मुख्य समाचार:

सरकार का बड़ा ऑफर: 120 वर्गफुट जगह है तो खोलें जनऔषधि केंद्र, 2.5 लाख मिलेगी हेल्प

Janaushadhi: सरकार ने और ज्यादा जनऔषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदन मंगाया.

February 14, 2019 8:27 AM
Janaushadhi Centre, Invite Application, Janaushadhi, Youth Employment, Cheaper Medicine, Generic Medicine, Margin, Government Incentive, जनऔषधि केंद्र, Regular IncomeJanaushadhi Centre Application Invite

Janaushadhi Centre: देशभर में सस्ती दवाओं की योजना जनऔषधि केंद्र की सफलता को देखते हुए सरकार ने और ज्यादा केंद्र खोलकर युवाओं को रोजगार देने का प्लान बनाया है. सरकार ने इसके लिए नए सिरे से आवेदन मंगाए हैं. वहीं इसके लिए प्रोसेसिंग फी भी माफ कर दिया है. ऐसे में अगर आपके पास भी 120 वर्गफुट की जगह है तो योजना का लाभ उठाने का बेहतर मौका है. अगर आप इस परियोजना के हिस्सा बनते हैं तो न सिर्फ दवा की दुकान खोलने के लिए सरकार 2.5 रुपये की हेल्प करेगी, बल्कि आप इसके जरिए अपने शहर या कस्बे में ही रहकर रेग्युलर इनकम कर पाएंगे. जानते हैं पूरी योजना की डिटेल…..

कौन खोल सकता है जनऔषधि केंद्र

सरकार ने जनऔषधि केंद्र खोलने के लिए 3 तरह की कैटेगरी बनाई है. पहली कैटेगरी के तहत कोई भी व्यक्ति, बेरोजगार फार्मासिस्ट, डॉक्टर, रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर केंद्र खोल सकता है. दूसरी कैटेगरी के तहत ट्रस्ट, एनजीओ, प्राइवेट हॉस्पिटल, सोसायटी और सेल्फ हेल्प ग्रुप को जनऔषधि केंद्र खोलने का अवसर मिलेगा. तीसरी कैटेगरी में राज्य सरकारों की ओर से नॉमिनेट की गई एजेंसी होगी.

सेंटर खोलने पर 2.5 रुपये की सहायता

जनऔषधि केंद्र से दवा बेचने पर मिलने वाले को 20 फीसदी मार्जिन के अलावा हर महीने की बिक्री पर अलग से 15 फीसदी इंसेंटिव मिलेगा. इंसेंटिव की अधिकतम सीमा 10 हजार रुपये प्रति माह होगी. इंसेंटिव तब तक मिलेगा, जब तक कि 2.5 लाख रुपये पूरे न हो जाएं.

नक्सल प्रभावित और नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में इंसेंटिव की अधिकतम सीमा 15 हजार रुपये प्रति माह हो जाएगी. वहीं, कमजोर तबके के आवदेनकर्ता को 50 हजार रुपये की दवा एडवांस में बेचने के लिए दे दी जाएगी.

कैसे होगी इनकम?

जनऔषधि केंद्र के जरिए महीने में जितनी दवाओं की बिक्री होगी, उसका 20 फीसदी कमिशन के रूप में मिलेगा. इस लिहाज से अगर आपने महीने में 1 लाख रुपये की भी बिक्री की तो आपको उस महीने 20 हजार रुपये की इनकम हो जाएगी.

ट्रेड मार्जिन के अलावा सरकार मंथली सेल्स पर 15 फीसदी इंसेंटिव देगी, जो आपके बैंक अकाउंट में आ जाएगा.

आवेदन के लिए क्या है जरूरी?

जनऔषधि केंद्र खोलने के लिए आपके पास रिटेल ड्रग सेल्स का लाइसेंस जन औषधि केंद्र के नाम से होना चाहिए. केंद्र खोलने के लिए 120 वर्गफुट एरिया में दुकान होनी जरूरी है. आवेदन करने के लिए आधार कार्ड एवं पैन कार्ड की जरूरत होगी. वहीं, संस्थान, एनजीओ, हॉस्पिटल, चैरिटेबल संस्था को आवेदन करने के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, पंजीयन प्रमाण पत्र देना होगा.

कैसे करें अप्लाई?

जनऔषधि केंद्र खोलने के लिए आप https://janaushadhi.gov.in/ पर जाकर फार्म डाउनलोड कर सकते हैं. आवेदन को ब्यूरो ऑफ फॉर्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया (BPPI) के जनरल मैनेजर(A&F)के नाम से भेजना होगा. ब्यूरो ऑफ फॉर्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया का एड्रेस जनऔषधि की वेबसाइट पर और भी जानकारी उपलब्ध है.

ऑनलाइन अप्लाई

जनऔषधि केंद्र के लिए ऑनलाइन आवेदन https://janaushadhi.gov.in/ पर किया जा सकता है. सबसे आपको वेबसाइट पर जाकर आनलाइन रजिस्ट्रेशन फार्म भरना होगा. इसके बाद जरूरी दस्तावेज अपलोड कर अपना फार्म सबमिट कर सकते हैं.

अब तक 5000 केंद्र

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, अबतक देशभर में 5000 जनऔषधि स्टोर खुल चुके हैं. प्रत्येक स्टोर पर 700 जेनरिक मेडिसिन और 154 छोटे-बड़े मेडिकल उपकरण उपलब्ध कराए गए है. इस परियोजना के जरिए सरकार का मकसद देश के हर इलाके में लोगों को बाजार भाव से 80-85 फीसदी तक सस्ती दवा उपलब्ध कराना है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. सरकार का बड़ा ऑफर: 120 वर्गफुट जगह है तो खोलें जनऔषधि केंद्र, 2.5 लाख मिलेगी हेल्प

Go to Top