मुख्य समाचार:
  1. 6 महीने बाद नहीं होगी तेल की कमी, भारत न करे चिंता: UAE

6 महीने बाद नहीं होगी तेल की कमी, भारत न करे चिंता: UAE

भारत उन सात देशों में है,​ जिन्हें अमेरिका ने इस मामले में राहत दी है.

November 29, 2018 8:01 PM
UAE downplays fuel shortage concern, says it has strongly stood with India to cover deficitएई ने कहा है कि यह समयसीमा समाप्त होने के बाद भारत को चिंता करने की जरूरत नहीं है. यूएई और सऊदी अरब यह सीमा समाप्त होने के बाद भारत के साथ मजबूती के साथ खड़े होंगे और पुरानी कमी की भरपाई करेंगे. (Reuters)

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने भारत की ईंधन के बढ़ते दाम और कच्चे तेल की संभावित कमी को लेकर भारत की चिंता को खारिज कर दिया है. बता दें कि अमेरिका ने भारत को ईरान से तेल आयात बंद करने के लिए छह महीने की छूट दी है.

यूएई ने कहा है कि यह समयसीमा समाप्त होने के बाद भारत को चिंता करने की जरूरत नहीं है. यूएई और सऊदी अरब यह सीमा समाप्त होने के बाद भारत के साथ मजबूती के साथ खड़े होंगे और पुरानी कमी की भरपाई करेंगे. भारत उन सात देशों में है,​ जिन्हें अमेरिका ने इस मामले में राहत दी है.

इसी सप्ताह मीडिया से बातचीत में विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अर्जेंटीना में जी-20 शिखर सम्मेलन में वैश्विक शिखर सम्मेलन में कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव का मुद्दा उठाएंगे.

महाराष्ट्र रिफाइनरी के लिए अगले कुछ सप्ताह में जमीन हो जाएगी आवंटित

महाराष्ट्र में भारत, यूएई और सऊदी अरब की प्रस्तावित रिफाइनरी को लेकर जारी विरोध के बीच भारत में खाड़ी देश के दूत अहमद अलबाना ने कहा कि राज्य सरकार आगामी सप्ताहों में इसके लिए जमीन का आवंटन करेगी.

वैश्विक स्तर पर विभिन्न बाजारों की मांग से तय होते हैं ईंधन के दाम

यह पूछे जाने पर कि क्या छह माह की राहत की अवधि समाप्त होने बाद मांग-आपूर्ति असंतुलन की स्थिति बनेगी, दूत ने कहा कि ईधन कीमतें वैश्विक स्तर पर विभिन्न बाजारों की मांग से तय होती हैं.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop