सर्वाधिक पढ़ी गईं

US Lifts Travel Ban: अमेरिका ने 20 महीने बाद हटाईं विदेशी यात्रियों पर लगी पाबंदियां, लेकिन भारत समेत तमाम देशों के लोगों को पूरी करनी होंगी ये शर्तें

US New Travel Guidelines: अमेरिका ने कोरोना महामारी के चलते लगाए गए सख्त प्रतिबंधों में ढील देते हुए करीब 20 महीने बाद अपनी सीमाएं विदेशियों के लिए खोल दी हैं.

Updated: Nov 08, 2021 4:02 PM
US calling America lifts 20-month-old Covid travel lockdown for international flyers – Check new rules vaccination status detailsअमेरिका के अधिकतर राज्यों में आवाजाही के प्रतिबंधों में ढील मिल चुकी है लेकिन स्थानीय स्तर पर कुछ स्थानों पर कुछ प्रतिबंध लागू हैं.

US Travel Guidelines: अमेरिका जाने का इंतजार अब खत्म हुआ. कोरोना महामारी के चलते लगाए गए सख्त प्रतिबंधों के करीब 20 महीने बाद अमेरिका ने अपनी सीमाओं को विदेशियों के लिए खोल दिया है. हालांकि अभी सिर्फ वैक्सीन की सभी डोज लगवाए हुए लोगों को ही अमेरिका जाने की मंजूरी मिली है लेकिन 18 वर्ष से कम बच्चों को इससे छूट है. अमेरिका के अधिकतर राज्यों में आवाजाही के प्रतिबंधों में ढील मिल चुकी है लेकिन स्थानीय स्तर पर कुछ स्थानों पर कुछ प्रतिबंध लागू हैं. हवाई, न्यू मैक्सिको, ओरेजन और वाशिंगटन समेत कई में मास्क पहनना जरूरी होगा.

Tickets Payment in Installments: प्लेन के टिकट का पैसा चुकाएं 12 किश्तों में, इस विमान कंपनी ने पेश किया शानदार ऑफर

अमेरिका जाने वाले यात्रियों के लिए तय दिशा-निर्देश

  • 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को वैक्सीनेशन से छूट दी गई है.
  • विमान कंपनियों को यात्रियों के वैक्सीनेशन को लेकर सभी पेपर व डिजिटल दस्तावेज जुटाने होंगे और इसे प्रमाणित करना होगा. यात्री विमान कंपनी के मोबाइल ऐप पर इस प्रक्रिया को देख सकेंगे.
  • जो विमान कंपनी यात्रियों की जानकारी को प्रमाणित करने में सफल नहीं हो पाती हैं, उन पर एक बार उल्लंघन करने पर 35 हजार डॉलर (25.92 लाख करोड़ रुपये) का जुर्माना लग सकता है.
  • यत्रियों को टिकट बुक करने से पहले फुल्ली वैक्सीनेटेड होने के लिए सीडीसी (सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन) क्राइटेरिया से होकर गुजरना होगा.

Five years of Demonetisation: प्रियंका गांधी ने नोटबंदी को लेकर साधा मोदी सरकार पर निशाना, शशि थरूर ने बताया तुगलक के बाद का सबसे बुरा फैसला

  • फुल वैक्सीनेशन स्टेटस के अलावा यात्रियों को निगेटिव कोविड टेस्ट रिपोर्ट भी पेश करनी होगी. यात्रियों को फ्लाइट डिपार्चर से तीन दिनों के भीतर की निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट दिखानी होगी.
  • जिन्हें वैक्सीन की डोज नहीं लगी है या वैक्सीनेशन की जरूरतों से छूट मिली हुई है, उन्हें डिपार्चर से एक दिन के भीतर की टेस्ट रिपोर्ट दिखानी होगी.
  • कस्टम व बॉर्डर प्रोटेक्शन सभी यात्रियों को सीबीपी वन ऐप का प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा क्योंकि लैंड व फेरी क्रॉसिंग्स पर यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी का अनुमान है.

Paytm IPO: पेटीएम के रिकॉर्ड आईपीओ में पैसे लगाए या नहीं, एक्सपर्ट की ये है राय; चीन की दिग्गज कंपनी की हिस्सेदारी होगी कम

  • अमेरिका में सीडीसी वर्कर्स यात्रियों की स्पॉट चेकिंग करेंगे. लैंड बॉर्डर्स पर कस्टम एंड बॉर्डर प्रोटेक्शन (सीबीपी) एजेंट्स वैक्सीन प्रूफ चेक करेंगे. ऐसे में सभी यात्रियों को अपनी पहचान और वैक्सीनेशन डॉक्यूमेंट्स तैयार रखने की सलाह दी गई है.
  • वैक्सीन कार्ड का अंग्रेजी में होना जरूरी नहीं है.
  • यात्रियों को अमेरिका जाने की वजह दिखानी होगी और अगर सीबीपी ऑफिसर के मांगने पर फुल्ली वैक्सीनेटेड का प्रमाण भी दिखाना होगा.
  • जमीन और फेरी क्रॉसिंग पर कोविड टेस्ट रिपोर्ट दिखाने की जरूरत नहीं होगी.
  • अमेरिकी एफडीए (फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन) और विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा मंजूर की गई वैक्सीन की डोज लगवाए लोगों को ही अमेरिका जाने की मंजूरी मिलेगी. इसमें भारत की एस्ट्राजेनेका, मोडेर्ना, जॉनसन एंड जॉनसन, कोवैक्सीन, फाइजर/बॉयोएनटेक, सिनोवैक और सिनोफॉर्म वैक्सीन शामिल है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. US Lifts Travel Ban: अमेरिका ने 20 महीने बाद हटाईं विदेशी यात्रियों पर लगी पाबंदियां, लेकिन भारत समेत तमाम देशों के लोगों को पूरी करनी होंगी ये शर्तें

Go to Top