Stock Tips : गिरते बाजार में भी इन दो शेयरों में हो सकता मुनाफा, जानें एक्सपर्ट्स की राय और टारगेट प्राइस

गिरते बाजार में निवेशकों के सामने नए शेयरों का चुनाव मुश्किल हो गया है. लेकिन एक्सपर्ट्स की नजर में फिलहाल दो ऐसे शेयर हैं, जिनमें निवेशकों को मुनाफा हो सकता है.

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट Omicron के दक्षिण अफ्रीका के साथ यूरोप और एशियाई देशों में भी फैलने की खबर है. कोरोना के इस नए वैरिएंट के सामने आने से दुनिया भर के बाजारों के साथ भारतीय शेयर बाजारों में भी हड़कंप मचा है. शुक्रवार को सेंसेक्स 1700 अंक गिर कर बंद हुआ और निवेशकों के एक ही दिन में लगभग 4.40 लाख करोड़ रुपये डूब गए. ऐसे में निवेशकों के सामने नए शेयरों का चुनाव मुश्किल हो गया है. लेकिन एक्सपर्ट्स की नजर में फिलहाल दो ऐसे शेयर हैं, जिनमें निवेशकों को मुनाफा हो सकता है.

Torrent Pharma

रेटिंग – BUY
टारगेट प्राइस – 3202 रुपये
ब्रोकरेज फर्म – Nomura

ब्रोकरेज फर्म नोमुरा के मुताबिक कच्चे माल के बढ़ते दाम और कीमतों में बढ़ोतरी की सीमित क्षमता की वजह से फार्मा सेक्टर, खास कर जेनेरिक सेगमेंट में चिंता दिखती है. लेकिन इस हालात में Torrent Pharma की स्थिति अपनी पियर कंपनियों के मुकाबले में अच्छी दिख रही है. कंपनी का 60 फीसदी रेवेन्यू ब्रांडेड जेनेरिक दवाओं से आता है. यहां कंपनी कीमतें बढ़ा सकती है. कच्चा माल बिक्री फीसदी की तुलना में 30 फीसदी सस्ता है.चीन पर कच्चे माल की निर्भरता 25 फीसदी है.

नोमुरा के मुताबिक कंपनी का ब्राजील और भारत ब्रांडेड जेनेरिक दवाओं की बिक्री इसे लो डबल डिजिट ग्रोथ बरकरार रखने में मदद करेगी. टॉरेंट फार्मा को भारतीय बाजार में कम वोलेटिलिटी का सामना करना होगा क्योंकि इसकी कोविड-19 की दवा और सीजनल प्रोडक्ट पर निर्भरता कम है. कोरोना के बाद अस्पतालों में मरीजों के आने की रफ्तार बढ़ी है. कंपनी उस सेगमेंट की दवा में बढ़ोतरी दर्ज करा सकती है, जो इसकी बिक्री में 60 फीसदी की भागीदारी रखता है. नोमुरा ने इसकी रेटिंग अपग्रेड कर इसे BUY की रेटिंग दे दी है और इसका टारगेट प्राइस मौजूदा लेवल से 16 फीसदी बढ़ा दिया है.

Paytm ने पहली बार घोषित किए रिजल्ट, सितंबर तिमाही में कंपनी को 4.37 अरब रुपये का घाटा

Bharti Airtel

रेटिंग – BUY
टारगेट प्राइस- 925 रुपये
ब्रोकरेज फर्म – Jefferies

भारती एयरटेल ने प्री-पेड टैरिफ में 20 से 25 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी है. इससे पता चलता है कि कंपनी अपनी कमाई बढ़ाने पर फोकस किए हुए है. मार्केट शेयर बढ़ाने की तुलना में यह इस नीति पर ध्यान केंद्रित किए हुए है.. ब्रोकरेज फर्म Jefferies का मानना है कि भारती एयरटेल के बाद रिलायंस जियो भी अपना टैरिफ बढ़ा सकती है.

जैफ्रीज का मानना है कि भारती एयरटेल मार्केट शेयर बढ़ाने की तुलना में टैरिफ बढ़ा कर कमाई बढ़ाने पर ज्यादा जोर दे रही है. ब्रोकरेज फर्म का मानना है कि भारती एयरटेल के इस इरादे का संकेत इसने जुलाई में ही दे दिया था. उस दौरान इसने टैरिफ बढ़ाया था. वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही में टैरिफ में खासी बढ़ोतरी के बाद इसके ग्राहक दूसरी टेलीकॉम कंपनियों की ओर कम ही गए. खास कर प्री-पेड वायस सेगमेंट में यह प्रवृति दिख रही थी. शायद इसी से कंपनी को कॉन्फिडेंस मिला और इसने बाद में भी टैरिफ में बढ़ोतरी की. जियो की तुलना में भारती का टैरिफ 25 फीसदी तक महंगा है .

जैफ्रीज ने भारती एयरटेल के भारत में के रेवेन्यू/Ebitda में 8 से 15 फीसदी तक बढ़ोतरी का अनुमान जताया है. ब्रोकरेज फर्म का मानना है कि कंपनी के ARPU में बढ़ोतरी होगी. इसके मुताबिक भारती के इनकम में 17 से 20 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है. लिहाजा इसने BUY की रेटिंग दी है और इसका टारगेट प्राइस बढ़ा कर 925 रुपये कर दिया है.

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News