मुख्य समाचार:
  1. 93 करोड़ डॉलर में अमेरिका से 6 अपाचे हेलीकॉप्टर खरीदेगा भारत

93 करोड़ डॉलर में अमेरिका से 6 अपाचे हेलीकॉप्टर खरीदेगा भारत

बोइंग और उसके भारतीय साझेदार टाटा ने भारत स्थित संयंत्र में अपाचे हेलीकॉप्टर का ढांचा बनाना शुरू कर दिया है. हालांकि , आज जिस सौदे को मंजूरी दी गई है , उसके तहत अमेरिकी कंपनी सीधे भारत को तैयार उत्पाद बेचेगी.

June 13, 2018 1:24 PM
बोइंग और उसके भारतीय साझेदार टाटा ने भारत स्थित संयंत्र में अपाचे हेलीकॉप्टर का ढांचा बनाना शुरू कर दिया है. हालांकि , आज जिस सौदे को मंजूरी दी गई है , उसके तहत अमेरिकी कंपनी सीधे भारत को तैयार उत्पाद बेचेगी. (REUTERS)

अमेरिकी सरकार ने भारत को छह एएच -64 ई अपाचे हेलीकॉप्टर बेचने के सौदे को मंजूरी दे दी है. यह सौदा 93 करोड़ डॉलर में हुआ है. अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने आज इसकी जानकारी दी. समझौते को मंजूरी के लिए अमेरिकी कांग्रेस के पास भेजा गया है , यदि कोई भी अमेरिकी सांसद अनुबंध पर आपत्ति नहीं जताता है तो सौदे को हरी झंडी मिल जाएगी.

बोइंग और उसके भारतीय साझेदार टाटा ने भारत स्थित संयंत्र में अपाचे हेलीकॉप्टर का ढांचा बनाना शुरू कर दिया है. हालांकि , आज जिस सौदे को मंजूरी दी गई है , उसके तहत अमेरिकी कंपनी सीधे भारत को तैयार उत्पाद बेचेगी. इस सौदे में हेलीकॉप्टर के अलावा नाइट विजन सेंसर , जीपीएस गाइडेंस (दिशानिर्देश) प्रणाली और हवा से जमीन में मार करने वाली हेलफायर मिसाइल तथा हवा से हवा में मार करने वाली सिटंगर मिसाइल शामिल है.

अमेरिका की डिफेंस सिक्योरिटी को आॅपरेशन एजेंसी ने बयान में कहा , ” एएच -64 ई के लिए यह सहयोग (उपकरण) भारत के सैन्य बलों को आधुनिक बनाएगा और जमीनी बख्तरबंद खतरों से निपटने में मदद करेगा. ” एजेंसी ने कहा कि भारत को अपने सैन्य बलों में हेलीकॉप्टर और उसके सहयोगी उपकरणों को समायोजित करने में कोई दिक्कत नहीं होगी. साथ ही उसने स्पष्ट किया कि इस प्रस्तावित बिक्री से क्षेत्र में सैन्य संतुलन पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

Go to Top