सर्वाधिक पढ़ी गईं

Facebook पर कोरोना वैक्सीन का नहीं कर सकेंगे गलत प्रचार, सरकारी नीतियों का विरोध करने की छूट

ऐसे सभी विज्ञापनों को प्रतिबंधित किया जाएगा जो टीकाकरण को निरुत्साहित करते हों. हालांकि टीकाकरण को लेकर सरकारी नीतियों के खिलाफ आवाज को नहीं प्रतिबंधित किया जाएगा.

October 14, 2020 10:00 AM
Facebook bans anti-vaccination ads but not antivax postsअब किसी भी वजह से अगर फेसबुक पर टीकाकरण के खिलाफ प्रचार होता है तो उस विज्ञापन को प्रतिबंधित किया जाएगा.

सोशल प्लेटफॉर्म Facebook ने कोरोना महामारी से लड़ाई के खिलाफ एक महत्त्वपूर्ण फैसला लिया है. फेसबुक ने आज यह निर्धारित किया है कि उसके सोशल प्लेटफॉर्म पर ऐसे सभी विज्ञापनों को प्रतिबंधित किया जाएगा जो टीकाकरण को निरुत्साहित करते हों. हालांकि टीकाकरण को लेकर सरकारी नीतियों के खिलाफ आवाज को नहीं प्रतिबंधित किया जाएगा. इसके पहले भी कंपनी ने टीके से जुड़ी झूठी खबरों को प्रतिबंधित किया है जैसे कि वैक्सीनेशन से ऑटिज्म (तंत्रिका तंत्र से जुड़ी एक बीमारी) हो सकती है, जबकि वास्तव में इस प्रकार के दावे में कोई सत्यता नहीं मिला है. फेसबुक की वर्तमान नीति के तहत अब किसी भी वजह से अगर टीकाकरण के खिलाफ प्रचार होता है तो उस विज्ञापन को प्रतिबंधित किया जाएगा.

सरकारी नीतियों के विरोध पर कोई प्रतिबंध नहीं

फेसबुक ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अब उसके सोशल प्लेटफॉर्म पर टीकाकरण को लेकर दुष्प्रचार नहीं चलेगा. हालांकिी उसने यह भी कहा है कि सरकारी नीतियों के विरोध को अनुमति रहेगी जैसे कि अनिवार्य टीकाकरण का विरोध. हालांकि इन सभी विज्ञापनों के लिए कंपनी से मंजूरी लेनी होगी और यह भी बताना होगा कि विज्ञापन के लिए फंडिंग कौन कर रहा है. फेसबुक का यह नियम सिर्फ ऐसे विज्ञापनों पर होगा जो पेड होंगे.

फेसबुक के इस कदम को एक प्रोफेसर ने बताया नाकाफी

जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड अप्लाइड साइंस के एसोसिएट प्रोफेसर डेविड ए ब्रोनिआटोवस्की के मुताबिक फेसबुक वर्ष 2014 और 2015 के टीकारोधी लोगों से निपट रहा है, वर्ष 2020 के टीकारोधी लोगों से नहीं. प्रोफेसर ने वैक्सीन पर गलत जानकारी को लेकर कई पेपर प्रकाशित किए हैं. उन्होंने 2019 में उन्होंने अपने एक पेपर में कहा है कि फेसबुक पर जितने भी विज्ञापन एंटी- वैक्सीन मिसइंफॉर्मेशन से जुड़ी हैं वे रॉबर्ट एफ कैनेडी और कैलिफोर्निया के एक संगठन स्टॉप मैंडेटरी वैक्सीनेशन द्वारा फैलाई जा रही हैं. प्रोफेसर का मानना है कि फेसबुक आधे से भी कम एंटी वैक्सीन एड प्रतिबंधित कर पाएगा. उन्होंने कहा कि अगर फेसबुक का वाकई टीकाकरण को लेकर गलत जानकारी को प्रतिबंधित करने का इरादा है तो अभी भी वह इसके सबसे बड़े स्रोत को निशाना नहीं बना रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. Facebook पर कोरोना वैक्सीन का नहीं कर सकेंगे गलत प्रचार, सरकारी नीतियों का विरोध करने की छूट

Go to Top