मुख्य समाचार:

भारत और चीन में चरम पर तनाव, LAC पर 45 साल बाद हुई गोली बारी: ग्लोबल टाइम्स का दावा

Firing at LAC: भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर तनाव अपने चरम पर पहुंच गया है. दोनों देशों की सेनाओं के बीच फिर झड़प की खबरें आ रही हैं.

September 8, 2020 9:11 AM
India-China Faceoff, Firing at LAC, PLA, global times, Pangong Tso, Rechin La near Rezang La, indian army, regional tensions between india and china, PLA Western Theatre Command, chinese army, Ministry of Defence,India-China Faceoff/Firing at LAC: भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर तनाव अपने चरम पर पहुंच गया है. दोनों देशों की सेनाओं के बीच फिर झड़प की खबरें आ रही हैं.

India-China Faceoff/Firing at LAC: भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर तनाव अपने चरम पर पहुंच गया है. दोनों देशों की सेनाओं के बीच फिर झड़प की खबरें आ रही हैं. चीन के सरकारी अखबार के अनुसार सोमवार देर रात पैंगॉन्ग त्सो झील पर वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास भारत और चीन के सैनिकों में गोलीबारी की घटना हुई है. ग्लोबल टाइम्स ने भारतीय सैनिकों पर पैंगॉन्ग त्सो के दक्षिणी किनारे पर फायरिंग करने का आरोप लगाया है. दावा किया जा रहा है कि ताजा झड़प लद्दाख के पैंगोग सो झील के दक्षिणी छोर पर स्थित एक पहाड़ी पर हुई है. बता दें कि अगर ऐसा हुआ है तो यह 1975 के बाद ऐसी पहली घटना है, जब भारत और चीन के सैनिकों के बीच फायरिंग हुई.

चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने चीनी सेना के वेस्टर्न थियेटर कमांड के प्रवक्ता के हवाले से पैंगोग सो के पास झड़प का दावा किया है. रिपोर्ट के अनुसार भारतीय सेना ने पैंगोंग सो झील के दक्षिणी छोर के पास शेनपाओ की पहाड़ी पर एलएसी को पार किया. अखबार के अनुसार भारतीय जवानों ने बातचीत की कोशिश कर रहे पीएलए के बॉर्डर पट्रोल से जुड़े सैनिकों पर वार्निंग शॉट फायर किए जिसके बाद चीनी सैनिकों को हालात काबू में करने के लिए कदम उठाने पड़े.

पहले भी 2 झड़प

पहली झड़प जून में हुई थी. जून में चीनी सैनिकों के साथ हुए संघर्ष में एक कमांडिंग ऑफिसर समेत 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे. हालांकि पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के कितने जवान इस झड़प में हताहत हुए थे, इसकी जानकारी चीन की ओर से नहीं दी गई थी.

दूसरी झड़प में पैंगोंग सो के पास रणनीतिक रूप से अहम चोटी पर भारतीय जवानों ने कब्जा
किया था और घुसपैठ की कोशिश कर रहे पीएलए के जवानों को पीछे हटने पर मजबूर कर दिया था.

क्या कहना है चीन का

चीनी रक्षा मंत्रालय, चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के वेस्टर्न थियेटर कमान के प्रवक्ता कर्नल झांग शुइली की ओर से एलएसी पर ताजा हालात को लेकर बयान जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि भारतीय सैनिकों की ओर से कथित ‘उकसावे’ की कार्रवाई की गई, जिससे चीनी सैनिकों की ओर से जवाबी कार्रवाई हुई. हालांकि अभी तक चीन के इस बयान पर भारत सरकार या भारतीय सेना की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है.

झांग शुई ने भारत पर आरोप लगााते हुए कहा कि भारतीय पक्ष ने द्विपक्षीय समझौतों का उल्लंघन किया है. इससे क्षेत्र में तनाव और गलतफहमी बढ़ेगी. यह एक गंभीर सैन्य उकसावा है. झांग ने कहा कि हम भारतीय पक्ष से मांग करते हैं कि खतरनाक कदमों को रोके और फायरिंग करने वाले शख्स को सजा दे. साथ ही भारत यह सुनिश्चित करे कि ऐसी घटनाएं दोबारा ना हों. पीएलए के वेस्टर्न कामांड के सैनिक अपने कर्तव्यों का पालन करेंगे और राष्ट्र की क्षेत्रीय संप्रभुता की रक्षा करेंगे.

भारत की ओर से झड़प की पुष्टि नहीं

भारत सरकार या सेना की तरफ से इस झड़प की खबरों को लेकर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. लेकिन न्यूज एजेंसी ने एएनआई ने भी सूत्रों के हवाले से ईस्चर्न लद्दाख सेक्टर में एलएसी के पास तनाव वाले इलाके में भारत-चीन के सैनिकों के बीच गोलीबारी का दावा किया है. बता दें कि इसके पहले भी 2 बार दोनों सेनाओं में झड़प की खबर आई थी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. भारत और चीन में चरम पर तनाव, LAC पर 45 साल बाद हुई गोली बारी: ग्लोबल टाइम्स का दावा

Go to Top