मुख्य समाचार:

Income Tax के 5 नियम बदले: आप पर क्या असर होगा

80DDB के तहत गंभीर बीमारियों में हुए इलाज खर्च पर 1,00,000 रुपए तक टैक्स छूट मिलेगा.

April 2, 2018 2:01 PM
income tax save, save income tax, fy 18-19, arun jaitley, ltcg tax, save medical tax, mutual fund tax, इनकम टैक्स, business news in hindi80DDB के तहत गंभीर बीमारियों में हुए इलाज खर्च पर 1,00,000 रुपए तक टैक्स छूट मिलेगा. (Representational Image: IE)

केंद्रीय वित्तीय मंत्री अरुण जेटली ने 1 फरवरी को देश का बजट पेश किया था. बजट पेश करने के दौरान अरुण जेटली ने टैक्स के नियमों में कुछ बदलाव की थी जो 1 अप्रैल से लागू हो चुका है. 1 अप्रैल से ही नया वित्तीय वर्ष 2018-19 शुरू हो गया है. हम यहां ऐसे ही पांच बदलावों के बारे में बात करेंगे जो कि व्यक्तिगत टैक्सपेयर को प्रभावित करेगा.

स्टैण्डर्ड डिडक्शन

वित्तीय वर्ष 2018-19 में वेतन और पेंशन क्लास के लोगों को 40 हजार रुपये स्टैण्डर्ड डिडक्शन का लाभ मिलेगा. इसके लागू होने के बाद मेडिकल री-इम्बर्समेंट (15000 रुपये) और ट्रांसपोर्ट अलाउंस (19200 रुपए) हट जाएंगे. स्टैण्डर्ड डिडक्शन से सबसे ज्यादा फायदा कम टैक्स देने वालों को मिलेगा. चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) के अनुसार, मानक कटौती से पेंशनरों और नौकरीपेशा लोगों को काफी फायदा होगा जो कि परिवहन भत्ते और चिकित्सा प्रतिपूर्ति के लिए दावा नहीं करते या फिर योग्य हैं.

बुजुर्गों को मिलेगी ज्यादा छूट

बुजुर्ग लोगों को बैंक और पोस्ट ऑफिस में जमा रकम से मिले 50 हजार रुपये तक के ब्याज को टैक्स फ्री कर दिया गया है. 2017-18 के इनकम टैक्स ऐक्ट के सेक्शन 80TTA के तहत किसी व्यक्ति को ब्याज से हुए 10,000 रुपये तक के लाभ पर टैक्स छूट मिलती रही है.यह लाभ सभी फिक्स्ड डिपॉजिट और आवर्ती जमा योजनाओं से ब्याज आय पर भी उपलब्ध होगा.

इलाज खर्च पर टैक्स छूट की सीमा बढ़ी

80DDB के तहत गंभीर बीमारियों में हुए इलाज खर्च पर 1,00,000 रुपए तक टैक्स छूट मिलेगा. मौजूदा वक्त में 80 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को 80,000 रुपये और 60 से अधिक उम्र के लोगों को 60,000 रुपए की छूट इस मद में दी जाती थी.

LTCG टैक्स फिर से लागू

शेयर बाजार या इक्विटी लिंक्‍ड म्यूच्यूअल फंड में निवेश पर एक साल में अगर 1 लाख रुपए से ज्यादा की कमाई होती है तो इस पर 10 फीसदी LTCG (लॉग टर्म कैपिटल गेन टैक्‍स) लगेगा. 31 जनवरी 2018 तक हुए मुनाफे टैक्स मुक्त रहेंगे. जो शेयर लिस्टेड नहीं हैं उन शेयर पर किसी तरह का LTCG टैक्स नहीं लगेगा.

हेल्थ इंश्योरेंस पर टैक्स छूट

अब साल भर से ज्यादा के हेल्थ पॉलिसी के प्रीमियम पर उतने साल की छूट मिलेगी जितने साल के लिए पॉलिसी ली गई है. इसे ऐसे समझें, दो साल के इंश्योरेंस कवर के लिए 40,000 रुपये देने पर इंश्योरेंस कंपनी अगर 10 फीसदी छूट दे रही है तो आप दोनों साल 20-20 हजार रुपये का टैक्स डिडक्शन क्लेम कर सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. निवेश-बचत
  3. Income Tax के 5 नियम बदले: आप पर क्या असर होगा

Go to Top