मुख्य समाचार:

फ्लैट या प्लॉट लेने में नहीं खाएंगे धोखा, जरूर याद रखें ये 6 बातें

कौन नहीं चाहता कि उसका खुद का घर हो. भारत में हर साल बड़ी संख्या में लोग प्रॉपर्टी खरीदते और बेचते हैं.

January 18, 2020 6:43 PM

8 things to keep in mind while investing in property

कौन नहीं चाहता कि उसका खुद का घर हो. भारत में हर साल बड़ी संख्या में लोग प्रॉपर्टी खरीदते और बेचते हैं. यही वजह है कि रियल एस्टेट सेक्टर भारतीय अर्थव्यवस्था और इसकी GDP में बड़ा योगदान देता है. लेकिन प्रॉपर्टी खरीदते वक्त कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है. जल्दबाजी या लापरवाही पैसा डुबा भी सकती है और फिर आपके पास अफसोस करने के अलावा कुछ नहीं बचेगा. इस रिपोर्ट में प्रॉपर्टी में पैसा लगाते वक्त ध्यान रखी जाने वाली ऐसी ही 6 बातों का जिक्र है…

1. निवेश से पहले बैकग्राउंड चेक

किसी भी प्रॉपर्टी को खरीदने से पहले उसके बैकग्राउंड की अच्छे से जांच-पड़ताल बेहद अहम है. बैकग्राउंड चेक में प्रॉपर्टी की लोकेशन, बिल्डर के बारे में जांच और यह शामिल होना चाहिए कि प्रॉपर्टी सभी कानूनी मानदंडों को पूरा करती है या नहीं. जो अन्य फैक्टर्स चेक करने चाहिए, उनमें डिलीवरी टाइम और कॉस्टिंग आते हैं. एक बार ये सभी जांच होने के बाद ही प्रॉपर्टी खरीदने की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए.

2. खर्च व मुनाफा करें कैलकुलेट

प्रॉपर्टी में निवेश करना हमेशा ​से गंभीर मसला है और इसके लिए पहले से खर्च और मुनाफे के सावधानीभरे विश्लेषण की जरूरत होती है. अगर आप पहली बार प्रॉपर्टी ​खरीद रहे हैं तो अपने पास मौजूद फंड और कितना और लेने की जरूरत है, इसका सबसे पहले कैलकुलेशन करें. इसके बाद कुल लागत की गणना करें और परिचालन लागत का भी ध्यान रखें.

3. महंगी प्रॉपर्टी से न करें शुरुआत

पहली बार प्रॉपर्टी खरीदने वालों को पहली बी बार में महंगी प्रॉपर्टी की डील नहीं करनी चाहिए. इसकी वजह है कि महंगी प्रॉपर्टी में छिपी हुई लागतें और पेचीदगियां होती हैं, जो दीर्घावधि में आपको परेशान कर सकती हैं. इसलिए बेहतर है कि शुरुआत में ऐसी प्रॉपर्टी का चुनाव किया जाए जो लोअर से मिड रेंज प्राइस ब्रैकेट में आती हो. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इसके पीछे कारण है कि ऐसी प्रॉपर्टी पर भविष्य में रिनोवेशन/रिडेवलपमेट कॉस्ट को मैनेज किया जा सकता है.

4. निवेश लोन प्लान्स की समीक्षा

प्रॉपर्टी की खरीद कैश में करना बुद्धिमानीभरा विकल्प नहीं है. इसके लिए लोन की मदद लेनी चाहिए. लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि किसी भी लोन प्लान का चुनाव कर लिया जाए. पहले शांति से सभी लोन विकल्पों पर गौर करें और फिर एक सही लोन प्लान का चुनाव करें.

5. डाउन पेमेंट रखें तैयार

रियल एस्टेट डील में आपको कुल पेमेंट का कुछ हिस्सा डाउन पेमेंट के तौर पर देना होता है. प्रॉपर्टी खरीदने की प्लानिंग करने से पहले उसकी कीमत का अंदाजा लगा डाउन पेमेंट का इंतजाम कर लें. डाउन पेमेंट अंतिम लागत का 10 फीसदी रह सकता है.

6. चुका दें पुराने कर्ज

इस तथ्य को अक्सर लोग नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन एक्सपर्ट्स के अनुसार नई प्रॉपर्टी में निवेश करने से हपले अपने पुराने कर्ज के स्टेटस का रिव्यू करना जरूरी है. व्यक्ति को अपने निवेश पोर्टफोलियो में कर्ज मौजूद नहीं रखने चाहिए. इसलिए जरूरी है कि रियल स्टेट में पैसे लगाने से पहले अपने पुराने सभी कर्ज जैसे स्टूडेंट लोन, मेडिकल बिल आदि क्लियर कर दें.

(Article By: Vishu Goel, Founder,Infinity Spaces)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. फ्लैट या प्लॉट लेने में नहीं खाएंगे धोखा, जरूर याद रखें ये 6 बातें

Go to Top