मुख्य समाचार:
  1. अमेरिका ने सुपरकंप्यूटिंग क्षेत्र के पांच चीनी समूहों को किया ब्लैक लिस्ट, राष्ट्रीय सुरक्षा का दिया हवाला

अमेरिका ने सुपरकंप्यूटिंग क्षेत्र के पांच चीनी समूहों को किया ब्लैक लिस्ट, राष्ट्रीय सुरक्षा का दिया हवाला

इन पांच कंपनियों में सुपर कंप्यूटर बनाने वाली सुगोन, उसकी तीन अनुषंगी कंपनियां भी शामिल हैं.

June 22, 2019 4:03 PM

US blacklists 5 Chinese groups working in supercomputing

अमेरिका ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए सुपर कंप्यूटिंग क्षेत्र में काम करने वाले पांच चीनी कंपनी समूहों को ब्लैक लिस्ट कर दिया है. इन पांच कंपनियों में सुपर कंप्यूटर बनाने वाली सुगोन, उसकी तीन अनुषंगी कंपनियां भी शामिल हैं. सुगोन मुख्य तौर पर अमेरिका की इंटेल, एनवीडिया और एडवांस माइक्रो डिवाइसेस जैसी कंपनियों के उपकरणों की आपूर्ति पर निर्भर करती है. इसके अलावा वुक्सी जियांगनन इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटिंग टेक्नोलॉजी को भी इस सूची में डाला गया है.

अमेरिका के वाणिज्य विभाग ने शुक्रवार को इस कार्रवाई को अंजाम दिया. इस कदम से अगले सप्ताह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग के बीच होने वाली बातचीत के लिए मुश्किल खड़ी हो सकती है. अमेरिका और चीन दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं हैं और इस वक्त व्यापार संबंधी विवादों से गुजर रही हैं. विवाद को सुलझाने के लिए ही दोनों देशों के प्रमुखों की बैठक हो रही है.

इन समूहों की गतिविधि राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफः US

वाणिज्य विभाग का कहना है कि इन समूहों की गतिविधियां अमेरिका की विदेशी नीति के हितों और राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफ हैं. अमेरिका के मुताबिक सुगोन और वुक्सी पर चीन के सैन्य शोध संस्थान का मालिकाना हक है. यह चीन की सेना के आधुनिकीकरण में मदद करने वाले अगली पीढ़ी के बेहतर क्षमता वाले कंप्यूटिंग के विकास में संलग्न हैं.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop