सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19 Vaccine Updates: एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड वैक्सीन की जांच करेगा ब्रिटिश रेग्युलेटर, रूस ने दिया स्पुतनिक-5 के साथ ट्रॉयल का सुझाव

Covid-19 Vaccine Updates: एस्ट्राजेनेका के चीफ एग्जेक्यूटिव के मुताबिक अब कम डोज के साथ वैक्सीन का परीक्षण किया जाएगा.

Updated: Nov 27, 2020 11:32 AM
UK asks regulator to assess AZ-Oxford vaccine amid questions and russia sputnik v developers said to try combining vaccinesएस्ट्राजेनेका के रिसर्च चीफ के मुताबिक गलती से सिंगल डोज ट्रॉयल हुआ है. (Image-Reuters)

AstraZeneca oxford university Covid-19 Vaccine Updates: ब्रिटिश सरकार ने शुक्रवार को दवा नियामक को एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा तैयार किए गए कोरोना वैक्सीन को प्रयोग के लिए मंजूरी को लेकर औपचारिक तौर पर पूछा है. ब्रिटिश सरकार का यह कदम ऐसे समय में आया है जब वैक्सीन निर्माताओं ने यह स्वीकार किया कि वैक्सीन के परीक्षण के जो बेहतर परिणाम आए हैं, वे डोज एरर (दो की बजाय एक ही शॉट देने) का नतीजा हैं. एस्ट्राजेनेका के चीफ एग्जेक्यूटिव के मुताबिक अब कम डोज के साथ वैक्सीन का वैश्विक परीक्षण किया जाएगा. इन सबके बीच रूसी वैक्सीन स्पुतनिक 5 के डेवलपर्स ने एस्ट्राजेनेका से कहा है कि उन्हें वैक्सीन की क्षमता (एफिकेसी) को बढ़ाने के लिए अपने एक्सपेरिमेंटल शॉट को रसियन शॉट के साथ मिलाकर परीक्षण करना चाहिए. दावों के मुताबिक कोरोना संक्रमण से रोकथाम के मामले में स्पुतनिक वैक्सीन 92 फीसदी तक प्रभावकारी है जबकि एस्ट्राजेनेका का कहना है कि उसकी वैक्सीन 70 फीसदी तक प्रभावकारी है जो 90 फीसदी तक प्रभावकारी हो सकती है.

सिंगल डोज के साथ होगा क्लीनिकल ट्रॉयल

ब्लूमबर्ग न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक, एस्ट्राजेनेका के चीफ एग्जेक्यूटिव पास्कल सोरिओट ने कहा है कि कंपनी जल्द ही लोवर डोज के साथ अपनी वैक्सीन का परीक्षण कर सकती है जिसने फुल डोज (दो शॉट) ज्यादा बेहतर परिणाम दिए हैं. अभी अमेरिका में वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रॉयल जारी है. उन्होंने कहा कि अब उनकी कोशिश कम डोज के परिणाम को वैलिडेट करना है. हालांकि उनका मानना है कि इस इंटरनेशनल स्टडी में कम समय लगेगा क्योंकि कम डोज पर यह अधिक प्रभावकारी है, इसलिए इसमें कम मरीजों की जरूरत पड़ेगी.

दो शॉट के लिए लाइसेंस लेकर संशोधन का सुझाव

ब्रिटिश स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक के मुताबिक मेडिसिन्स एंड हेल्थकेयर प्रॉडक्ट्स रेगुलेटरी (एमएचआरए) से यह जानकारी मांगी गई है कि वैक्सीन सुरक्षा मानकों पर खरी है या नहीं. नियामक ने कहा है कि वह वैक्सीन को मंजूरी के लिए अभी यह नहीं कह सकते कि इसमें कितना समय लग सकता है. एमएचआरए के चीफ एग्जेक्यूटिव जून रायने ने कहा कि मानकों पर खरा उतरने पर ही वैक्सीन को मंजूरी दी जाएगी. लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन में इम्यूनोलॉजी की प्रोफेसर हेलन फ्लेचर का कहना है, ब्रिटिश वैक्सीन हाई डोज (दो शॉट) के लिए लाइसेंस ले सकती है और इसके बाद तुरंत यह लो डोज के प्रयोग के लिए संशोधन की मांग कर सकती है. हालांकि इसके लिए उनके पास पर्याप्त डेटा होना चाहिए.

ब्रिटेन कर चुकी है 10 करोड़ डोज ऑर्डर

ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका ने वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रॉयल में पाया कि जिन्हें इसके दो डोज दिए गए, उन पर यह 62 फीसदी प्रभावकारी है और जिन्हें एक डोज दिया गया, उन पर यह 90 फीसदी तक प्रभावकारी है. ब्रिटिश सरकार ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की 10 करोड़ डोज के लिए ऑर्डर किया है और उसकी योजना इस साल के अंत तक मंजूरी मिलने पर वितरित करने की है.

अन्य वैक्सीन की तुलना में सस्ता और अफोर्डेबल

एस्ट्राजेनेका व ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा तैयार की गई वैक्सीन का इसलिए ज्यादा इंतजार किया जा रहा है क्योंकि इसे फाइजर और मोडेर्ना द्वारा तैयार की गई वैक्सीन की तरह ठंडे ताप पर रखने की जरूरत नहीं है. इस वजह से इसे वितरित करने में आसानी होगी, खासतौर से विकासशील देशों में. इसके अलावा यह सस्ता भी होगा क्योंकि कंपनी ने कहा है कि महामारी के समय वह इससे लाभ नहीं कमाएगी.

गलती से हुआ सिंगल डोज ट्रॉयल

सोरिओट का कहना है कि अमेरिकी नियामक एफडीए से इस वैक्सीन के लिए मंजूरी मिलने में अधिक समय लग सकता है क्योंकि यह एजेंसी अमेरिका के अलावा कहीं और वैक्सीन स्टडी को लेकर मंजूरी देने से इनकार कर सकती है. एस्ट्राजेनेका के रिसर्च चीफ मेने पांगलोस ने कुछ दिन पहले राउटर्स से कहा था कि कोरोना वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रॉयल के दौरान कुछ वालंटियर्स को गलती से कम डोज दिए गए. उनका मानना है कि यह प्रयोग का हिस्सा नहीं था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Covid-19 Vaccine Updates: एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड वैक्सीन की जांच करेगा ब्रिटिश रेग्युलेटर, रूस ने दिया स्पुतनिक-5 के साथ ट्रॉयल का सुझाव

Go to Top