मुख्य समाचार:

इलाहाबाद बैंक में कर्ज हुआ सस्ता, MCLR 0.05% घटा

नई दरें शनिवार यानी 14 दिसंबर से लागू होंगी.

December 13, 2019 10:39 AM

Allahabad Bank cuts MCLR across tenors by 0.05pc from Saturday

सार्वजनिक क्षेत्र के इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) ने विभिन्न मैच्योरिटी पीरियड के लिए अपने MCLR में 0.05 फीसदी की कटौती कर दी है. नई दरें शनिवार यानी 14 दिसंबर से लागू होंगी. इलाहाबाद बैंक ने कहा कि बैंक की संपत्ति देनदारी प्रबंधन समिति ने मौजूदा MCLR की समीक्षा के बाद विभिन्न मैच्योरिटी पीरियड के लिए इसमें 0.05 फीसदी की कटौती का फैसला किया.

बैंक ने बृहस्पतिवार को शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि बेंचमार्क एक साल की MCLR अब घटकर 8.30 फीसदी रह गई है।. पहले यह 8.35 फीसदी थी. एक साल की MCLR वह मानक दर है, जिस पर ज्यादातर उपभोक्ता कर्ज मसलन वाहन और व्यक्तिगत कर्ज की ब्याज दरें तय होती हैं. शेष परिपक्वता अवधि मसलन एक दिन से लेकर छह माह तक के कर्ज के लिए MCLR 7.80 फीसदी से 8.15 फीसदी रहेगी.

इन बैंकों ने भी कर दी है कटौती

इलाहाबाद बैंक के अलावा SBI, HDFC बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा भी अपने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) में कटौती कर चुके हैं. SBI ने 1 साल अवधि वाले कर्ज के लिए MCLR 0.10 फीसदी घटाई है. अब इस अवधि के कर्ज पर ब्याज दर 8 फीसदी सालाना से घटकर 7.90 फीसदी सालाना पर आ गई है. SBI की नई ब्याज दर 10 दिसंबर 2019 से प्रभावी होगी. HDFC बैंक ने सभी कर्ज अवधि के लिए MCLR में 0.15 फीसदी की कटौती की है. नए रेट 7 दिसंबर 2019 से लागू हो गए हैं. बैंक ऑफ इंडिया ने MCLR में 0.20 फीसदी की कटौती की है, जो 10 दिसंबर 2019 से लागू हो गई है.

1, 2 या 4 साल की नौकरी पर ​नहीं मिलेगी ग्रैच्युटी, जल्द आ सकते हैं नए नियम

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. इलाहाबाद बैंक में कर्ज हुआ सस्ता, MCLR 0.05% घटा

Go to Top