मुख्य समाचार:
  1. 26/11 Mumbai Attacks 10th Anniversary: अमेरिका ने रखा 35 करोड़ रुपये का इनाम

26/11 Mumbai Attacks 10th Anniversary: अमेरिका ने रखा 35 करोड़ रुपये का इनाम

26/11 Mumbai Attacks Anniversary 2018: अमेरिका ने 26/11 मुंबई हमले में शामिल किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी या उसके बारे में सूचना देने वालों को 35 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

November 26, 2018 12:58 PM
26/11 Attacks Anniversary, 26/11 Attacks, 26/11 Attacks Image, 26/11 Attacks Photos, 26/11 Attacks Videos, 26/11 Mumbai Attacks, 26/11 Mumbai Attacks Anniversary, 26/11 Mumbai Attacks 10th Anniversary, 26/11 Attacks 10th Anniversary, 26/11 News, Latest News, India News, 26/11 Mumbai Attacks News26/11 Mumbai Attacks Anniversary 2018: अमेरिका ने 26/11 मुंबई हमले में शामिल किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी या उसके बारे में सूचना देने वालों को 35 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

26/11 Mumbai Attacks 10th Anniversary: अमेरिका ने 26 नवंबर 2008 के मुंबई हमले में शामिल किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी या उसके बारे में सूचना देने वालों को 50 लाख डॉलर यानी करीब 35 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है. ट्रंप प्रशासन ने मुंबई हमले की 10वीं बरसी पर इस बड़े पुरस्कार की घोषणा की. ट्रंप प्रशासन के अनुसार हमले में शामिल या हमले की साजिश में साथ देने वाले किसी भी अपराधी के बारे में सूचना देने वालों को इनाम दिया जाएगा.

पीएम मोदी: सही मौके की तलाश में

मुंबई हमले के 10 साल पूरे होने पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हिंदुस्तान कभी भी 26/11 मुंबई हमले को भूलेगा नहीं और इसमें शामिल गुनहगारों को भी. हम मौके की तलाश में हैं, कानून अपना काम करेगा.

166 लोगों की हुई थी डेथ

बता दें कि इस हमले में लश्कर-ए-तैयबा के 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों ने भारत की फाइनेंशियल कैपिटल मुंबई पर हमला किया था. हमले में 6 अमेरिकी नागरिकों के समेत कुल 166 लोग मारे गए थे.

ट्रम्प प्रशासन द्वारा यह कदम यूएस के उपराष्ट्रपति माइक पेंस के सिंगापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक करने के 15 से भी कम दिनों बाद उठाया गया है. माना जा रहा है कि बैठक के दौरान यह मामला उठाया गया था कि मुंबई हमले के 10 साल बाद भी हमले में शामिल अपराधियों को सजा नहीं मिल पाई है.

यूएस की ओर से क्या कहा गया

यूएस विदेश मंत्रालय के रिवार्ड्स फॉर जस्टिस प्रोग्राम ने कहा कि वह मुंबई हमले को जिसने भी अंजाम दिया, उसकी साजिश रची, उसे अंजाम देने में सहायता की या उसे उकसाया उसकी गिरफ्तारी या किसी देश में दोषसिद्धि के लिए सूचना देने वालों को 50 लाख डॉलर तक का इनाम दिया जाएगा. यह भी कहा गया कि अमेरिका 2008 के मुंबई हमले के लिए जो भी जिम्मेदार है उसकी पहचान करने और उसे न्याय के दायरे में लाने के लिये अपने अंतरराष्ट्रीय सहयोगियों के साथ मिलकर काम करने के लिये प्रतिबद्ध है.

पहले भी इनाम की घोषणा की गई

इसके पहले अप्रैल 2012 में यूएस के विदेश मंत्रालय ने लश्कर-ए-तयैबा के संस्थापक हाफिज सईद और लश्कर के एक अन्य वरिष्ठ नेता हाफिज अब्दुल रहमान मक्की को न्याय के दायरे में लाने के लिए सूचना देने वालों को इनाम देने की घोषणा की थी. विदेश मंत्रालय ने कहा कि दिसंबर 2001 में विदेश मंत्रालय ने लश्कर-ए-तयैबा को विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित किया था. यह घोषणा आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और आतंकवादी गतिविधियों के लिये समर्थन में कमी लाने और समूहों पर आतंकवाद के कारोबार से अलग होने के लिये दबाव डालने का कारगर साधन है.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop