मुख्य समाचार:

Independence Day: आर्थिक आजादी में काम आएंगे ये 5 विकल्प, छोटी शुरुआत से बन जाएगी बड़ी रकम

74th Independence Day: आजादी का मतलब सिर्फ बोलने, रहने, घूमने की आजादी आदि से नहीं है, आ​र्थिक आजादी भी इंसान के जीवन का एक बड़ा पहलू है.

Updated: Aug 15, 2020 8:24 AM
74th Independence Day, these investment and savings options will help you for financial freedom, tips for financial freedom this 15th augustआज देश अपना 74वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है.

Independence Day 2020: आज देश अपना 74वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. लेकिन आजादी का मतलब सिर्फ बोलने, रहने, घूमने की आजादी आदि से नहीं है, आ​र्थिक आजादी भी इंसान के जीवन का एक बड़ा पहलू है. आर्थिक आजादी का अर्थ निवेश व बचत से जुड़े ऐसे कदमों से है, जो आपको किसी आपातकालीन परिस्थिति में या फिर आय का जरिया न होने पर फाइनेंस की टेंशन से आजादी दें. ऐसे कदम जिन्हें आज उठाने से आपका और आप पर निर्भर व्यक्तियों को भविष्य सिक्योर हो सके. इसके लिए एक छोटी शुरुआत भी काफी है और इसमें आपकी मदद कर सकते हैं ये 5 विकल्प…

बैंक की जमा योजनाएं

बैंकों की बचत योजनाओं में पैसा डालना पैसे जमा करने का सबसे सरल तरीका माना जाता है. हर बैंक में सेविंग्स अकाउंट, एफडी, आरडी, पीपीएफ जैसे बचत विकल्प मौजूद हैं. अगर आप महिला हैं तो कुछ बैंक महिलाओं के लिए कुछ अतिरिक्त सुविधाओं के साथ अलग सेविंग्स अकाउंट की पेशकश करते हैं, जैसे ICICI बैंक का एडवांटेज वुमन और एडवांटेज वुमन ऑरा सेविंग्स अकाउंट, कोटक महिन्द्रा बैंक का सिल्क वुमन सेविंग्स अकाउंट. सीनियर सिटीजन के लिए भी अलग से सेविंग्स अकाउंट हैं. वहीं कुछ बैंक कुछ खास स्कीम्स की पेशकश भी करते हैं, उदाहरण के तौर पर SBI की मल्‍टी ऑप्‍शन डिपॉजिट (MOD) स्कीम.

SIP

म्युचुअल फंड में निवेश के लिए सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) एक सरल, अच्छा और पॉपुलर मोड बनकर उभरा है. SIP की मदद से म्युचुअल फंड में हर माह एक फिक्स्ड अमाउंट डाला जा सकता है और चाहे जितने साल म्युचुअल फंड में निवेश किया जा सकता है. SIP के जरिए अपनी सहूलियत और जोखिम उठाने की क्षमता के आधार पर इक्विटी या डेट म्युचुअल फंड का चुनाव कर सकते हैं. लेकिन ध्यान रहे कि म्युचुअल फंड में निवेश से पहले इसके बारे में पूरी तरह जान लें. चाहें तो किसी फाइनेंशियल एडवायजर की सलाह ले सकते हैं.

शेयर

इक्विटी मार्केट भले ही उतार-चढ़ाव भरा हो लेकिन सही शेयर का चुनाव, धैर्य और बदलती परिस्थितियों पर नजर रखते हुए इससे भी फंड खड़ा किया जा सकता है. हालांकि शेयर बाजार में निवेश करते वक्त अपनी जोखिम उठाने की क्षमता का आकलन करना बेहद जरूरी है. एक्सपर्ट शेयर बाजार में निवेश शॉर्ट टर्म को न देखते हुए लॉन्ग टर्म के लिए दांव लगाने वालों के लिए बेहतर मानते हैं. इक्विटी मार्केट में निवेश के लिए किसी जानकार की मदद ली जा सकती है.

Independence Day 2020: स्वतंत्रता दिवस पर दोस्तों-रिश्तेदारों को भेजें स्टीकर्स, ऐसे करें डाउनलोड

डाकघर की बचत योजनाएं

सुरक्षित व अच्छे रिटर्न के लिए पोस्‍ट ऑफिस यानी डाकघर की बचत योजनाओं को बेहतर माना जाता है. पोस्‍ट ऑफिस स्कीम्स में निवेश किए गए पूरे पैसे के 100 फीसदी सेफ रहने की गारंटी होती है. सेविंग्स अकाउंट, टाइम डिपॉजिट (TD) अकाउंट, RD, SCSS, PPF, KVP, NSC, MIS और सुकन्या समृद्धि अकाउंट (SSY), इन 9 बचत योजनाओं की पेशकश करता है. इन सेविंग्स स्कीम्स में मौजूदा ब्याज दर 7.6 फीसदी सालाना तक है.

मेडिकल और लाइफ इंश्योरेंस

मौजूदा दौर में हेल्थ इंश्योरेंस और लाइफ इंश्योरेंस एक अहम जरूरत बनकर उभर रहे हैं. हेल्थ इंश्योरेंस बीमारी में होने वाले मोटे खर्च को संभालकर आप पर आर्थिक बोझ पड़ने से बचाता है. इसकी मदद से बिना पैसे की चिंता करे अच्छा इलाज करा सकते हैं. कोरोना काल में तो इसकी अहमियत और बढ़ गई है. वहीं जीवन बीमा व्यक्ति के दुनिया से जाने के बाद उस पर निर्भर लोगों को कुछ हद तक वित्तीय तौर पर राहत देता है. कुछ लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी लाइफ कवर के साथ-साथ सेविंग्स व निवेश के जरिए रिटर्न पाने का भी विकल्प देती हैं. यानी यह बीमा कराने वाले के खुद के भी काम आता है. हालांकि ध्यान रहे कि वित्तीय हालत और जरूरत के हिसाब से सही लाइफ इंश्योरेंस और हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का चुनाव किया जाना चाहिए, तभी यह फायदेमंद साबित होती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Independence Day: आर्थिक आजादी में काम आएंगे ये 5 विकल्प, छोटी शुरुआत से बन जाएगी बड़ी रकम

Go to Top