मुख्य समाचार:

RIL ने अमेरिका में फिर शुरू की लॉबिंग, पेट्रोलियम से लेकर रिटेल बिजनेस तक में सक्रिय है ग्रुप

अमेरिकी सीनेट में लॉबिंग के बारे में दायर नयी रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस ने लॉबिंग के लिए अब एवरशेड्स सदरलैंड को 26 अप्रैल को चुना है.

June 3, 2019 9:22 AM
Reliance Industries resumes lobbying in USअमेरिकी सीनेट में लॉबिंग के बारे में दायर नयी रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस ने लॉबिंग के लिए अब एवरशेड्स सदरलैंड को 26 अप्रैल को चुना है. (Reuters)

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) ने अमेरिका में फिर से लॉबिंग करानी शुरू कर दी है. कंपनी ने इसके लिए एक नयी लॉबिंग कंपनी को चुना है. रिलायंस ने जनवरी 2013 में अमेरिका में लॉबिंग बंद कर दी थी. अमेरिका में आर्थिक प्रतिबंधाें के संबंध में अपना पक्ष रखने के लिए समूह ने नए लाॅबिस्ट की नियुक्ति की है.

पेट्रोलियम से लेकर खुदरा कारोबार में लगा यह कंपनी समूह उस समय वहां प्रभावी लोगों के बीच अपनी बात आगे बढ़ाने के लिए लाबिंग सेवा कंपनी बार्बोर ग्रिफिथ एंड रोजर्स एलएलसी को ठेका दे रखा था. अमेरिकी सीनेट में लॉबिंग के बारे में दायर नयी रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस ने लॉबिंग के लिए अब एवरशेड्स सदरलैंड को 26 अप्रैल को चुना है.

उपलब्ध जानकारी के अनुसार पंजीयन की प्रभावी तारीख दो फरवरी 2019 है. एवरशेड्स ने अपनी पहली तिमाही रिपोर्ट मे कहा है कि उसे 31 मार्च 2019 को समाप्त हुई तिमाही के लिए रिलायंस ने 1,40,000 डॉलर दिए हैं. उल्लेखनीय है कि अमेरिका में सरकारी विभागों एवं अन्य संस्थानों में लॉबिंग कानूनी है. हालांकि सभी पंजीकृत लॉबिंग कंपनियों को हर तिमाही में मिले भुगतान तथा गतिविधियों की जानकारी देनी होती है.

RIL का Q4 में 9.8 फीसदी बढ़ा था मुनाफा

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) का मुनाफा 9.8 फीसदी बढ़ कर 10362 करोड़ रुपये हो गया. RIL लगातार दूसरी बार 10000 करोड़ रुपये से ज्यादा का तिमाही मुनाफा कमाने वाली भारत की पहली प्राइवेट सेक्टर कंपनी बनी.

Q4 में पेट्रोकेमिकल रेवेन्यू 11.3 फीसदी बढ़कर 42,414 करोड़ रहा. इस सेग्मेंट से EBIT सालाना आधार पर 23.9 फीसदी बढ़कर 7,975 करोड़ रहा. पेट्रोकेमिकल सेग्मेंट से EBIT मार्जिन 18.8 फीसदी रहा. वहीं, Q4 में रिलायंस इंडस्ट्रीज का रिटेल बिजनेस से आने वाला रेवेन्यू सालाना आधार पर 51.6 फीसदी बढ़कर 36663 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की समान तिमाही में 24183 करोड़ रुपये था. इस दौरान रिटेल बिजनेस PBDIT 77.1 फीसदी बढ़कर 1923 करोड़ रहा. यह एक साल पहले की समान तिमाही में 1086 करोड़ रुपये था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. RIL ने अमेरिका में फिर शुरू की लॉबिंग, पेट्रोलियम से लेकर रिटेल बिजनेस तक में सक्रिय है ग्रुप

Go to Top