मुख्य समाचार:
  1. अमेरिका की खुली धमकी! भारत ने नहीं मानी बात तो लग सकते हैं कड़े प्रतिबंध: रिपोर्ट

अमेरिका की खुली धमकी! भारत ने नहीं मानी बात तो लग सकते हैं कड़े प्रतिबंध: रिपोर्ट

रिपोर्ट में बताया गया कि अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के इस कदम को ईरान पर 'अत्यधिकम दबाव' बनाने के तौर पर देखा जा रहा है.

April 22, 2019 5:40 PM
US warns India, Iranian oil imports, India Iranian oil imports, US sanctions, US sanctions on Iran, Persian Gulf nation, Tehran, PM Modi, Mike Pompeo, Donald Trumpरिपोर्ट में बताया गया कि अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के इस कदम को ईरान पर ?अत्यधिकम दबाव? बनाने के तौर पर देखा जा रहा है.

US Warning! अमेरिका भारत और चीन समेत 5 देशों को कड़े प्रतिबंधों के लिए तैयार रहने की चेतावनी दे सकता है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ट्रम्प प्रशासन ने पांचों देशों से यह बताने के लिए तैयार है कि वे ईरान से तेल का आयात पूरी तरह खत्म करे नहीं वर्ना कड़े प्रतिबंधों के लिए तैयार रहेें.

ट्रम्प प्रशासन चीन, भारत और अपने सहयोगी देशों जापान, दक्षिण कोरिया और तुर्की को यह बताने के लिए तैयार है कि अगर उन्होंने ईरान से तेल का आयात जारी रखा तो उन्हें भी अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा. अमेरिकी की तरफ से ईरान न्यूक्लियर डील से बाहर निकलने और उस पर कई सख्त प्रतिबंध लगाने के फैसले के करीब एक साल बाद यह फैसला सामने आया है.

वाशिंगटन पोस्ट ने रविवार को एक रिपोर्ट में बताया कि अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के इस कदम को ईरान पर ‘अत्यधिकम दबाव’ बनाने के तौर पर देखा जा रहा है. पिछले साल अमेरिका ने भारत, चीन और जापान समेत 8 देशों को ईरान से तेल आयात करने की 180 दिन की अस्थायी छूट दी थी. इस फैसले में यह कहा गया था कि ये देश ईरान से तेल आयात करते रहे लेकिन इनमें नियमित तौर पर उल्लेखनीय गिरावट आनी चाहिए.

2 मई को समाप्त हो रही है छूट की अवधि

तीन अमेरिकी अधिकारियों ने रविवार को बताया कि विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ सोमवार को यह घोषणा कर सकते हैं कि प्रशासन पांच देशों को प्रतिबंधों में छूट नहीं देगा. इस छूट की अवधि 2 मई को समाप्त हो रही है.

रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका की ओर से भारत को यह छूट खाड़ी देश ओमान के विकास और युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में रणनीतिक तौर पर अहम रोल को देखते हुए दी गई थी.  अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या इन पांचों में किसी देश को अपनी खरीद को निपटाने के लिए अतिरिक्त समय मिलेगा या उन्होंने ईरान से तेल का आयात फौरन नहीं रोका तो 3 मई को उन पर अमेरिकी प्रतिबंध लगाए जाएंगे.

पोम्पिओ की घोषणा के मद्देनजर अधिकारियों ने गोपनीयता की शर्त पर यह जानकारी दी. नवंबर के बाद से तीन देशों इटली, यूनान और ताइवान ने ईरान से तेल का आयात रोक दिया. हालांकि अन्य पांच देशों ने आयात नहीं रोका और वे प्रतिबंधों में छूट को बढ़ाने की जुगत में लगे हैं.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop