सर्वाधिक पढ़ी गईं

नासा ने पहली बार किसी दूसरे ग्रह पर उड़ाया हेलीकॉप्टर, मंगल ग्रह पर किया ये कारनामा

जिस तरह से राइट बंधुओं ने पहली बार 1903 में सफल हवाई मानवीय उड़ान भरी थी, उसी प्रकार नासा ने सोमवार 19 अप्रैल को पहली बार किसी अन्य ग्रह पर छोटे आकार का रोबोट हेलीकॉप्टर इनजेन्यूटी को उड़ाने में सफलता हासिल की है.

Updated: Apr 20, 2021 12:25 PM
NASA scores Wright Brothers moment with first helicopter flight on Mars know here in detailsहेलीकॉप्टर ने मंगल ग्रह की सतह पर महज 39 सेकंड तक हवा में उड़ान भरी.

स्पेस एजेंसी NASA ने 19 अप्रैल को एक बड़ी उपलब्धि हासिल की जो पिछली सदी में राइट बंधुओं ने हासिल की थी. जिस तरह से राइट बंधुओं ने पहली बार 1903 में सफल हवाई मानवीय उड़ान भरी थी, उसी प्रकार नासा ने सोमवार 19 अप्रैल को पहली बार किसी अन्य ग्रह पर छोटे आकार का रोबोट हेलीकॉप्टर इनजेन्यूटी को उड़ाने में सफलता हासिल की है. हालांकि इस हेलीकॉप्टर ने मंगल ग्रह की सतह पर महज 39 सेकंड तक ही हवा में उड़ान भरी लेकिन यह नासा के लिए किसी अन्य ग्रह पर पहली बार नियंत्रित उड़ान रही. अमेरिकी स्पेस एजेंसी के अधिकारियों के मुताबिक 1.8 किग्रा (4 पाउंड) वजनी इस रोटोरक्राफ्ट की सफलता से भविष्य में मंगल व सोलर सिस्टम के अन्य ग्रहों व उपग्रहों जैसे वीनस व शनि के चंद्रमा टाइटन इत्यादि के एरियल एक्सप्लोरेशन में मदद मिलेगी. नासा की लॉस एंजेलेस के समीप स्थित जेट प्रपल्शन लैब ((JPL) ने इस सफलता की जानकारी दी. इनजेन्यूटी की पहली उड़ान में एक बड़े आकार का मेटलिक टिशू बॉक्स था जिसके चार पैर और एक ट्विन रोटॉर पैरासोल था.

Covid-19 Vaccination: अब 18+ वालों का भी वैक्सीनेशन; कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन? जानें पूरी प्रक्रिया

10 फीट की ऊंचाई तक भरी उड़ान

इस रिकॉर्ड उपलब्धि की जानकारी देते हुए नासा ने जानकारी दी कि इनजेन्यूटी ने मंगल ग्रह की सतह पर इसने 19 अप्रैल भारतीय समयानुसार दोपहर 01:04 बजे उड़ान भरी. इस दौरान जिस तरह इसकी प्रोग्रामिंग की गई थी, उसके मुताबिक यह हवा में 10 फीट (3 मीटर) तक की ऊंचाई तक पहुंचा और फिर उसके बाद निर्धारित स्थान पर इसने लैंड किया. जेपीएल पर इनजेन्यूटी के चीफ पायलट हार्वर्ड ग्रिप का कहना है कि जिस तरह से प्रोग्रामिंग की गई थी, बिल्कुल ठीक वैसे ही हुआ. ग्रिप के मुताबिक यह उड़ान बिना किसी कमी के पूरी हुई.

राइट बंधुओं से जोड़ा नासा ने अपनी उपलब्धि को

नासा ने अपनी इस उपलब्ध को राइट बंधुओं की सफलता से जोड़ा. राइट बंधुओं ने दुनिया में पहली बार दिसंबर 1903 में नॉर्थ कैरोलिना के किटी हॉक में मोटर से संचालित एयरप्लेन उड़ाया था और इसे 12 सेकंड्स में 120 फीट (37 मीटर्स) की ऊंचाई तक सफलतापूर्वक ले जाकर धरती पर उतारा था. इनजेन्यूटी के लिए मंगल पर जो वायुपट्टी बनाई गई है, उसे नासा ने राइट बंधुओं के नाम पर राइट ब्रदर्स फील्ड नाम दिया गया है. नासा प्रमुख स्टीक जुर्सिक ने मंगल ग्रह पर इनजेन्यूटी के उड़ान को राइट ब्रदर्स मूमेंट बताया. इसकी सफलता से नासा के सामने मंगल ग्रह के अलावा सोलर सिस्टम के अन्य ग्रहों व उपग्रहों के अध्ययन के दरवाजे खुलेंगे और उन स्थानों पर भी हेलीकॉप्टर भेजकर अध्ययन किया जा सकेगा, जहां अंतरिक्ष यान या रोवर नहीं जा सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. नासा ने पहली बार किसी दूसरे ग्रह पर उड़ाया हेलीकॉप्टर, मंगल ग्रह पर किया ये कारनामा

Go to Top