर एसएमएस करें.
  • नया मोबाइल नंबर एक्टिवेट हो जाएगा.

SEBI Order: म्यूचुअल फंड की नई स्कीमों पर जून तक लगा प्रतिबंध, निवेशकों के हित में सेबी का बड़ा फैसला

आईआरएटीए: एटीएम के जरिए इंटरनेट बैंकिंग रिक्वेस्ट अप्रूवल

  • अगर आपने IRATA : Internet Banking Request Approval through ATM पर क्लिक किया है तो इसके बाद Proceed पर क्लिक करें.
  • जिस अकाउंट का आपके पास डेबिट कार्ड है, उसे सेलेक्ट कर प्रॉसीड पर क्लिक करें.
  • एसबीआई के एटीएम कार्ड वैलिडेशन स्क्रीन पर पेज रीडाइरेक्ट हो जाएगा. यहां पर खाते से जुड़े सभी एटीएम कार्ड दिखेंगे चाहे वो निष्क्रिय ही क्यों न हों.
  • सक्रिय एटीएम कार्ड चुनें और कंफर्म पर क्लिक करें.
  • अगली स्क्रीन पर चुने गए एटीएम कार्ड का नंबर दिखेगा.
  • पिन समेत कार्ड की डिटेल्स भरकर एक टेक्स्ट बॉक्स में दिए गए टेक्स्ट को निर्धारित बॉक्स में भरें और Proceed पर क्लिक करें.
  • सफलतापूर्वक वैलिडेट होने के बाद स्क्रीन पर आएगा कि मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड हो गया है लेकिन रिक्वेस्ट अभी पेंडिंग है. एक एसएमएस भी आएगा जिसमें रिफरेंस नंबर होगा.
  • अब किसी नजदीकी स्टेट बैंक ग्रुप एटीएम पर जाकर अपने कार्ड को स्वाइप करें और सर्विसेज टैब को सेलेक्ट कर पिन भरें.
  • ‘Others’ टैब को सेलेक्ट कर ‘Internet Banking Request Approval’ पर क्लिक करें.
  • 10 अंकों का रिफरेंस नंबर भरें.
  • प्रॉसेस पूरा होने के बाद मोबाइल नंबर में बदलाव की रिक्वेस्ट पूरी हो जाएगी. इससे जुड़ा एक मैसेज मोबाइल पर प्राप्त हो जाएगा.

Crypto Investing Tips: क्रिप्टो में निवेश से पहले इन पांच बातों का रखें ध्यान, पोर्टफोलियो में कितना हिस्सा रखें इसका, एक्सपर्ट्स ने दी ये सलाह

कांटैक्ट सेंटर के जरिए अप्रूवल

  • अगर आफने Approval through Contact Centre का विकल्प चुना है तो Proceed पर क्लिक कर वह अकाउंट चुनें जिसका डेबिट कार्ड आपके पास है.
  • Proceed पर क्लिक करें.
  • एसबीआई के एटीएम कार्ड वैलिडेशन स्क्रीन पर पेज रीडाइरेक्ट हो जाएगा. यहां पर खाते से जुड़े सभी एटीएम कार्ड दिखेंगे चाहे वो निष्क्रिय ही क्यों न हों.
  • सक्रिय एटीएम कार्ड चुनें और कंफर्म पर क्लिक करें.
  • अगली स्क्रीन पर चुने गए एटीएम कार्ड का नंबर दिखेगा.
  • पिन समेत कार्ड की डिटेल्स भरकर एक टेक्स्ट बॉक्स में दिए गए टेक्स्ट को निर्धारित बॉक्स में भरें और Proceed पर क्लिक करें.
  • सफलतापूर्वक वैलिडेट होने के बाद स्क्रीन पर आएगा कि मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड हो गया है लेकिन रिक्वेस्ट अभी पेंडिंग है. एक
  • एसएमएस भी आएगा जिसमें रिफरेंस नंबर होगा.
  • बैंक का कांटैक्ट सेंटर आपसे तीन वर्किंग डेज के भीतर आपके नए मोबाइल नंबर पर संपर्क करेगा.
  • कांटैक्ट सेंटर पर्सन से कोई भी व्यक्तिगत जानकारी साझा करने से पहले रिफरेंस नंबर जरूर पूछ लें क्योंकि इसे किसी अन्य के साथ साझा नहीं करना चाहिए.
  • कांटैक्ट सेंटर आपके कुछ जरूरी जानकारी लेकर आपकी पहचान को प्रमाणित करेगा.
  • प्रमाणित होने के बाद नया मोबाइल नंबर सफलतापूर्वक रजिस्टर्ड हो जाएगा. इससे जुड़ा एक मैसेज नए मोबाइल नंबर पर प्राप्त हो जाएगा.

Tax Loss Harvesting: शेयरों से होने वाली कमाई पर ऐसे बचा सकते हैं टैक्स, उदाहरण से समझें पूरा कैलकुलेशन

रिक्वेस्ट का इस तरह देखें स्टेटस और करें कैंसल

  • अगर आपको अपने रिक्वेस्ट का स्टेटस देखना है या इसे कैंसल करना हो तो इसके लिए अपने एसबीआई खाते में लॉग इन करें.
  • प्रोफाइल टैब में जाकर पर्सनल डिटेल्स पर क्लिक करें.
  • प्रोफाइल पासवर्ड भरें. यहां नाम, ई-मेल आईडी और इंटरनेट बैंकिंग में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डिस्प्ले होगा.
  • ‘Change Mobile Number-Domestic only (Through OTP/ATM/Contact Centre)’ पर क्लिक करें.
  • एक नई स्क्रीन खुलेगी जिसमें तीन टैब होंगे, क्रिएट रिक्वेस्ट, कैंसल रिक्वेस्ट और स्टेटस.
  • अगर स्टेटस देखना है तो स्टेटस पर क्लिक करें और कैंसल करना है तो कैंसल रिक्वेस्ट पर क्लिक कर दिए गए निर्देशों का पालन करें.

Tax Planning: नए वित्त वर्ष में कैसी हो आपकी टैक्स प्लानिंग, जानिए किस स्कीम पर कितनी कर सकते हैं बचत

HDFC Bank के ग्राहक ऐसे बदलें कांटैक्ट डिटेल्स

अगर आप एचडीएफसी बैंक के ग्राहक हैं तो मोबाइल नंबर बदलने के लिए बैंक की वेबसाइट से एक एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करना होगा. इसमें सभी डिटेल्स भकर नजदीकी ब्रांच में आईडी प्रूफ की एक कॉपी के साथ जमा करना होगा या आधिकारिक रूप से वैध दस्तावेज (OVD) की स्वप्रमाणित कॉपी के साथ बैंक के पास भेज सकते हैं. इसके अलावा आप चाहें तो बैंक के एटीएम पर जाकर भी मोबाइल नंबर बदल सकते हैं. एटीएम मशीन में कार्ड इंसर्ट कर अपनी भाषा चुनें और फिर मेन मेन्यू के बाद More Options पर क्लिक करें. इसके बाद ‘Update Registered Mobile Number’ चुनकर नया मोबाइल नंबर भरें और कंफर्म पर क्लिक करें. फिर से मोबाइल नंबर भरकर दोबारा कंफर्म करें. फिर पिन डालें और आपका मोबाइल नंबर रिक्वेस्ट दो वर्किंग डेज में पूरा हो जाएगा.
(Source: SBI, HDFC Bank)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News