सर्वाधिक पढ़ी गईं

क्रूड में 100% डिस्काउंट और साथ में कैश बैक भी, क्यों बेचने वाले ने खरीदने वालों को किया पेमेंट

WTI Crude: सोमवार को अमेरिकी बेंचमार्क क्रूड यानी डब्ल्यूटीआई के लिए ब्लैक मंडे साबित हुआ है.

April 21, 2020 9:51 AM
WTI crude for the month of May plunged more than 190 per cent, black monday for WTI crude, storage uncertainty, crude in negative zone, WTI may contract, discount and cashback on crudeसोमवार को अमेरिकी बेंचमार्क क्रूड यानी डब्ल्यूटीआई के लिए ब्लैक मंडे साबित हुआ है.

सोमवार को अमेरिकी बेंचमार्क क्रूड यानी डब्ल्यूटीआई के लिए ब्लैक मंडे साबित हुआ है. सोमवार को बमेरिकी कच्चे तेल की कीमतों में ऐतिहासिक गिरावट देखने को मिली और इसका भाव माइनस में चला गया. सोमवार को अमेरिकी क्रूड इंटरनेशनल मार्केट में माइनस 37.63 डॉलर प्रति बैरल बिका है. हालांकि मंगलवार को कीमतों में कुछ रिकवरी आई है लेकिन अभी भी इसका भाव 1 डॉलर से कम बना हुआ है. बता दें कि यह भाव मई वायदा के लिए है. जून वायदा अभी भी पॉजिटिव ट्रेड कर रहा है. एक्सपर्ट का कहना है कि सोमवार को हालत यह रही कि क्रूड बेचने वालों ने क्रूड खरीदने वालों को पेमेंट किया.

क्यों आई क्रूड में इतनी बड़ी गिरावट

रेलिगेयर ब्रोकिंग की VP-मेटल, एनर्जी एंड करंसी रिसर्च, सुगंधा सचदेवा का कहना है कि एक तो दुनिया इस समय कोरोना वायरस महामारी से जूझ रही है, जिससे दुनियाभर में लॉकडाउन की स्थिति है. इस वजह से क्रूड की ग्लोबल डिमांड बहुत नीचे आ गई है. दूसरा मई WTI कांट्रैक्ट की एक्सपायरी के चलते भी यह स्थिति बनी. स्टोरेज को लेकर अनिश्चितता है, खरीददारी हें नहीं. ऐसे में एक्सपायरी के पहले स्थिति यह बनी कि क्रूड बेचने वालों ने खरीदने वालों को इसके बदले भुगतान किया.

अमेरिका में क्रूड ओवरफ्लो की स्थिति में

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट, कमोडिटी एंड करंसी, अनुज गुप्ता का कहना है कि मौजूदा समय में देखें तो अमेरिका के पास अभी क्रूड का सटोरेज क्षमता से अधिक हो चुका है. वहां स्टोरेज सुविधाएं अपनी पूर्ण क्षमता तक पहुंच चुकी हैं. कच्चे तेल के सभी टैंक भरने की स्थिति में है. सी एरिया में जो सटोरेज की जगह है, वह भी जल्द भर जाएगी. ऐसे में नए क्रूड के लिए स्टोरेज को खाली करना भी जरूरी है. इसलिए औने पौने दाम पर भी क्रूड नहीं बिका तो तेल कंपनियों ने 100 फीसदी उिस्काउंट के साथ एक तरह से कैश बैक आफर करना शुरू कर दिया.

जून वायदा में यह गिरावट नहीं

केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया के अनुसार अमेरिकी कच्चे तेल में यह गिरावट सिर्फ मई महीने के लिए है. WTI जून वायदा अभी भी 20.43 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर ट्रेड कर रहा है. हालांकि जून वायदा में भी सोमवार को 4.60 डॉलर की गिरावट रही है. मई महीने की डिलीवरी के लिए तेल सौदे का आज यानी मंगलवार को आखिरी दिन है, लेकिन उम्मीद के मुताबिक तेल की मांग नहीं होने की वजह से तेल की कीमतों में भारी गिरावट देखी गई. एक तरह से तेल कंपनियां अपना स्टॉक खाली कर रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. क्रूड में 100% डिस्काउंट और साथ में कैश बैक भी, क्यों बेचने वाले ने खरीदने वालों को किया पेमेंट

Go to Top