सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19 Vaccine: ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन सेफ और कारगर! फाइनल स्टेज के रिजल्ट में हुई पुष्टि

Oxford-AstraZeneca Vaccine: ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका पहली वैक्सीन निर्माता है, जिसने अंतिम चरण के क्लिनिकल ट्रायल के परिणाम प्रकाशित किए हैं.

December 9, 2020 10:10 AM
Oxford-AstraZeneca VaccineOxford-AstraZeneca Vaccine: ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका पहली वैक्सीन निर्माता है, जिसने अंतिम चरण के क्लिनिकल ट्रायल के परिणाम प्रकाशित किए हैं.

Oxford-AstraZeneca Vaccine: कोरोना संकट महामारी के इलाज के लिए दुनियाभर में कई कंपनियां कोविड 19 वैक्सीन बना रही हैं. इस बीच ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका पहली वैक्सीन निर्माता कंपनी बनी है, जिसने अंतिम चरण के क्लिनिकल ट्रायल के परिणाम प्रकाशित किए हैं. इसे कोरोना वायरस के इलाज के लिए सुरक्षित और प्रभावी दवाओं का उत्पादन करने के लिए ग्लोबल रेस में अहम बाधा को पार करने जैसा माना जा रहा है. स्वास्थ्य संबंधी मैंगजीन लैंसेट में प्रकाशित इस रिसर्च ने पुष्टि की है कि वैक्सीन औसतन 70 फीसदी मामलों में असरदारक है.

महामारी खत्म होने की बढ़ी उम्मीद

यह रिपोर्ट आने से अब उम्मीद बढ़ गई है कि जल्द वैक्सीन के जरिए कोरोना महामारी पर रोक लगाने में मदद मिलेगी. उम्मीद है कि इससे वैक्सीन के रोल-आउट से मदद मिल सकती है. बता दें कि कोरोना वायरस महामारी के चलते दुनियाभर में करीब 15 लाख लोगों की मौत हो चुकी है. सिर्फ भारत में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ के करीब पहुंच रहा है.

कोरोना वायरस के खिलाफ प्रतिस्पर्धा

ऑक्सफोर्ड वैक्सीन ग्रुप के निदेशक एंड्रयू पोलार्ड ने कहा कि लैंसेट में प्रकाशन से पता चला कि डेवलपर्स ट्रांसपैरेंट रूप से डाटा शेयर कर रहे थे. उन्होंने कहा कि महामारी को खत्म करने के लिए वैक्सीन के एक सीरीज की जरूरत होगी. ऐसा नहीं हुआ तो 6 महीने बाद भी हम इसी स्थिति में रहेंगे. उन्होंने कहा कि यह कोरोना वायरस के खिलाफ प्रतिस्पर्धा है, ना कि वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों के बीच.

अभी और रिसर्च की जरूरत

स्टडी से पता चलता है कि वैक्सीन की 2 डोज देने पर 62 फीसदी असर देखा गया. जबकि जिन्हें पहले आधी और फिर बाद में एक पूरी खुराक दी गई थी उसमें यह रेश्यो 90 फीसदी रहा. रिसर्च ने पुष्टि की है कि 1367 प्रतिभागियों के इस ग्रुप में 55 साल से अधिक आयु के लोग शामिल नहीं थे. हालांकि इसके राइटर्स ने कहा कि और अधिक रिसर्च की आवश्यकता है.

इस बीच ब्रिटेन मंगलवार को पश्चिमी देशों में वैक्सीनेशन शुरू करने वाला पहला देश बन गया, जिसने पिछले हफ्ते सामान्य उपयोग के लिए मंजूरी देने के बाद Pfizer-BioNTech द्वारा विकसित वैक्सीन का उपयोग किया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Covid-19 Vaccine: ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन सेफ और कारगर! फाइनल स्टेज के रिजल्ट में हुई पुष्टि

Go to Top