सर्वाधिक पढ़ी गईं

Joe Biden: सबसे युवा सीनेटर से सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति तक, तीसरी बार चुनाव में मिला सर्वोच्च पद

सबसे युवा सीनेटर से सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति बनने तक के सफर में बाइडेन छह बार सीनेटर रहे हैं.

Updated: Jan 20, 2021 6:16 PM
JOE BIDEN YOUNGEST SEANETER TO OLDEST US PRESIDENT KNOW HERE ABOUT NEWLY ELECT US PRESIENT DEFEATING DONALD TRUMPजीत के बाद बाइडेन ने अपने भाषण में कहा कि वे रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक राज्यों के बीच कोई फर्क नहीं करेंगे और देश को एकजुट करने का प्रयास करेंगे. (Image- Reuters)

Joe Biden inauguration 2021: अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव पर दुनिया भर की निगाहें टिकी रहती हैं. इस बार का चुनाव कई मायनों में खास रहा और चाहे Donald Trump जीतते या Joe Biden, वह सबसे उम्रदराज शख्स के तौर पर अमेरिकी राष्ट्रपति बनते. इस चुनाव में बाइडेन की जीत हुई और अब वह अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन चुके हैं. 78 वर्षीय बाइडेन अमेरिका के सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति हैं और खास बात यह है कि वह 29 साल की उम्र में सीनेटर बने थे जो आज तक सबसे कम उम्र में सीनेटर बनने का रिकॉर्ड है. इस प्रकार सबसे युवा सीनेटर से सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति बनने तक के सफर में बाइडेन छह बार सीनेटर रहे हैं.

सबसे कम उम्र में राष्ट्रपति बनने का रिकॉर्ड जॉन एफ कैनेडी के नाम पर है. कैनेडी 43 वर्ष की उम्र में 1961 में अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे. कैनेडी के बाद सबसे कम उम्र में बिल क्लिंटन, 46 वर्ष की उम्र में अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे. जो बाइडेन इससे पहले दो बार और अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए मैदान में उतर चुके थे.

तीसरी बार राष्ट्रपति चुनाव में मिली सफलता

वर्ष 2020 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइ़डेन को जीत हासिल हुई लेकिन यह पहली बार नहीं था जब उन्होंने सर्वोच्च पद के लिए अपनी दावेदारी पेश किया. इससे पहले जो बाइडेन 1988 और 2008 में राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल हुए थे. 1998 में रिपब्लिकन पार्टी के जॉर्ज डब्ल्यूएच बुश को और 2008 में डेमोक्रेटिक पार्टी के बराक ओबामा को जीत हासिल हुई थी.

यह भी पढ़ें- जो बाइडेन शपथ ग्रहण समारोह: कैसे और कहां देख सकते हैं लाइव

ओबामा काल में उपराष्ट्रपति बने बाइडेन

2008 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बराक ओबामा की जीत हुई और वह राष्ट्रपति बने थे. ओबामा लगातार दो बार 2008 और 2012 में अमेरिका के राष्ट्रपति बने और जो बाइडेन उनके कार्यकाल में लगातार दो बार अमेरिका के उपराष्ट्रपति बने. 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बाइडेन के पक्ष में लोगों से वोट मांगे थे.

भारत के साथ संबंधों को पॉलिसी पेपर में किया था शामिल

राष्ट्रपति चुनाव प्रचार के दौरान जो बाइडेन की तरफ से जारी पॉलिसी पेपर में भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थाई सदस्य बनवाने में मदद करने, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सहयोग जारी रखने और दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने को उच्च प्राथमिकता देने की बात शामिल किया गया था. राष्ट्रपति चुनाव की ऑफिशियल डीबेट के दौरान जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर ट्रंप ने भारत को गंदा बताया था जिस पर बाइडेन ने ट्रंप की आलोचना की थी. बाइडेन ने ट्वीट कर कहा कि दोस्तों के बारे में ऐसा नहीं बोल सकते हैं.

जीतने के बाद अमेरिका को एकजुट करने का लिया संकल्प

राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद उन्होंने अपने भाषण में अमेरिका को एकजुट करने का संकल्प लिया. उन्होंने कहा कि वे ऐसा राष्ट्रपति बनने का संकल्प लेते हैं जो डेमोक्रेटिक राज्यों और रिपब्लिकन राज्यों में फर्क नहीं करेगा, बल्कि पूरे अमेरिका को एक नजर से देखेगा. बिडेन ने कहा कि वह मिडिल क्लास को मजबूत करने, अमेरिका का सम्मान बढ़ाने और देश के भीतर एकजुटता के लिए काम करेंगे.

राष्ट्रपति बनते ही 15 फैसले लेंगे Joe Biden, ट्रंप के कुछ बड़े फैसले हो जाएंगे रद्द

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Joe Biden: सबसे युवा सीनेटर से सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति तक, तीसरी बार चुनाव में मिला सर्वोच्च पद

Go to Top