सर्वाधिक पढ़ी गईं

भारत से अमेरिका जाने वालों पर नई पाबंदियां; लेकिन छात्रों, पत्रकारों को मिलेगी छूट

भारत में बढ़ते कोरोना केसेज और वायरस के कई वैरिएंट्स की मौजूदगी के चलते अमेरिका ने भारत से आने वाले लोगों पर अनिश्चितकाल तक के लिए रोक लगा दिया है. हालांकि कुछ लोगों को इसमें छूट भी दी गई है.

Updated: May 01, 2021 12:14 PM
joe biden administration restricts travel to us from india and but exempted students academics journalists from indiaभारत से अमेरिका जाने के लिए अब लोगों को अमेरिकी राष्ट्रपति के अगले आदेश का इंतजार करना होगा.

भारत में कोरोना की दूसरी लहर अधिक खतरनाक साबित हो रही है और एक दिन में रिकॉर्ड कोरोना केसेज सामने आ रहे हैं. इसके चलते कुछ देशों ने भारत से अपने यहां की हवाई उड़ानों पर रोक लगा दिया है. इसी कड़ी में Joe Biden ने ऐसे सभी गैर-अमेरिकियों के अपने देश में प्रवेश पर रोक लगा दिया जो पिछले 14 दिनों के भीतर भारत में रहे हों. यह आदेश 4 मई से प्रभावी हो गया है. बाइडेन प्रशासन ने यह फैसला भारत में बढ़ते कोरोना वायरस और कई वैरिएंट्स की भारत में मौजूदगी के चलते लिया है. हालांकि इस आदेश से अमेरिकी नागरिकों, ग्रीन कार्ड धारकों और उनके गैर-अमेरिकी जीवनसाथी और बच्चों को छूट रहेगी. इसके अलावा कुछ श्रेणियों के स्टूडेंट्स, एकेडमिक्स, पत्रकारों और इंडिविजुअल्स को भी छूट रहेगी. यह प्रतिबंध अमेरिकी राष्ट्रपति के अगले आदेश तक तक जारी रहेगा.

देश में कोरोना का बेलगाम विस्फोट जारी, 4 लाख के पार हुई नए मरीजों की तादाद, 3500 से ज्यादा की मौत

सीडीसी के रिकमंडेशन पर लिया फैसला

अमेरिकी सरकार ने यह फैसला सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के रिकमंडेशन पर लिया है. यह अमेरिका के डिपार्टमेंट ऑफ हेल्खथ एंड ह्यूमन सर्विसेज का एक हिस्सा है. बाइडेन ने अपने आदेश में कहा है कि अमेरिका में प्रवेश करने वाले सभी गैर-अमेरिकियों को जो पिछले 14 दिनों से भारत में रहे हों, उन्हें प्रवेश से रोकना ही अमेरिका के हित में है. बाइडेन ने अपने आदेश में दुनिया भर में कोरोना संक्रमण के एक तिहाई केसेज भारत में मिलने का हवाला दिया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक भारत में 1,18,75,000 केसेज सामने आए हैं.
सीडीसी के मुताबिक वायरस के बी.1.617 वैरिएंट जिसका सबसे पहले यूनाइटेड किंगडम में पता चला और बी.1.1.7 जिसका सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में पता चला, ये दोनों वैरिएंट्स भारत में भी हैं. सीडीसी के मुताबिक ये वैरिएंट्स ही चिंता का विषय हैं क्योंकि ये ज्यादा तेजी से फैल रहे हैं और कुछ वैक्सीन की क्षमता को कम कर सकते हैं.

अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल उड़ानों पर रोक बढ़ी, 31 मई तक जारी रहेगी पैसेंजर फ्लाइट्स पर पाबंदी

इन सभी पर नहीं लागू होगा रिस्ट्रिक्शंस

अमेरिकी सरकार ने यात्रा को लेकर जो प्रतिबंध लगाया है, उससे कुछ श्रेणियों के स्टूडेंट्स, एकेडमिक्स, पत्रकारों और इंडिविजुअल्स को छूट रहेगी. बाइडेन सरकार द्वारा प्रतिबंध को लेकर आदेश जारी किए जाने के कुछ घंटे के बाद स्टेट सेक्रेटरी टोनी ब्लिंकेन ने एग्जेंप्शंस को लेकर आदेश जारी किया. स्टेट डिपार्टमेंट जारी आदेश के मुताबिक यह ट्रैवल बैन एग्जेंप्शन ब्राजील, चीन, ईरान और दक्षिण अफ्रीका से आने वाले यात्रियों को लेकर दी गई छूट के समान ही है.
स्टेट डिपार्टमेंट ने 26 अप्रैल को एक आदेश जारी किया था जिसके मुताबिक जिन स्टूडेंट्स के पास वैध एफ-1 और एम-1 वीजा है लेकिन उनकी क्लासेज 1 अगस्त या उसके बाद शुरू होने वाली है, उन्हें यात्रा के लिए अभी छूट हासिल करने की जरूरत नहीं है. क्लासेज शुरू होने के पहले 30 दिनों के भीतर ही वे अमेरिका में प्रवेश कर सकते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. भारत से अमेरिका जाने वालों पर नई पाबंदियां; लेकिन छात्रों, पत्रकारों को मिलेगी छूट

Go to Top