सर्वाधिक पढ़ी गईं

N95 मास्क को दोबारा इस्तेमाल के लिए कैसे करें संक्रमणमुक्त, शोधकर्ताओं ने ढूंढ निकाला तरीका

25 सितंबर को एसीएस नैनो पत्रिका में इस शोध के निष्कर्षों को प्रकाशित किया गया.

September 28, 2020 5:05 PM
how to disinfect N95 masks for reuseदुनियाभर में कोविड19 संक्रमण के मामले 3.3 करोड़ के पार चले गए हैं.

नोवल कोरोनावायरस कोविड19 (coronavirus covid-19) संक्रमण के खतरे के बावजूद N95 मास्क जैसे सुरक्षात्मक उपकरणों की कमी की वजह से इनका दोबारा इस्तेमाल करने को मजबूर स्वास्थ्य कर्मियों की इस समस्या का वैज्ञानिकों ने समाधान ढूंढ लिया है. शोधकर्ताओं ने N95 मास्क को दोबारा इस्तेमाल करने के लिए ऊष्मा और नमी (हीट एंड ह्यूमिडिटी) का संयोजन करके उसे संक्रमण-मुक्त यानी डिसइन्फेक्ट करने का एक नया तरीका खोजा है.

ऊर्जा विभाग के एसएलएसी नेशनल एक्सीलिरेटर लेबोरेटरी, स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास की चिकित्सकीय शाखा के शोधकर्ताओं ने पाया कि हाई रिलेटिव ह्यूमिडिटी में धीरे-धीरे एन95 मास्क को गर्म करने से उनकी गुणवत्ता में गिरावट के बिना मास्क के भीतर फंसे SARS-CoV-2 वायरस को निष्क्रिय किया जा सकता है.

इस रिसर्च पेपर के सीनियर राइटर स्टैनफोर्ड के भौतिक विज्ञानी स्टीवन चू ने कहा, ‘‘यह वास्तव में एक समस्या है, इसलिए यदि आप कुछ दर्जन बार मास्क को रीसाइकल करने का तरीका ढूंढ सकते हैं, तो यह समस्या दूर हो जाती है.’’ चू ने कहा, ‘‘आप प्रत्येक डॉक्टर या नर्स की कल्पना कर सकते हैं कि उनके पास एक दर्जन से अधिक मास्क का अपना निजी संग्रह होने जा रहा है. कॉफी ब्रेक के दौरान वे अपने मास्क को संक्रमण-मुक्त कर सकेंगे.’’

शोध के निष्कर्ष  प्रकाशित

नए अध्ययन में चू के साथ यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास की चिकित्सकीय शाखा के विषाणु विज्ञानी स्कॉट वीवर और स्टैनफोर्ड/एसएलएसी के प्रोफेसरों यी कुई और वाह चिउ ने मास्क को संक्रमण-मुक्त करने की कोशिश करने के लिए हीट एंड ह्यूमिडिटी के संयोजन पर अपना ध्यान केंद्रित किया. उन्होंने अपने नमूनों को 100 फीसदी तक की रिलेटिव ह्यूमिडिटी के साथ 25 से 95 डिग्री सेल्सियस तापमान में 30 मिनट तक गर्म किया. 25 सितंबर को एसीएस नैनो पत्रिका में इस शोध के निष्कर्षों को प्रकाशित किया गया.

हमें कब मिलेगी COVID19 की वैक्सीन, सरकार की इस वेबसाइट पर मिलेगी हर जानकारी

20 बार कर सकेंगे इस्तेमाल

अधिक ह्यूमिडिटी और गर्मी के चलते वायरस की तादाद कम हो गई, जो शोधकर्ताओं को मास्क पर मिली थी. हालांकि वे इस बात को लेकर सावधान थे कि गर्मी कहीं अधिक न हो जाए. क्योंकि इसका वायरस को फिल्टर करने के लिए मास्क के मैटीयिरल की क्षमता प्रभावित हो सकती थी.

बेहतर स्थिति 85 डिग्री सेल्सियस थी​, जिसमें रिलेटिव ह्यूमिडिटी 100 फीसदी थी. शोधकर्ताओं की टीम को इस स्थिति में मास्क को रखने पर SARS-CoV-2 वायरस नहीं मिले. इसके अलावा, नतीजे यह भी बताते हैं कि मास्क को 20 बार दोबारा इस्तेमाल करने लायक किया जा सकता है. इसके अलावा, मास्क को डिसइन्फेक्ट करने की इस प्रक्रिया से वह दो और वायरस मानव कोरोनावायरस, जो कॉमन कोल्ड के लिए जिम्मेदार है, और चिकनगुनिया वायरस से बचाव भी करता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. N95 मास्क को दोबारा इस्तेमाल के लिए कैसे करें संक्रमणमुक्त, शोधकर्ताओं ने ढूंढ निकाला तरीका

Go to Top