सर्वाधिक पढ़ी गईं

Joe Biden की कैबिनेट में भारतीय मूल के 20 लोगों को मिली अहम जिम्मेदारी, लिस्ट में कमला हैरिस समेत 13 महिलाएं

Indo-Americans in Biden's Cabinet:  जो बाइडेन ने 20 भारतीय-अमेरिकियों का चयन किया है जिसमें से 13 महिलाएं हैं.

Updated: Jan 20, 2021 6:12 PM
know here about indo Americans in joe biden cabinet and kamala harriesजो बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति हैं.

Indo-Americans in Biden’s Cabinet: अमेरिकी के 46वें राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने कैबिनेट में भारतीय मूल के 20 अमेरिकियों को जगह दी है. इनमें से 13 महिलाएं हैं. जो बाइडेन के कैबिनेट में टॉप पोजिशन की बात करें तो कमला हैरिस को वाइस प्रेसिडेंट के लिए चुना गया है. कमला हैरिस अमेरिकी इतिहास की पहली महिला उपराष्ट्रपति बनेंगी. बाइडेन की कैबिनेट में शामिल इंडो अमेरिकन लोगों में दो भारतीय कश्मीरी मूल की महिलाएं शामिल हैं. अमेरिकी इतिहास में यह पहली बार यह हुआ है. .

इन भारतीय-अमेरिकियों को बाइडेन कैबिनेट में मिली जगह

  • कमला हैरिस- कमला हैरिस बाडडेन सरकार में उपराष्ट्रपति की भूमिका में हैं. उनकी मां श्यामला गोपाल तमिलनाडु से हैं और उनके पिता जमैका मूल के हैं. कमला की मां बर्कले यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के लिए गई थी.
  • नीरा टंडन- नीरा टंडन डेमोक्रेट झुकाव वाले थिंकटैंक सेंटर फॉर अमेरिकन कांग्रेस की प्रमुख हैं. उन्हें व्हाइट हाउस में ऑफिस ऑफ मैनेजमेंट एंड बजट (ओएमबी) के डायरेक्टर के लिए नॉमिनेटेड किया गया है.
  • विवेक मूर्ती- डॉ मूर्ती को यूएस सर्जन जनरल के लिए नॉमिनेट किया गया है. वह ओबामा के राष्ट्रपति काल में भी पद पर कार्यरत थे. बाइडेन की कोविड-19 एडवायजरी बोर्ड में मूर्ती उपप्रमुख हैं. उम्मीद लगाई जा रही है कि वह महामारी से निपटने में शीर्ष स्वास्थ्य विशेषज्ञ के रूप में बड़ी भूमिका निभाएंगे.
  • आयशा शाह- पहली बार अमेरिकी कैबिनेट में कश्मीर मूल के दो लोगों को शामिल किया गया है- आयशा शाह और समीरा फजीली. शाह को व्हाइट हाउस ऑफिस ऑफ डिजिटल स्ट्रेटजी में पार्टनरशिप मैनेजर के तौर पर नॉमिनेटेड किया गया है.
  • समीरा फजीली- आयशा शाह के अलावा एक और कश्मीर मूल की महिला, समीर फजीली को अमेरिकी कैबिनेट में जगह मिली है. कम्यूनिटी और डेवलपमेंट एक्सपर्ट फजीली को यूएस नेशनल इकोनॉमिक काउंसिल (एनईसी) में डिप्टी डायरेक्टर पद के लिए नॉमिनेट किया गया है. फजीली ने इससे पहले अमेरिकी ट्रेजरी डिपार्टमेंट में वरिष्ठ सलाहकार और व्हाइट हाउस के एनईसी में वरिष्ठ नीति सलाहकार के तौर पर काम किया है.
  • भारत रामामूर्ति- एनईसी में भारतीय मूल के एक शख्स को जगह मिली है. 2020 राष्ट्रपति चुनाव कैंपेन के दौरान एलिजाबेथ वारेन के इकोनॉमिक एडवाइजर के तौर पर काम कर चुके रामामूर्ति को एनईसी फॉर फाइनेंसियल रिफॉर्म एंड कंज्यूमर प्रोटेक्शन के डिप्टी डायरेक्टर के तौर पर नॉमिनेट किया गया है.
  • उज्रा जेया- ट्रंप की नीतियों के खिलाफ 2018 में फॉरेन सर्विस से इस्तीफा देने वाली इंडियन-अमेरिकन डिप्लोमेट उज्रा जेया को बाइडेन कैबिनेट में जगह मिली है. उन्हें डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट के सिविलयन सिक्योरिटी, डेमोक्रेसी एंड ह्यूमन राइट्स के लिए अंडर सेक्रेटरी के तौर पर नॉमिनेट किया गया है.
  • वनीता गुप्ता- अमेरिका के एसोसिएट अटॉर्नी जनरल के लिए वनीता गुप्ता को नॉमिनेट किया गया. सीनेट से मंजूरी मिलने के बाद वह इस पद को संभालने वाली पहली अश्वेत महिला होंगी. बाइडेन ने उनके नाम की घोषणा करते हुए कहा था कि वनीता गुप्ता अमेरिका की सबसे सम्माननीय सिविल राइट्स लायर्स में एक हैं. इससे पहले ओबामा के राष्ट्रपति काल में वह सिविल राइट्स डिवीजन की प्रमुख रह चुकी हैं.

