मुख्य समाचार:

इजरायली वैज्ञानिक कोरोनावायरस Covid-19 की वैक्सीन का जल्द करेंगे एलान- रिपोर्ट में दावा

कोरोनो को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने महामारी घोषित कर दिया है. दुनियाभर में इससे मरने वालों की संख्या 4600 से ज्यादा हो गई है.

March 12, 2020 4:38 PM
Scientists in Israel develop coronavirus vaccines! likely to announce in coming days claims Israeli daily Ha'aretzकोरोनो को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने महामारी घोषित कर दिया है. (Reuters)

Coronavirus Vaccine: इजरायल में वैज्ञानिक आने वाले दिनों में यह एलान कर सकते हैं कि उन्होंने नए कोरोनावायरस कोविड-19 (Covid-19) के लिए वैक्सीन डेवलप कर ली है. इजरायली मीडिया ने एक रिपोर्ट में यह दावा किया है. कोरोनो को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने महामारी घोषित कर दिया है. दुनियाभर में इससे मरने वालों की संख्या 4600 से ज्यादा हो गई है.

इजरायली समाचार पत्र Ha’aretz ने गुरुवार को मेडिकल सूत्रों के हवाले से बताया कि इजरायल के इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल रिसर्च के वैज्ञानिकों ने प्रधानमंत्री कार्यालय की निगरानी में हाल ही में जैविक तंत्र और वायरस के गुणों को समझने में अहम सफलता हासिल की है. वैज्ञानिक इस बीमारी के उपचार की क्षमता होगी. इसमें वायरस से पीड़ित लोगों के लिए एंटीबॉडी बनाना और वैक्सीन डेवलप करना शामिल हैं. रिपोर्ट के अनुसार, वैक्सीन डेवलपमेंट की प्रक्रिया को अभी कई परीक्षण और प्रयोगों से गुजरना है. ऐसे में प्रभावी और सुरक्षित वैक्सीन आने में कई महीने लग सकते हैं. हालांकि, इजरायल के रक्षा मंत्रालय ने समाचार पत्र की इन खबरों की पुष्टि नहीं की है.

Coronavirus: भारत में कुल 73 मामले, केरल के बाद महाराष्ट्र-यूपी में सबसे ज्यादा केस; IPL पर भी संकट

रक्षा मंत्रालय ने समाचार पत्र Ha’aretz को बताया कि कोरोना वायरस के लिए वैक्सीन खोजने या टेस्टिंग किट डेवलप करने के लिए जैविक संस्थान के प्रयासों में कोई सफलता नहीं मिली है. जैविक संस्थान एक व्यवस्थित कार्य योजना के तहत काम करता है और इसमें समय लगेगा. यदि और कुछ होगा तो इसके बारे में ​विधिवत जानकारी दी जाएगी.

रक्षा मंत्रालय का इनकार

रक्षा मंत्रालय का कहना है कि जैविक संस्थान दुनिया की प्रतिष्ठित अनुसंधान और विकास एजेंसी है. इसमें अनुभवी और जानकार रिसर्चर और वैज्ञानिक हैं. इसका इंफ्रास्ट्रक्चर भी काफी उन्नत है. इस संस्थान में 50 से अधिक अनुभवी वैज्ञानिक काम कर रहे हैं जो वायरस के लिए उपचार विकसित करने पर रिसर्च कर रहे हैं. इंस्टीट्यूट फॉर बायोलॉजिकल रिसर्च, मध्य इजरायल के Nes Tziona में स्थित है. इसकी स्थापना 1952 में इजरायल सशस्त बल के साइंस कॉर्प्स की यूनिट के रूप में की गई थी. बाद में यह एक नागरिक संगठन बन गया.

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री बेंजमिन नेत्यान्याहू ने संस्थान को 1 फरवरी को कोविड 19 के लिए वैक्सीन डेवलप करने के आदेश दिए हैं. समाचार पत्र का कहना है कि इस तरह की वैक्सीन विकसित करने की सामान्य प्रक्रिया में लंबा समय लगता है. इसका जानवरों पर प्री क्लिनिकल ट्रायल होता है. इसके बाद क्लिनिकल ट्रायल होता है. इसे साइड इफैक्ट की भी जांच होती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. इजरायली वैज्ञानिक कोरोनावायरस Covid-19 की वैक्सीन का जल्द करेंगे एलान- रिपोर्ट में दावा

Go to Top