सर्वाधिक पढ़ी गईं

BitCoin पर अल सल्वाडोर को बड़ा झटका, विश्व बैंक ने तकनीकी सहायता से किया इनकार

क्रिप्टोकरेंसी BitCoin को दुनिया में सबसे पहले दर्जा देने वाले अल सल्वाडोर को इस मसले पर विश्व बैंक से निराशा हाथ लगी है.

Updated: Jun 17, 2021 11:42 AM
World Bank rejects El Salvador request for help on bitcoin implementationविश्व बैंक ने बुधवार को कहा कि वह अल सल्वाडोर द्वारा बिटकॉइन को इंप्लीमेंट करने में कोई सहायता नहीं दे सकता है.

क्रिप्टोकरेंसी BitCoin को दुनिया में सबसे पहले दर्जा देने वाले अल सल्वाडोर को इस मसले पर विश्व बैंक से निराशा हाथ लगी है. विश्व बैंक ने बुधवार को कहा कि वह अल सल्वाडोर द्वारा बिटकॉइन को इंप्लीमेंट करने में कोई सहायता नहीं दे सकता है. विश्व बैंक ने इसके पीछे पर्यावरण और पारदर्शिता से जुड़ी चिंता को वजह बताया. विश्व बैंक के प्रवक्ता ने ई-मेल के जरिए इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वह करेंसी ट्रांसपैरेंसी और रेगुलेटरी प्रॉसेसेज को लेकर अल सल्वाडोर की मदद करने के लिए प्रतिबद्ध हैं लेकिन बिटकॉइन को लेकर कोई मदद संभव नहीं है.
इससे पहले बुधवार की सुबह सल्वाडोरन वित्त मंत्री अलेजांद्रो जेलाया ने जानकारी दिया था कि अमेरिकी डॉलर के साथ-साथ बिटकॉइन को भी लीगल टेंडर के रूप में प्रयोग करने के लिए विश्व बैंक से तकनीकी सहायता मांगी गई है. इस पर विश्व बैंक ने नकारात्मक रुख स्पष्ट कर दिया है. अल सल्वाडोर की सरकार ने विश्व बैंक के फैसले पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

आईएमएफ के साथ सफल रही चर्चा

जेलाया ने बुधवार की सुबह यह भी जानकारी दी इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड (आईएमएफ) के साथ नेगोशिएशंस सफल रहा. हालांकि आईएमएफ ने पिछले हफ्ते कहा था कि अल सल्वाडोर द्वारा बिटकॉइन को अपनाना मैक्रोइकोनॉमिक, वित्तीय और कानूनी मामला है. जेलाया ने कहा कि आईएमएफ बिटकॉइन को अपनाने के खिलाफ नहीं है. इस पर मॉनीटरी फंड की टिप्पणी प्राप्त नहीं हो सकी है.

Bitcoin को अल-सल्वाडोर में लीगल करेंसी का दर्जा, ऐसा करने वाला दुनिया का पहला देश बना

पिछले हफ्ते अल सल्वाडोर ने BitCoin को दी कानूनी मान्यता

अल-सल्वाडोर ने पिछले हफ्ते बिटकॉइन को किसी भी सौदे के लिए कानूनी करेंसी के तौर पर मान्यता दे दी. अल-सल्वाडोर की संसद में बिटकॉइन को 62 की तुलना में 84 वोटों से मंजूरी दी गई. राष्ट्रपति नायिब बुकेले ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि बिटकॉइन और अमेरिकी डॉलर के बीच एक्सचेंज रेट अब स्वतंत्र तौर पर स्थापित होने लगेंगे. कीमतों को बिटकॉइन में बताया जा सकेगा. बिटकॉइन में लेन-देन कैपिटल गेन्स टैक्स के दायरे में नहीं आएंगे. डॉलर में किए जाने वाले पेमेंट अब बिटकॉइन में भी किए जा सकेंगे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. BitCoin पर अल सल्वाडोर को बड़ा झटका, विश्व बैंक ने तकनीकी सहायता से किया इनकार
Tags:Bitcoin

Go to Top