जो बाइडेन का शपथ ग्रहण लाइव अपडेट्स

  • सुमोना गुहा- नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल के दक्षिण एशियाई सीनियर डायरेक्टर पद के लिए सुमोना गुहा को नॉमिनेट किया गया है. गुहा यूएस इंडिया बिजनस काउंसिल में काम कर चुकी हैं और उसके पहले दक्षिण एशिया के लिए स्टेट्स पॉलिसी प्लानिंग स्टॉफ के सेक्रेटरी का पद संभाल चुकी हैं.
  • तरुन छाबड़ा- नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल में टेक्नोलॉजी एंड नेशनल सिक्योरिटी के सीनियर डायरेक्टर पद के लिए तरुन छाबड़ा को नॉमिनेट किया गया है. वह जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी में सेंटर फॉर सिक्योरिटी एंड इंमर्जिंग टेक्नोलॉजी में सीनियर फेलो हैं. ओबामा के राष्ट्रपति काल में छाबड़ा नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल में स्ट्रेटजिक प्लानिंग के डायरेक्टर के तौर पर काम कर चुके हैं.
  • शांति कलाथिल- नेशनल इंडोमेंट फॉर डेमोक्रेसी के इंटरनेशनल फोरम फॉर डेमोक्रेटिक स्टडीज में सीनियर डायरेक्टर शांति कलाथिल को नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल में डेमोक्रेसी एंड ह्यूमन राइट्स के को-ऑर्डिनेटर के तौर पर नॉमिनेट किया गया है.
  • गौतम राघवन- अमेरिकी जन प्रतिनिधि प्रमीला जयपाल के चीफ ऑफ स्टॉफ के तौर पर काम कर चुके राघवन को ऑफिस ऑफ प्रेसिडेंट पर्सनल में डिप्टी डायरेक्टर के तौर पर नॉमिनेट किया गया है. वह बिडेन फाउंडेशन के सलाहकार के तौर पर काम कर चुके हैं और एलजीबीटीक्यू इक्वलिटी के ल्ए सबसे पुराने व सबसे बड़े निजी फाउंडेशन में शुमार गिल फाउंडेशन के पॉलिसी वाइस प्रेसिडेंट रह चुके हैं.
  • माला अडिगा- फर्स्ट लेडी डॉ जिल बाइडेन की नीति निदेशक के तौर पर माला अडिगा को नियुक्त किया गया है. वह 2008 में मैन बुकर पुरस्कार जीतने वाले अरविंद अडिगा के परिवार से संबंधित हैं.
  • विनय रेड्डी- व्हाइट हाउस में स्पीचराइटिंग के डायरेक्टर के तौर पर विनय रेड्डी को नॉमिनेट किया गया है. रेड्डी बाइडेन-हैरिस चुनाव प्रचार के वरिष्ठ सलाहकार और भाषण लेखक के तौर पर जिम्मेदारी संभाल चुके हैं. रेड्डी लंबे समय से बाइडेन के सहयोगी रह चुके हैं.
  • वेदांत पटेल- व्हाइट हाउस कम्यूनिकेशंस एंड प्रेस ऑफिस के एसिस्टेंट प्रेस सेक्रेटरी के तौर पर वेदांत पटेल को चुना गया है. अभी वह बाइडेन के इनऑगरल कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता हैं. पटेल इंडियन-अमेरिकन कांग्रेसवूमन प्रमीला जयपाल के लिए कम्यूनिकेशंस डायरेक्टर के तौर पर काम कर चुके हैं.
  • सबरीना सिंह- वाइस प्रेसिडेंट ऑफिस के प्रेस सेक्रेटरी के तौर पर सबरीना सिंह को नियुक्त किया गया है. इस पद पर पहुंचने वाली भारतीय मूल की पहली शख्सियत हैं. 32 वर्षीय सबरीना 2016 में हिलेरी क्लिंटन के प्रेसिडेंशियल कैंपेन की रीजनल कम्युनिकेशंस डायरेक्टर के तौर पर काम कर चुकी हैं. इसके अलावा वह डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी की प्रवक्ता भी रह चुकी हैं. उनके दादा जेजे सिंह भारतीय स्वतंत्रता के लिए लड़े थे. वे 1946 में अमेरिका चले गए थे और वहां उन्होंने भारतीयों की नागरिकता हासिल करने के लिए संघर्ष किया.

