मुख्य समाचार:

मुनाफा घटा, होगी जबरदस्त छंटनी! HSBC से 35,000 लोगों की जाएगी नौकरी; बैंक ने कहा- ट्रेड वॉर से कोरोना तक कई चुनौतियां

HSBC का कहना है कि छंटनी की प्रमुख वजह कंपनी का लगातार तीन साल घटना मुनाफा है.

February 18, 2020 4:05 PM
HSBC announces about 35K job cuts and radical overhaul globally as profit slid by a third last yearHSBC का कहना है कि छंटनी की प्रमुख वजह कंपनी का लगातार तीन साल घटना मुनाफा है.

हांगकांग शंघाई बैंकिंग कॉरपोरेशन (HSBC) ने अपने कारोबार में बड़े पैमाने पर बदलाव करने की घोषणा की. इसके तहत बैंक की योजना 35,000 कर्मचारियों की छंटनी और अमेरिका व यूरोप में अपना बिजनेस का दायरा कम करने की है. बैंक का कहना है कि छंटनी की प्रमुख वजह कंपनी का लगातार तीन साल से घटता मुनाफा है. एशिया केंद्रित HSBC बैंक अमेरिका-चीन के बीच छिड़े ट्रेड वार, ब्रिटेन के यूरोपीय यूनियन से बाहर आने और चीन में कोरोना वायरस फैलने की समस्या को देखते हुए कई तरह की अनिश्चिताओं का सामना कर रहा है. ऐसे में वह अपनी ऑपरेशन कॉस्ट में कटौती पर ध्यान दे रहा है. हालांकि, चीन में बेहतर मौजूदगी के चलते बैंक का एशियाई कारोबार अच्छा चल रहा है. जबकि उसके अमेरिका और यूरोप के कारोबार का प्रदर्शन निराशाजनक है.

एशिया से HSBC को सबसे अधिक मुनाफा 

एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार,  बैंक के एक्टिंग सीईओ नोएल क्युइन के पास इंटरनेशनल बैंक के ट्रांसफॉर्मेशन की अहम जिम्मेदारी है. नोएल ने अगस्त में जॉन फ्लिंट के पद छोड़ने के बाद कार्यवाह सीईओ की जिम्मेदारी संभाली थी. एचएसबीसी का कारोबार करीब 50 देशों में फैला है लेकिन उसको सबसे अधिक मुनाफा एशिया से होता है. भारत दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था, ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ा: रिपोर्ट

क्युइन ने कहना है कि हमारे कुछ बिजनेस में उम्मीद से मुताबिक रिटर्न आया है. इसलिए हम अपने निवेशकों को अधिक रिटर्न देने के लिए नई योजना पर काम कर रहे हैं. क्युइन ने बाद में ब्लूमबर्ग न्यूज के साथ एक बातचीत में कहा कि अगले 3 साल में वह अपने कर्मचारियों की संख्या 2,35,000 से घटाकर 2,00,000 करेगा. हालांकि, उन्होंने इसकी जानकारी दी कि किस जोन से कितनी छंटनी की जाएगी. बता दें, 2012 में बैंक मैक्सिकन मनी लॉन्ड्रिंग स्कैंडल में फंसा था, उस वक्त से रिस्ट्रक्चरिंग प्लान उसकी महत्वाकांक्षी योजना है.

2022 तक 4.5 अरब डॉलर की कॉस्ट कटिंग

बैंक का कहना है कि उसका लक्ष्य 2022 तक 4.5 अरब डॉलर की लागत कम करना है. रिस्ट्रक्चरिंग कॉस्ट करीब 6 अरब डॉलर है. लागत में कटौती का अधिकांश हिस्सा यूरोपीय और अमेरिकी इन्वेस्टमेंट बैंकिंग सेक्टर में चला जाएगा. जबकि एशिया और मध्य एशिया जहां से बैंक को सबसे अधिक मुनाफा आता है, वहां कड़ी चुनौतियां झेलनी पड़ेंगी. पैरासिटामॉल सहित जरूरी दवाएं 40 से 70% तक महंगी, कोरोना वायरस से और बिगड़ सकती है स्थिति

बता दें, एचएसबीसी का टैक्स पूर्व मुनाफा 13.3 अरब डॉलर रहा, जो 2018 के मुकाबले 33 फीसदी कम है. 2019 की चौथी तिमाही में बैंक का टैक्स पूर्व नुकसान 3.9 अरब डॉलर रहा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. मुनाफा घटा, होगी जबरदस्त छंटनी! HSBC से 35,000 लोगों की जाएगी नौकरी; बैंक ने कहा- ट्रेड वॉर से कोरोना तक कई चुनौतियां

Go to Top