Joe Biden: सबसे युवा सीनेटर से सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति तक, तीसरी बार चुनाव में मिला सर्वोच्च पद

  • गरिमा वर्मा- फर्स्ट लेडी के कार्यालय में डिजिटल निदेशक के तौर पर गरिमा वर्मा को नॉमिनेट किया गया है. वह पैरामाउंट पिक्चर्स में मार्केटिंग फिल्म्स और वाल्ट डिज्नी कंपनी के एबीसी नेटवर्क में टीवी कार्यक्रमों के लिए काम कर चुकी हैं. गरिमा वर्मा छोटे कारोबारियों और एनजीओ के लिए मार्केटिंग, डिजाइन व डिजिटल में फ्रीलांसर के तौर पर काम कर चुकी हैं.
  • सोनिया अग्रवाल- ऊर्जा और जलवायु विशेषज्ञ सोनिया अग्रवाल को ऑफिस ऑफ डोमेस्टिक क्लाइमेट पॉलिसी में क्लाइमेंट पॉलिसी और इनोवेशन के लिए सीनियर एडवाइजर के तौर पर नॉमिनेट किया गया है. ओबामा प्रशासन में सोनिया अग्रवाल ने एनर्जी इनोवेशन के लिए 200 बिजली नीति विशेषज्ञों को एकजुट किया था और अमेरिका की बिजली योजना का नेतृत्व किया था.
  • नेहा गुप्ता- सैन फ्रांसिस्को के सिटी अटार्नी ऑफिस में डिप्टी सिटी अटार्नी के तौर पर काम कर चुकी नेहा गुप्ता को व्हाइट हाउस काउंसिल के ऑफिस में एसोसिएट काउंसिल के तौर पर नॉमिनेट किया गया है. नेहा गुप्ता हार्वर्ड कॉलेज और स्टैनफोर्ड लॉ स्कूल से पढ़ी हैं.
  • रीमा शाह- व्हाइट हाउस काउंसिल के ऑफिस में डिप्टी एसोसिएट काउंसिल के तौर पर रीमा शाह को नॉमिनेट किया गया है. शाह चुनाव प्रचार के दौरान बिडेन के लिए डिबेट की तैयारी करने वाली टीम में शामिल रह चुकी हैं. शाह लाथम एंड वाटकिंस में एसोसिएट रह चुकी हैं और डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस के सॉलिसिटर जनरल के ऑफिस में ब्रिस्टो फेलो के तौर पर काम कर चुकी हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Joe Biden की कैबिनेट में भारतीय मूल के 20 लोगों को मिली अहम जिम्मेदारी, लिस्ट में कमला हैरिस समेत 13 महिलाएं

Go to Top